News Nation Logo
Banner

'ये कितनी गंदी बात है' जानिए झारखंड में बिहार के CM नीतीश ने ऐसा क्यों कहा

बिहार के सीएम और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने झारखंड में भी पूर्ण शराबबंदी लागू करने की बात दोहराई.

By : Yogendra Mishra | Updated on: 08 Sep 2019, 09:22:38 AM

रांची:

बिहार के सीएम और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने झारखंड में भी पूर्ण शराबबंदी लागू करने की बात दोहराई. शनिवार को यहां उन्होंने इस बात को लेकर नाराजगी भी जताई कि लोग शराब पीने के लिए झारखंड जाते हैं. उन्होंने कहा कि यह कितनी खराब बात है कि बिहार में जो लोग शराब पीना चाहते हैं वो शराब के लिए झारखंड में चले आते हैं. रांची में जनता दल यूनाइटेड के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि झारखंड में भी पूर्णरूप से शराबबंदी लागू होनी चाहिए. इससे समाज की अनेक कुरीतियां समाप्त हो जाती हैं. साथ ही शराब बंदी से सामाजिक ताना-बाना भी मजबूत होता है.

यह भी पढ़ें- ट्रेन की पटरियों पर आधे घंटे तक तड़पता रहा युवक, लोग केवल फोटो खींचते रहे

नीतीश कुमार ने झारखंड में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अपनी पार्टी की राज्य इकाई को उत्साहित करते हुए कहा कि जनता के बीच शारब बंदी के मुद्दे को जोर-शोर से ले जाना चाहिए. उन्होंने बिना मुख्यमंत्री का नाम लिए या बीजेपी पर निशाना साधे बिना कहा कि राज्य में पूर्ण शराब बंदी की आवश्यक्ता है. नहीं तो यह बेहद अशोभनीय है कि बिहार में शराब की लत वाले लोग शराब पीने के लिए झारखंड आते हैं.

यह भी पढ़ें- दरभंगा-अहमदाबाद एक्‍सप्रेस में लगी आग, धू-धू कर जल उठी बोगी

सीएम नीतीश कुमार ने झारखंड के विकास के लिए पांच मंत्र दिए. उन्होंने पहला मंत्र दिया कि सीएनटी व एसपीटी एक्ट में छेड़छाड़ न हो. दूसरा पूर्ण शराबबंदी हो, तीसरा क्षेत्रीय विकास की रणनीति बनाना, चौथा पिछड़ों एवं अति पिछड़ों को 27 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था और अल्पसंख्यकों के विकास पर तेजी से काम करना.

First Published : 08 Sep 2019, 09:14:26 AM

For all the Latest States News, jharkhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×