News Nation Logo

अस्पताल पहुंचाने के लिए समय पर न आई एंबुलेंस, 48 साल की महिला ने तोड़ा दम

बताया जा रहा है कि गुमला के सदर अस्पताल में दो एंबुलेंस और छह 108 सर्विस एंबुलेंस हैं. बावजूद इसके महिला के लिए समय पर एंबुलेंस नहीं पहुंची.

IANS | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 09 Feb 2020, 12:49:40 PM
समय पर न आई एंबुलेंस, 48 साल की महिला ने तोड़ा दम

समय पर न आई एंबुलेंस, 48 साल की महिला ने तोड़ा दम (Photo Credit: फाइल फोटो)

गुमला:  

देश में गिरती स्वास्थ्य सेवाओं का एक और उदाहरण इस बार झारखंड (Jharkhand) में उस वक्त देखने को मिला, जब राज्य के गुमला जिले में एक 48 वर्षीय महिला ने एंबुलेंस (Ambulance) के समय पर नहीं पहुंचने के चलते दम तोड़ दिया. पुलिस ने शनिवार को इस बात की जानकारी दी. बताया जा रहा है कि गुमला (Gumla) के सदर अस्पताल में दो एंबुलेंस और छह 108 सर्विस एंबुलेंस हैं. बावजूद इसके महिला के लिए समय पर एंबुलेंस नहीं पहुंची.

यह भी पढ़ेंः झारखंड: सरकारी स्कूलों के टैब से हटेगा रघुवर दास का वीडियो

पुलिस के अनुसार, 29 जनवरी को सदर अस्पताल में भर्ती हुई साधना देवी की अचानक तबियत बिगड़ी. इसके तुरंत बाद उपस्थित चिकित्सक ने उसे शुक्रवार दोपहर को इलाज के लिए रांची के राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (आरआईएमएस) के लिए रेफर कर दिया.

पीड़िता के परिजनों ने कहा कि राज्य की राजधानी ले जाने के लिए उन्होंने एंबुलेंस को बुलाया, लेकिन वह तीन घंटे के बाद आई, जिसके कारण इलाज में देरी हुई और साधना देवी की मौत हो गई.

यह भी पढ़ेंः झारखंड में 193 कुख्यात नक्सली अभी भी वांछित, सिर पर करोड़ों रुपये तक का इनाम

गुमला सदर अस्पताल के सिविल सर्जन विजय भेंगरा ने कहा, 'प्रथम दृष्ट्या ऐसा प्रतीत होता है कि परिजनों ने 108 एंबुलेंस सर्विस के चालक से बात की, लेकिन वह समय रहते नहीं पहुंचा और परिणामस्वरूप मरीज की मृत्यु हो गई. मामले की जांच के लिए एक समिति बनाई गई है.'

First Published : 09 Feb 2020, 12:49:40 PM

For all the Latest States News, Jharkhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.