News Nation Logo

सीजफायर के चलते जम्मू-कश्मीर के सीमावर्ती 8 गांवों से 298 परिवारों ने खाली किए घर

पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी के बाद नौशेरा सेक्टर के सीमा से जुड़े 8 गांवों से 1200 के करीब लोगों ने सुरक्षित स्थानों पर शरण ली है। जिला प्रशासन ने इसमें उन्हें मदद दी।

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Singh | Updated on: 15 May 2017, 12:16:52 AM
साभार: आईएस चौधरी के ट्विटर अकाउंट

नई दिल्ली:

जम्मू एवं कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा से सटे इलाकों में पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी के बाद नौशेरा सेक्टर के सीमा से जुड़े 8 गांवों से 1200 के करीब लोगों ने सुरक्षित स्थानों पर शरण ली है। जिला प्रशासन ने इसमें उन्हें मदद दी।

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में मुठभेड़ के दौरान दो आंतकी मरे

राजौरी के उपायुक्त शाहिद इकबाल चौधरी ने इस बारे में ट्वीट कर जानकारी दी। चौधरी ने ट्विटर पर लिखा,' गोलीबारी के चलते 8 गावों के 298 परिवारों को सूर्यास्त तक राहत कैंप में शिफ्ट कर दिया गया है। करीब 1114 लोग कैंप पहुंच चुके है।' 

आईएएस चौधरी ने जानकारी देते हुए कहा कि शाम 7 बजे तक राहत और बचाव कार्य पूरा कर लिया गया। करीब 1200 लोगों को अपना घर छोड़ना पड़ा। जिसमें से 1114 लोग कैंप में है। इन कैंप में राशन, भोजन पकाने, पेयजल, स्वच्छता, प्राथमिक उपचार और रहने की उचित व्यवस्था जैसी सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं।

इसे भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर में आतंकियों की धमकी युवाओं पर बेअसर, पुलिस में भर्ती के लिये दिया आवेदन

बता दें कि बीते पांच दिनों में नौशेरा क्षेत्र में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी गोलीबारी में तीन नागरिकों की मौत हुई है और नौ अन्य लोग घायल हुए हैं।

आईपीएल की सभी खबरों को पढ़ने के लिये यहां क्लिक करें

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 14 May 2017, 10:57:00 PM

For all the Latest States News, Jammu & Kashmir News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Mass Evacuation