News Nation Logo

कश्मीर: जम्मू पुलिस ने तोड़ी लश्कर की कमर, LET के 5 मॉड्यूल ध्वस्त

Shahnwaz Khan | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 18 Jul 2022, 11:07:18 PM
Jammu and Kashmir

Jammu and Kashmir (Photo Credit: FILE PIC)

नई दिल्ली:  

आतंक के खिलाफ पिछले 2 सालों में जम्मू पुलिस को अब तक की सबसे बड़ी कामयाबी मिली है। जम्मू कश्मीर पुलिस ने जम्मू सूबे में आतंक का नेटवर्क तैयार करने की कोशिशों में लगे आतंकी संगठन लश्करे तोइबा की कमर तोड़ दी है। पुलिस ने जम्मू सूबे में लश्कर की जड़े मजबूत करने के लिए काम कर रहे 5 टेरर मॉड्यूल का खुलासा करते हुए दो दर्जन लश्कर के आतंकियों को पकड़ने में कामयाबी हासिल की है। सोमवार को जम्मू पुलिस ने लश्कर के 3 आतंकी मॉड्यूल का खुलासा किया। जिसमे एक मॉड्यूल जम्मू जबकि दो मॉड्यूल राजौरी में काम कर रहे थे। पिछले लंबे समय से पुलिस इन मॉड्यूल के पीछे लगी हुई थी। पुलिस ने इन टेरर मॉड्यूल के लिए काम कर रहे 7 आतंकियों को भी भारी असला और हत्यारों के साथ गिरफ्तार किया है।

 *जम्मू मॉड्यूल*

जम्मू में पुलिस ने लश्कर के जिस मॉड्यूल का खुलासा किया है वो पाकिस्तान द्वारा ड्रोन के जरिए पिछले डेढ़ से दो सालो से भेजे जा रहे हत्यारों को रिसीव कर कश्मीर भेजने का काम कर रहा था। इस मॉड्यूल का सरगना जम्मू के तलब खटींगा इलाके में रह रहा आतंकी फैजल मुनीर था। जिसके लिए कठुआ और सांबा में रह रहे 3-4 लोग काम कर रहे थे। पुलिस ने इनमे से दो लोगो हबीब और मिया सोहैल को पकड़ने में कामयाबी हासिल की जिसके बाद फैसल की गिरफ्तारी की गई। फैसल ने गिरफ्तारी के बाद कबुल किया की वो पिछले ढाई सालो से पाकिस्तान में बैठे हंडालरो के संपर्क में था और पाकिस्तान से ड्रोन के जरिए कठुआ और सांबा के इलाके में भेजे गए 15 कंसाइनमेंट को उसने रिसीव किया था। इसमें 29 मई को ड्रोन के जरिए टल्ली इलाके में भेजी गई हत्यारों की खेप भी थी जिसमे से पुलिस ने UBGL के साथ 7 स्टीकी बॉम्ब को भी बरामद किया था। इसके साथ ही 20 जून 2020 में जिस ड्रोन को बीएसएफ ने कठुआंके मन्यारी इलाके में मार गिराए था और उससे M 4 गन भी मिली थी उसे भी इसी मॉड्यूल ने रिसीव करना था। इस मॉड्यूल के पकड़े जाने से कठुआ और सांबा के बॉर्डर इलाकों मावा , हरिया चक , मन्यारी सहित दूसरे ड्रोन ड्रॉपिंग के मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने इस बात का भी खुलासा किया है की ड्रोन के साथ इस टेरर मॉड्यूल के लिए पाकिस्तान से आतंकी संगठन पैसा भी भेजते थे। ताकि उनके से गुर्गे उनके काम को बखूबी अनजान तक पहुंचा सके । पुलिस अभी इस टेरर मॉड्यूल से जुड़े दूसरे लोगो की भी तलाश कर रही है। पुलिस ने इस मॉड्यूल से बड़े पैमाने पर हथियार भी बरामद किए है ।

1. AK 46 -1 no
2. AK magazines- 2 no.
3. AK rounds- 60 no.
4. Pistols -5 no.
5. Pistol magazines -15. No.
6. Pistol rounds-
7. Pistol silencer-2 no
8. Grenades- 8 no.
9. Weighing machine -1 no
10. weapon cleaning accessories ets


*राजौरी मॉड्यूल*

राजौरी में जम्मू कश्मीर पुलिस ने लश्कर के 2 टेरर मॉड्यूल का खुलासा करने में कामयाबी हासिल की है। पहला मॉड्यूल लश्कर कमांडर तालिब हुसैन का था जिसे कुछ दिन पहले रियासी के मोहर इलाके से स्थानीय लोगो की मदद के साथ किया गया था। लश्कर का आतंकी तालिब पिछले तीन सालों से राजौरी में एक्टिव था और लागतार पाक में बैठे लश्कर के सरगनाओं के इशारे पर काम कर रहा था। लश्कर ने तालिब को हथियार रिसीव करने , सुरक्षाबलों पर हमला करने ,माइनोरिटी कम्युनिटी और राजनेताओं पर हमला करने की जिम्मेदारी दी थी । इसके साथ ही तालिब आतंकियों को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने का भी काम कर रहा था l  तालिब द्वारा राजौरी पहुंचाए गए आतंकी जो अभी भी पीर पंजाल इलाके में मोजूद है उनके लगातार।तलाश कर रही है। पुलिस ने इस बात का भी खुलासा किया है की तालिब ने 5 बार पाकिस्तान से आए ड्रोन के जरिए भेजे गए हत्यारों के साथ आए पैसे को भी रिसीव किया। तालिब ने ही राजौरी के कोटरांका में हुए दो धमको के साथ अनुस और शाहपुर में हुए ग्रेनेड धमाकों और टारगैन में हुई हत्या को अपने साथियों के साथ मिलकर अंजाम दिया। पुलिस ने तालिब से भी बड़ी मात्रा में हथियार बारामद किए है।

*ARMS/AMMO/EXPLOSIVEQUANTITY RECOVERED*

1) UBGL grenades--
03, 2) AK 47 rifle--
01  3) AK 47 magazine
--04 (Containing 120 Armour piercing rounds), 4)
Pistols--02
5) Pistol Magazine
--05, 6) Glock pistol silencer --01, 7)
Chinese Pistol rounds-- 40, 8) IED 2kg--01 9)
IED 05 KG -01,10)
Remote IED--05,
11) Pressure mine--
04,

इसके साथ ही पुलिस ने लश्कर के लिए काम कर रहे दूसरे मॉड्यूल का भी खुलासा किया है। इस मॉड्यूल का सरगना अल्ताफ हुसैन नाम का लश्कर आतंकी था। इसने राजौरी में बीजेपी नेता के घर में ग्रेनेड से हमला किया था जिसमे 2 साल के बच्चे की जान चली गई थी। अल्ताफ ने इस वारदात को पाकिस्तान में बैठे अपने हैडलर मोहम्मद कासिम के इशारे पर अंजाम दिया था । पुलिस के मुताबिक इन लोगो की गिरफ्तारी में स्थानीय लोगो द्वारा दी गई जानकारी से बड़ी मदद हासिल हुई है

First Published : 18 Jul 2022, 11:07:18 PM

For all the Latest States News, Jammu & Kashmir News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.