News Nation Logo

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आतंकवादी सहयोगियों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया

पुलिस ने कहा कि यह मामला 6 अक्टूबर, 2020 की घटना से संबंधित है, जब शाम के समय आतंकवादियों ने नूनर गांदरबल में उनके पैतृक गांव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) जिला उपाध्यक्ष पर हमला किया था. 

IANS | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 29 Apr 2021, 05:30:00 AM
jammu and kashmir police

जम्मू-कश्मीर पुलिस (Photo Credit: आईएएनएस)

नयी दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बुधवार को आतंकवादी के तीन सहयोगियों के खिलाफ आरोपपत्र (चार्जशीट) दाखिल किया. पुलिस ने कहा कि यह मामला 6 अक्टूबर, 2020 की घटना से संबंधित है, जब शाम के समय आतंकवादियों ने नूनर गांदरबल में उनके पैतृक गांव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) जिला उपाध्यक्ष पर हमला किया था. हालांकि पीएसओ ने तुरंत जवाबी कार्रवाई की, जिसके परिणामस्वरूप जांगालनार अवंतीपोरा निवासी शब्बीर अहमद शाह नामक एक आतंकवादी की मौके पर ही मौत हो गई. दोनों तरफ से गोलीबारी के दौरान एक पीएसओ अल्ताफ हुसैन भी गंभीर रूप से घायल हो गए और बाद में उन्होंने चोटों के कारण दम तोड़ दिया.

मारे गए आतंकवादी के पास से हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किए गए. इस संबंध में, गांदरबल पुलिस स्टेशन में कानून की संबंधित धाराओं के तहत एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी. पुलिस ने बताया कि जांच के दौरान, अभियुक्त आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन के तीन सक्रिय आतंकवादी सहयोगियों को मामले के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया. उनकी पहचान गांदरबल निवासी कैसर अहमद शेख और आसिफ खजीर मीर और बर्नबग कंगन निवासी हिलाल अहमद मीर के तौर पर की गई है.

पुलिस ने बताया कि जांच से पता चला कि तीनों एक आपराधिक साजिश का हिस्सा थे और उक्त भाजपा नेता पर हमले को अंजाम देने के लिए अभियुक्त आतंकी संगठन एचएम के सहयोगियों के रूप में काम कर रहे थे. उनके पास से हथियार, गोला-बारूद, डेटोनेटर्स और पाकिस्तान के झंडे सहित विभिन्न सामग्रियों को बरामद किया गया है. 
पुलिस ने कहा कि जम्मू-कश्मीर सरकार से अभियोजन की मंजूरी प्राप्त करने के बाद, तीनों आरोपी व्यक्तियों के खिलाफ न्यायिक निर्धारण के लिए अदालत में एक चालान पेश किया गया है.

जम्मू एवं कश्मीर में कोरोनावायरस (Corona Virus) की रफ्तार कम नहीं हो रही है. यहां रविवार को 1,526 नए कोविड मामले दर्ज किए गए, जिसके बाद अधिकारियों ने 15 मई तक केंद्र शासित प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया है. आपदा प्रबंधन, राहत और पुनर्वास विभाग द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया है कि जम्मू-कश्मीर में कोविड-19 के प्रसार से संबंधित स्थिति के समग्र मूल्यांकन के बाद, यह निर्णय लिया गया है कि सभी विश्वविद्यालय, कॉलेज और स्कूल 15 मई तक बंद रहेंगे.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 29 Apr 2021, 05:30:00 AM

For all the Latest States News, Jammu & Kashmir News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो