News Nation Logo

BREAKING

Banner

कश्मीर: बडगाम में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ के खिलाफ पत्थरबाजी, 3 की मौत, 63 जवान घायल

जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ हुई। इस दौरान सुरक्षाबलों की कार्रवाई का विरोध कर रहे 3 स्थानीय युवकों की गोली लगने से मौत हो गई।

News Nation Bureau | Edited By : Jeevan Prakash | Updated on: 29 Mar 2017, 09:17:29 AM
पत्थरबाजी करते युवक

पत्थरबाजी करते युवक

highlights

  • जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, 1 आतंकी ढेर
  • मुठभेड़ के दौरान पत्थरबाजी, 3 पत्थरबाजों की मौत, 17 घायल
  • पत्थरबाजी के दौरान 63  जवान घायल, एक को लगी बुलेट

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया। जबकि मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों की कार्रवाई का विरोध कर रहे 3 स्थानीय युवकों की गोली लगने से मौत हो गई और 17 घायल हो गये। इस घटना पर फारुख़ अब्दुल्ला ने दुख जताते हुए केंद्र और राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। 

राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इस हिंसा पर दुख जताया है। उन्होंने कहा है कि राज्य में शांति बहाली के लिये सभी पक्षों को बैठकर समस्या का हल ढूंढना चाहिये। उन्होंने कहा कि हिंसा से समाधान नहीं निकल सकता है। 

नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारुख़ अब्दुल्ला ने राज्य की मौजूदा सिथिति के लिये राज्य और केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा है कि विवदाव को सुलझाने के लिये सभी पक्षों को बातचीत करने की सलाह भी दी।  

स्थानीय लोगों के पत्थरबाजी में 63 सुरक्षाबल के जवान घायल हो गए। जिसमें 40 सीआरपीएफ के हैं जबकि 23 पुलिस के जवान हैं।

एनकाउंटर के बारे में सीआरपीएफ के डीआईजी संजय कुमार ने कहा, 'एक तरफ आतंकी थे, दूसरी ओर पत्थरबाजी करते स्थानीय लोग। कुछ लोगों ने हमारे काम को काफी मुश्किल बना दिया। हंगामा किया गया, पत्थरबाजी हुई, गालियां दी गईं और हमारे लोगों को घायल किया गया।' 

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने कहा कि बडगाम जिले के चादूरा इलाके के दरबग गांव में एक घर में छिपे एक आतंकवादी के मारे जाने के साथ ही मुठभेड़ दोपहर में खत्म हो गई।

उन्होंने कहा, 'मारे गए आतंकवादी और उसका हथियार मुठभेड़ स्थल से बरामद कर लिया गया है। मुठभेड़ खत्म हो गई है।' लगभग 10 घंटे तक चली मुठभेड़ में एक जवान भी घायल हुआ है।

मारे गए तीनों युवकों की पहचान जाहिद राशिद गनई, साकिब अहमद तथा इशफाक अहमद वानी के रूप में हुई है। यह सभी सुरक्षा बलों की कार्रवाई का विरोध कर रहे थे। सुरक्षा बलों की फायरिंग में तीनों गंभीर रूप से घायल हो गए और इन्होंने बाद में अस्पताल में दम तोड़ दिया।

बडगाम जिले के दरबग गांव में आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने गांव को चारों ओर से घेर लिया, जिसके बाद दोनों तरफ से गोलीबारी शुरू हो गई।मुठभेड़ के दौरान क्षेत्र में प्रदर्शन हुए।

और पढ़ें: मोदी सरकार का फैसला, कश्मीर में उपद्रव पर पहले पावा शैल बाद में पैलेट गन होगा इस्तेमाल

प्रदर्शन कर रहे युवकों ने दरबग गांव से तीन किलोमीटर दूर नागम गांव में अर्धसैनिक बल केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के उन वाहनों पर पथराव किया, जिससे मुठभेड़ में शामिल सुरक्षाबलों की मदद के लिए जवानों को ले जाया जा रहा था।

और पढ़ें: महबूबा मुफ्ती ने कहा, अलगाववादियों से भी हो बात

First Published : 28 Mar 2017, 07:17:00 PM

For all the Latest States News, Jammu & Kashmir News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×