News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

पीएम मोदी की बैठक में जाएंगे गुपकार नेता, फारुख अब्दुल्ला बोले- हमारा मकसद सबको मालूम है

पीएम मोदी 24 जून को जम्मू कश्मीर के नेताओं के साथ बैठक करने वाले हैं. उससे पहले फारुक अब्दुल्ला के घर पर गुपकार गठबंधन की अहम बैठक हुई. बैठक के बाद फारुख अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) ने कहा कि हमारा मकसद सबको मालूम है.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 22 Jun 2021, 12:50:14 PM
Gupkar Meeting

Gupkar Meeting (Photo Credit: ANI)

highlights

  • बैठक के बाद महबूबा मुफ्ती का विवादित बयान
  • महबूबा बोलीं- कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान से बात करनी चाहिए
  • बैठक के बाद फारुख अब्दुल्ला बोले- हमारा मकसद सबको मालूम है

नई दिल्ली:

24 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने जम्मू कश्मीर (Jammu-Kashmir) के प्रमुख दलों की बैठक बुलाई है. उससे पहले राज्य में सियासी हलचल तेज हो गई है. पीएम की बैठक से पहले आज गुपकार गठबंधन की अहम बैठक (Gupkar meeting) की. ये बैठक जम्मू कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस प्रमुख फारुक अब्दुल्ला के घर पर हुई. बैठक के बाद फारुख अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) ने कहा कि हम लोग प्रधानमंत्री की बैठक में जाएंगे. उन्होंने कहा कि हमारा मकसद सबको मालूम है. उसे दोहराने की जरूरत नहीं है. बैठक के बाद महबूबा मुफ्ती ने विवादित बयान देते हुए कहा कि कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान से भी बात करनी चाहिए.

ये भी पढ़ें- पंजाब कांग्रेस में रार: आखिर क्या है कैप्टन और सिद्धू के बीच पूरा विवाद? जानिए

बैठक में फैसला लिया गया है कि पीएम मोदी के साथ 24 जून को होने वाली सर्वदलीय बैठक में कश्मीर के सभी नेता शामिल होंगे. नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारुक अब्दुल्ला ने कहा कि 'हम सभी सर्वदलीय बैठक में शामिल होंगे. जिन लोगों को न्योता मिला है, सभी जाएंगे. अपनी बात प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री के सामने रखेंगे. केंद्र की ओर से मीटिंग का कोई भी एजेंडा स्पष्ट नहीं किया गया है.'

वहीं बैठक के बाद पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कहा कि 'केंद्र सरकार को पहले हमारे कश्मीरी लोगों को जेल से आजाद करना चाहिए. इसका मतलब ये नहीं कि हम बातचीत के खिलाफ है. सरकार को पाकिस्तान से भी बात करनी चाहिए. हम वहां जाएंगे और अपनी बात रखेंगे.' गुपकार नेताओं से साफ-साफ कहा कि सर्वदलीय बैठक में अगर पीएम मोदी की बात अगर कश्मीर के लोगों के हित में होगी तो मानी जाएगी, वर्ना हम सीधे-सीधे मना कर देंगे.

ये भी पढ़ें- मुख्तार अंसारी के भाई और पूर्व विधायक सिबगतुल्लाह अखिलेश यादव से करेंगे मुलाकात, सपा में हो सकते हैं शामिल

बता दें कि अब्दुल्ला पीएम मोदी की बैठक के लिए आमंत्रित 14 नेताओं में शामिल हुए. बैठक में पीएम की बैठक में जाने को लेकर एक रोडमैप तैयार किया गया. बैठक के बाद गुपकार नेताओं की बातचीत से लगा कि वो इस बैठक में भी आर्टिकल 370 को फिर से बहाल करने की बात करने वाले हैं. बैठक के बाद महबूबा मुफ्ती ने विवादित बयान भी दिया. महबूबा ने कहा कि कश्मीर मुद्दे पर भारत सरकार को पाकिस्तान से बात करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान से बात करके ही हालात सुधर सकते हैं.

First Published : 22 Jun 2021, 12:20:28 PM

For all the Latest States News, Jammu & Kashmir News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.