logo-image
लोकसभा चुनाव

Rajya Sabha Election 2024: हिमाचल प्रदेश में बीजेपी ने कांग्रेस को हराया, सीएम से मांगा इस्तीफा

Rajya Sabha Election 2024: विपक्ष के नेता जयराम ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू से इस्तीफे की मांग की.

Updated on: 27 Feb 2024, 11:52 PM

नई दिल्ली:

Rajya Sabha Election 2024: भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने मंगलवार को कांग्रेस शासित राज्य में एकमात्र राज्यसभा सीट जीत ली. हिमाचल विधानसभा में भाजपा की ताकत कम होने के बावजूद कांग्रेस को मात देने के बाद, विपक्ष के नेता जयराम ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू से इस्तीफे की मांग की. हिमाचल प्रदेश के एलओपी जयराम ठाकुर ने कहा, "हम सही कह रहे हैं कि इस जीत को देखते हुए, हिमाचल प्रदेश के सीएम को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. विधायकों ने सिर्फ एक साल के भीतर उन्हें छोड़ दिया है." उन्होंने बीजेपी प्रत्याशी हर्ष महाजन को बधाई दी. उन्होंने कहा, "इतना बड़ा बहुमत होने के बावजूद कांग्रेस राज्यसभा सीट हार गई...मैं हर्ष महाजन को एक बार फिर बधाई देता हूं."

महाजन, जिन्हें कांग्रेस के दिग्गज अभिषेक मनु सिंघवी के खिलाफ खड़ा किया गया था. उन्होंने इस जीत को "भाजपा, नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जीत" बताया. सुक्खू से पहले हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे जयराम ठाकुर ने इसका श्रेय अमित शाह और जेपी नड्डा को दिया.

उन्होंने कहा, ''मैं पीएम मोदी को बधाई देता हूं क्योंकि यहां, हिमाचल प्रदेश में, जहां हम सत्ता में नहीं हैं, बीजेपी ने एक राज्यसभा सीट जीती है और इसका श्रेय जेपी नड्डा और अमित शाह को जाता है.'' 

अभिषेक मनु सिंघवी ने मानी हार

हिमाचल प्रदेश से कांग्रेस उम्मीदवार अभिषेक मनु सिंघवी ने हर्ष महाजन को बधाई दी. “मैं हर्ष महाजन (भाजपा उम्मीदवार) को बधाई देता हूं. वह जीत गया है,'' उन्होंने कहा ''मैं कांग्रेस के पूरे शीर्ष नेतृत्व, कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को मुझ पर चौथी बार विश्वास जताने के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं. दूसरा, मैं कांग्रेस पार्टी के प्रत्येक विधायक और पदाधिकारियों को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया."

सुक्खू के विधायक हिमाचल लौटे

सुक्खू ने शाम को कहा था कि सीआरपीएफ और हरियाणा पुलिस उनके छह विधायकों को उठा ले गई. नतीजे घोषित होने के बाद कांग्रेस के छह विधायक और तीन निर्दलीय विधायक हरियाणा से हिमाचल प्रदेश के लिए  रवाना हो गए. 68 सदस्यीय हिमाचल प्रदेश विधानसभा में कांग्रेस के 40 विधायक हैं. उसे तीन निर्दलीय विधायकों का भी समर्थन प्राप्त है. बीजेपी के पास सिर्फ 25 विधायक हैं. अगर उसके विधायकों ने क्रॉस वोटिंग नहीं की होती तो कांग्रेस को आसानी से राज्यसभा सीट जीत लेनी चाहिए थी.