News Nation Logo
Banner

'इंदिरा ठोक दी, फिर ये मोदी....' सीएम खट्टर ने कहा-किसान आंदोलन में खालिस्तान शामिल!

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भीड़ में कुछ अवांछित तत्वों के इनपुट मिले हैं. हमने रिपोर्ट की है, यह ठोस होने के बाद खुलासा करेंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 28 Nov 2020, 03:55:09 PM
manohar lal khattar

मनोहर लाल खट्टर (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली :

कृषि बिल के खिलाफ किसान आंदोलन जोरों पर हैं. किसान दिल्ली की तरफ बढ़ रहे हैं. वहीं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar lal Khattar) ने किसान आंदोलन को लेकर अपनी प्रतिक्रिया में कहा है कि ये उनके राज्य के किसान नहीं है. किसान आंदोलन को पंजाब के किसानों ने खड़ा किया है.

मीडिया से बातचीत करते हुए मनोहर लाल खट्टर ने कहा, 'किसान आंदोलन को पंजाब के किसानों ने खड़ा किया है, इस आंदोलन को किसानों की बजाए राजनीतिक दलों और संस्थाओं ने प्रायोजित किया है. हरियाणा के किसानों ने आंदोलन में भागीदारी नहीं की है.'

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भीड़ में कुछ अवांछित तत्वों के इनपुट मिले हैं. हमने रिपोर्ट की है, यह ठोस होने के बाद खुलासा करेंगे. खट्टर ने कहा कि अवांछित तत्वों ने नारेबाजी करते हुए कहा कि जब इंदिरा गांधी को ठोक सकते हैं तो मोदी को क्यों नहीं कर सकते. 

मनोहर लाल खट्टर का इशारा खालिस्तानी तत्वों की तरफ है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो किसान आंदोलन में खालिस्तानी तत्व भी शामिल है. जो लगातार मोदी विरोधी नारेबाजी कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें:सतेंद्र जैन बोले- वैक्सीन मिलते ही हफ्ते भर में पूरी दिल्ली को लगा देंगे

बता दें कि किसान कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन पर उतरे हैं. पंजाब से हरियाणा होते हुए हजारों किसानों ने दिल्ली के लिए निकले हैं. लेकिन जगह-जगह उन्हें रोका गया. वाटर कैनन बरसाए गए. बैरिकेट लगाए गए. दो दिन तक चले टकराव के बाद 27 नवंबर की शाम को दिल्ली पुलिस ने किसानों को बुराड़ी के निरंकारी ग्राउंड में विरोध प्रदर्शन की इजाजत दी गई है.

First Published : 28 Nov 2020, 03:52:27 PM

For all the Latest States News, Haryana News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.