logo-image
लोकसभा चुनाव

'महिलाओं को प्रेग्नेंट करो और लाखों कमाओ', अनोखे जॉब ऑफर से हरियाणा में मचा हड़कंप

हरियाणा के नूहं में निःसंतान महिलाओं को प्रेग्नेंट करने के नाम पर लाखों रुपये कमाने का ऑफर दिया जा रहा था. जब हरियाणा पुलिस को इसकी जानकारी मिली तो वो भी हैरान रह गए. कार्रवाई करते हुए पुलिस ने दो ठगों को गिरफ्तार कर लिया है.

Updated on: 07 Jul 2024, 10:58 PM

highlights

  • महिलाओं को प्रेग्नेंट करने के लिए निकाली नौकरी
  • सोशल मीडिया पर एड के जरिए करते थे ठगी
  • हरियाणा पुलिस ने मामले में दो लोगों को किया गिरफ्तार

 

Nuh:

हरियाणा के नूहं से एक ऐसा मामला सामने आया, जिसके बारे में जानकर पुलिस ने भी अपना सिर पकड़ लिया. 'महिलाओं को प्रेग्नेंट करो और पैसे कमाओ' क्या आपने कभी ऐसे स्कीम के बारे में सुना है. सुनकर थोड़ा अजीब लगा ना, लेकिन यह स्कीम हरियाणा के नूहं में चलाया जा रहा था. जहां ऐसी महिलाएं जिनके बच्चे नहीं हो पा रहे हैं, उन्हें गर्भवती करने के पैसे दिए जाने का विज्ञापन चलाया जा रहा था. इतना ही नहीं इस स्कीम को सोशल मीडिया पर भी प्रमोट किया जा रहा था, जैसे ही यह मामला हरियाणा पुलिस के संज्ञान में आया, वे हैरान रह गए. जिसके बाद मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. एक का नाम एजाज और दूसरे का नाम इरशाद बताया जा रहा है.

'महिलाओं को प्रेग्नेंट करो और पैसे कमाओ'

आपको बता दें कि ठगों ने फेक विज्ञापन के जरिए निःसंतान महिलाओं को प्रेग्नेंट करने के नाम पर लाखों रुपये कमाने का ऑफर देते थे. जॉब के लिए उन्होंने इसका शीर्षक प्रेग्नेंट जॉब रखा था.पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, आरोपी लोगों को फर्जी स्कीम बताकर पैसों की ठगी करते थे. वो पहले इस विज्ञापन को सोशल मीडिया पर प्रमोट करते थे और जब विज्ञापन देखकर कोई काम के लिए कॉल करता था तो वे रजिस्ट्रेशन फीस और फाइलिंग के नाम पर लोगों से पैसे वसूलते थे. जिसके बाद उनका नंबर ब्लॉक कर देते थे. 

यह भी पढ़ें- देश के लिए शहीद हो गया हरियाणा का लाल, मां-बाप का था इकलौता सहारा! रुला देगी ये कहानी

पुलिस ने दो आरोपी को किया गिरफ्तार

जांच में यह भी सामने आया है कि ये दोनों आरोपी फेक फेसबुक अकाउंट बनाकर विज्ञापन चलाते थे. दोनों के करीब 4 फेसबुक अकाउंट मौजूदा जांच में सामने आए हैं. आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जा चुका है और उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. हरियाणा में सोशल मीडिया के जरिए इस तरह का स्कैम का मामला पहला नहीं है. इससे पहले भी कई तरह के मामले प्रदेश से सामने आ चुके हैं.