News Nation Logo
Banner

हरियाणा में बीजेपी नेता पर एंबुलेंस रोकने का लगा आरोप, मरीज की मौत (Video)

हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के एक नेता द्वारा एक विवाद में एंबुलेंस को रोके दिए जाने से एक व्यक्ति की मौत हो गई।

IANS | Updated on: 08 Aug 2017, 12:10:37 AM
एंबुलेंस रोकने से हुई मरीज की मौत

एंबुलेंस रोकने से हुई मरीज की मौत

नई दिल्ली:

हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के एक नेता द्वारा एक विवाद में एंबुलेंस को रोके दिए जाने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। एंबुलेंस को रोके जाने की घटना पर कांग्रेस ने सोमवार को कहा कि बीजेपी सत्ता के नशे में है और सत्ता का घमंड हर चीज को लांघ गया है।

मृतक के परिवार का आरोप है कि फतेहाबाद म्युनिसिपल काउंसिल के अध्यक्ष व बीजेपी नेता दर्शन नागपाल ने एंबुलेंस को रोका और चालक से बहस की। इसमें कीमती तीस मिनट निकल गए।

घटना में मरने वाले मरीज नवीन कुमार के रिश्तेदार अरुण कुमार ने फतेहाबाद में कहा, 'मरीज को अस्पताल तक पहुंचाए जाने से पहले ही उसकी मौत हो गई। हमें जाने देने के हमारे अनुरोध का भाजपा नेता पर कोई असर नहीं हुआ।' नवीन कुमार दिल के मरीज थे और उन्हें कार्डियोलॉजिस्ट के पास ले जाया जा रहा था।

मृतक के परिजनों का कहना है कि एंबुलेंस नागपाल की कार से छू गई थी। इससे बीजेपी नेता बिफर गए और उन्होंने पीछा कर एंबुलेंस को रोक दिया। परिवार का यह भी आरोप है कि पुलिस प्रभावशाली स्थानीय बीजेपी नेता के खिलाफ मामला दर्ज करने में आनाकानी कर रही है।

हरियाणा पुलिस परिवार की शिकायत की जांच कर रही है, जिसमें कहा गया है कि फतेहाबाद में एक मामूली सी दुर्घटना पर बीजेपी नेता ने एंबुलेंस को रोक लिया और इस वजह से उसके एक रिश्तेदार की मौत हो गई।

और पढ़ें: असम: छात्रा के साथ अश्लील फोटो शेयर करने वाला शिक्षक हुआ गिरफ्तार

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, 'जिस तरीके से बीजेपी नेता ने पहले एंबुलेंस को टक्कर मारी और फिर उसे रोके रखा, जिसकी वजह से एक मरीज की मौत हो गई, वह इस व्यक्ति को और जिस पार्टी की ताकत का वह इस्तेमाल कर रहा है, उसको सीधे-सीधे इस मामले में जिम्मेदार ठहरा रहा है।'

उन्होंने पूछा कि क्या राज्य के मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री, बीजेपी अध्यक्ष इस घटना का संज्ञान लेंगे, या फिर बहुमत का अहंकार इतना बढ़ गया है कि उसके सामने आम आदमी और उसकी जान की कोई कीमत ही नहीं रह गई है।

और पढ़ें: 12 दिन से अनशन पर बैठीं मेधा पाटकर को उठा ले गई पुलिस, शिवराज बोले- 'गिरफ्तार नहीं, अस्पताल ले गए'

 HIGHLIGHTS

  • बीजेपी नेता दर्शन नागपाल ने 30 मिनट तक एंबुलेंस को रोक कर रखा था
  • मृतक दिल के मरीज थे और उन्हें कार्डियोलॉजिस्ट के पास ले जाया जा रहा था

First Published : 08 Aug 2017, 12:05:40 AM

For all the Latest States News, Haryana News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो