logo-image
लोकसभा चुनाव

इस शहर में चालान से छुट्टी.. पुलिस की दादागिरी पर होगी कार्रवाई, जानें क्या है नया आदेश

गुरुग्राम डीसीपी ट्रैफिक ने शहर को चालान मुक्त कर दिया है. यानि अब गुरुग्राम की सड़कों पर चलने वाले वाहनों का चालान नहीं काटा जाएगा.

Updated on: 31 May 2024, 12:13 PM

नई दिल्ली:

गुरुग्राम डीसीपी ट्रैफिक ने शहर को चालान मुक्त कर दिया है. यानि अब गुरुग्राम की सड़कों पर चलने वाले वाहनों का चालान नहीं काटा जाएगा. ये फैसला चेकिंग के दौरान मिल रही शिकायतों के मद्देनजर लिया गया है. डीसीपी ट्रैफिक ने जारी किए एक पत्र में इसकी सूचना दी है. इसमें बताया गया है कि, रात में वाहन चेकिंग के दौरान मिल रही शिकायतों के मद्देनजर रात के समय वाहनों के चालान न काटने के निर्देश जारी किए हैं, ताकि रात के समय वाहन चालकों को परेशानी न हो. वहीं अगर जरूरी हो, तो उच्च अधिकारियों की अनुमति लेनी होगी, जिसके बाद ही चालान जारी किया जा सकेगा. 

पुलिस उपायुक्त वीरेंद्र विज ने 28 मई को लिखे पत्र में कहा, ''यातायात निरीक्षकों को आदेश दिया जाता है कि वे अपने अधिकार क्षेत्र में नियुक्त सभी कर्मचारियों को आदेश दें कि, रात के समय किसी भी वाहन को न रोका जाए और न ही कोई चालान काटा जाए. एम.वी. एक्ट के अनुसार वाहन चालक का चालान करना आवश्यक है, ऐसी स्थिति में संबंधित राजपत्रित अधिकारी/अधोहस्ताक्षरी के संज्ञान में लाकर अनुमति प्राप्त करने के बाद ही नियमानुसार उस वाहन का चालान जारी किया जाना चाहिए.''

डीसीपी ने यह भी चेतावनी दी है कि, अगर कोई भी पुलिसकर्मी नियमों का पालन नहीं करेगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. साथ ही बताया गया कि, "आदेशों का कड़ाई से पालन किया जाए. लापरवाही एवं असावधानी की स्थिति में संबंधित यातायात पुलिस अधिकारी के विरुद्ध तत्काल प्रभाव से नियमानुसार कठोर विभागीय कार्रवाई की जाएगी."

शिकायत पर एक्शन

दरअसल पुलिस को मामले में इत्तला मिली थी कि, गुरुग्राम में रात में तैनात यातायात पुलिस कर्मी अनावश्यक रूप से आम लोगों के वाहनों को रोक रहे हैं और उन्हें परेशान कर रहे हैं और अनावश्यक रूप से वाहनों के चालान भी काट रहे हैं, जिसके बाद रात में वाहन चालकों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. लिहाजा पुलिस के इस फैसले से चालकों को राहत पहुंचेगी.