News Nation Logo
दिल्ली के सदर बाजार में आज आतंकी हमलों को लेकर मॉक ड्रिल की गई T20 World Cup: साउथ अफ्रीका ने वेस्टइंडीज को 8 विकेट से हराया चाहें तो गोली मरवा सकते हैं और कुछ नहीं कर सकते: लालू प्रसाद यादव के बयान पर नीतीश कुमार आर्यन खान की जमानत पर बॉम्बे हाईकोर्ट में कल फिर होगी सुनवाई बिजनेस के सिलसिले में उनसे बातचीत होती थी: हैनिक बाफना प्रभाकर ने मेरा नाम क्यों लिया मैं नहीं जानता: हैनिक बाफना भारत के पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी आर्यन खान की ओर से कर रहे हैं दलील पेश प्रभाकर को अच्छी तरह जानता हूं: हैनिक बाफना मेरे खिलाफ कोई सुबूत नहीं: हैनिक बाफना अगर सुबूत है तो प्रभाकर लाकर दिखाएं: हैनिक बाफना टीम इंडिया के मुख्य कोच पद के लिए राहुल द्रविड़ ने किया आवेदन वीवीएस लक्ष्मण के NCA में पदभार संभालने की संभावना आर्यन खान के वकील ने HC में दाखिल किया हलफनामा HC में आर्यन खान की जमानत याचिका पर सुनवाई शुरू पश्चिम बंगाल में तंबाकू और निकोटिन वाले गुटखा-पान मसाला एक साल के लिए बैन कोवैक्सीन को मिल सकती है अंतरराष्ट्रीय मंजूरी, डब्ल्यूएचओ की बैठक आज उमर मलिक के बेटे पर यूपी सरकार कसेगी शिकंजा, एडमिशन के नाम पर रेस का आरोप पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कल प्रेसवार्ता कर नई पार्टी का ऐलान कर सकते हैं अरविंद केजरीवाल का ऐलान - यूपी में सरकार बनी तो मुफ्त में अयोध्या की तीर्थ यात्रा कराएंगे

सुषमा स्वराज के नाम पर होगा अंबाला बस अड्डे का नाम, यहीं शुरू हुआ था राजनीतिक सफर

देश की पूर्व विदेश मंत्री और विश्व की प्रतिभाशाली महिलाओं में शुमार रहीं स्व. सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) के नाम पर अंबाला (Ambala) शहर का आधुनिक बस अड्डा पहचाना जाएगा.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 25 Jan 2020, 12:52:28 PM
सुषमा स्वराज

सुषमा स्वराज (Photo Credit: फाइल फोटो)

अंबाला:

देश की पूर्व विदेश मंत्री और विश्व की प्रतिभाशाली महिलाओं में शुमार रहीं स्व. सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) के नाम पर अंबाला (Ambala) शहर का आधुनिक बस अड्डा पहचाना जाएगा. अंबाला शहर में ही सुषमा स्वराज ने अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत की थी. 14 फरवरी को उनके जन्मदिन पर अंबाला शहर के स्थानीय बस अड्डे का नाम बदला जाएगा. राज्य के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इस प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है. इस मामले में अंबाला के स्थानीय विधायक असीम गोयल ने बस अड्डे का नाम सुषमा स्वराज के नाम पर रखने के लिए प्रदेश सरकार को चिट्ठी लिखी थी.

यह भी पढेंः निर्भया केसः अब जेल प्रशासन का बहाना बनाकर दोषी नहीं टाल पाएंगे फांसी, कोर्ट ने याचिका का किया निपटारा

अंबाला से शुरू किया था राजनीतिक सफर
सुषमा स्वराज ने अपने राजनीतिक सफर की शुरूआत 25 साल की उम्र में की थी. वह केवल 25 साल की उम्र हरियाणा की कैबिनेट मंत्री बन गई थी. वह दो बार 1977 और 1987 अंबाला की छावनी सीट से विधायक भी रहीं. सुषमा स्वराज जब 1977 में पहली बार पहली बार विधायक बनीं तो उनकी उम्र महज 25 साल थी. वह महज 27 साल की आयु में 1979 में जनता पार्टी की हरियाणा ईकाई की अध्यक्षा बनीं. हरियाणा में चौधरी देवीलाल सरकार में दो बार मंत्री रहीं सुषमा स्वराज ने 1985-86 के न्याय युद्ध आंदोलन में भी हिस्सेदारी की थी.

यह भी पढ़ेंः लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने CAA का विरोध करने वालों को करारा जवाब दिया

1990 में पहली बार बनी सांसद
सुषमा स्वराज को बीजेपी ने 1990 में राज्यसभा की सदस्या बनाकर संसद भेज दिया. वर्ष 1996 तक राज्यसभा सदस्या रहने के दौरान सुषमा स्वराज देश के सियासी पटल पर छा गईं. इससे बाद वह दक्षिण दिल्ली से चुनाव जीतकर सांसद बनीं. वर्ष 1996 में सुषमा स्वराज को अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में सूचना एवं प्रसारण मंत्री बनाया गया.

First Published : 25 Jan 2020, 12:52:28 PM

For all the Latest States News, Haryana News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.