News Nation Logo

गांव में 2500 मिट्टी के मटकों से बनाया बर्ड हाउस, फाइव स्टार से कम नहीं सुविधाएं

इंसानों के पास सर्दी, गर्मी या बारिश की मार से बचने के लिए घर और उसमें तमाम तरह की सुविधाएं होती हैं। बात पक्षियों की करें तो उनके लिए पेड़ और उन पर बने घोंसले उन्हें सुरक्षित रखते हैं।

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 05 Aug 2022, 07:43:42 AM
Bird house

Bird house (Photo Credit: FILE PIC)

नई दिल्ली:  

इंसानों के पास सर्दी, गर्मी या बारिश की मार से बचने के लिए घर और उसमें तमाम तरह की सुविधाएं होती हैं। बात पक्षियों की करें तो उनके लिए पेड़ और उन पर बने घोंसले उन्हें सुरक्षित रखते हैं। जिस तरह लगातार पेड़ों की कटाई और कंस्ट्रक्शन का काम बढ़ रहा है, ऐसे में पक्षियों को रहने का कोई ठिकाना नहीं होता। परिंदों की तकलीफ देख गुजरात के राजकोट डिस्ट्रिक्ट के साँठली  गांव के भगवानजी भाई रूपापारा ने विकल्प के तौर पर अपने गांव में 2500 मिट्टी के मटकों से बर्ड हाउस, यानी पक्षियों का घर बनाया है जो कोई फाइव स्टार सुविधा से कम  नहीं हे।  अब लोग दूर-दूर से इसे देखने इनके गांव आ रहे हैं।

जहां एक तरफ लोग अपने घरों या बालकनी में पक्षियों का आना पसंद नहीं करते, वहीं भगवानजी भाई जैसे लोग भी हैं, जिन्हें परिंदों से इतना प्रेम है कि खुद का 20 लाख रुपए खर्च कर उनके लिए घर तैयार किया है। इस घर में पक्षियों को ज्यादा सर्दी और ज्यादा गर्मी का अहसास नहीं होगा, बरसात में भी ये परिंदे नहीं भीगेंगे। दिखने में ये बर्ड हाउस शिवलिंग के आकार का है। जिसे बहुत ही बेहतर तकनीक से तैयार किया गया है। ये बिजली या चक्रवात में भी पक्षियों को सुरक्षित रखने में कारगर होगा। 75 साल के भगवानजी भाई का पूरा नाम भगवानजी भाई मोहन भाई रूपापारा है। वो गुजरात के राजकोट के नवी साँठली गांव के रहने वाले हैं। भगवानजी भाई पेशे से किसान हैं और 100 एकड़ की खेती का काम संभालते हैं। उनके दो बेटे हैं जो एग्रो कंपनी चलाते हैं। भगवानजी भाई का शुरू से ही पशु-पक्षियों की मदद करने में इंटरेस्ट रहा है।

भगवानजी  भाई और उनके बेटे विनेश रूपापरा  बताते हे की इसको बनाने में हमको काफी समय लगा. 20 लाख का खर्च खुद की जेब से किया और इनको बनाने के लिए हमने कोई इंजीनियर की मदद नहीं ली हे लेकिन स्ट्रक्चर काफी स्ट्रांग बनाया हे इसमें लगे हुवे करीब 2500 मिटी के पॉट को स्पेशल टेंपरेचर  से बनाया हे जिसकी वजह से ऑल वेधर प्रूफ बन शके. एक और से कहा जाये तो ये पक्षी को लिए फाइव स्टार घर ही बन गया हे

पक्षियों का घर बनवाने के लिए भगवानजी भाई ने गांव से ग्राम पंचायत से जमीन मांगी। इस घर की नींव पिछले साल 2021 में रखी गई थी और पूरे एक साल लग गए इसे तैयार होने में। पक्षियों के लिए भगवानजी भाई का प्यार ही था कि उन्होंने खर्च की परवाह किए बिना इतना विशाल, सुविधायुक्त और मजबूत घर बनवाया है। हम सभी घर बनाने के लिए अक्सर आर्किटेक्ट से लेकर इंटीरियर डिजाइनर की मदद लेते हैं, लेकिन चौथी पास भगवानजी भाई ने खुद की सूझबूझ पक्षियों लिए ये आलीशान घर बनाया ।

पक्षियों का ये घर 140 फीट लंबा, 70 फीट चौड़ा और 40 फीट ऊंचा है। इसमें तकरीबन 2500 छोटे-बड़े मिट्टी के मटकों को इस तरह फिट किया गया है कि हर तरह के पक्षी इसमें अपना घर बना सकें। इसे बनाने के लिए  20 लाख रुपये खर्च किए। ईश्वर की कृपा से परिवार  आर्थिक रूप से सक्षम होने से  किसी की मदद लेने की जरूरत नहीं पड़ी। परिवार की  एक छोटी सी पहल से बेजुबानों को मदद मिल सकती है इसिलए  ये काम परिवार ने किया ।

भगवानजी भाई पक्षी प्रेमी होने के साथ भगवान शिव के बहुत बड़े भक्त हैं। यही कारण है कि उन्होंने पक्षियों के आशियाने को शिवलिंग के आकार का बनाया है। इसे उन्होंने खुद ही डिजाइन किया है। इसमें दो तरह के छोटे और बड़े मटकों का इस्तेमाल किया गया है, जो स्पेशल ऑर्डर पर बनाए गए हैं। पक्षियों के घर में 2500 मटके लगाए गए हैं। ये मटके अपने आप में खास हैं। इन्हें इस तरह बनाया गया है कि ये ठंड में ज्यादा ठंडे नहीं होंगे, न ही गर्मी में ज्यादा गर्म। हर मटके की कीमत करीब 150 रुपए है।

मटकों को इस तरह फिट किया गया है कि ये आसानी से टूटेंगे भी नहीं। इन्हें जमीन से 11 फीट ऊंचाई पर गैल्वनाइज्ड बोर पाइप और स्टील के तारों में लटकाया गया है। घर में लगने वाले पाइप और तारों में 50 साल तक जंग नहीं लगेगी और ये इतना मजबूत है कि आसानी से टूटेगा भी नहीं। खास बात ये है कि मानसून के दौरान अगर बिजली गिरी तो इससे पक्षियों को परेशानी नहीं होगी।

भगवानजी भाई ने पक्षियों का घर ऐसे बनाया मानों उन्हें खुद ही रहना हो। पक्षियों के घर के अंदर खाने-पीने के अलावा मंदिर भी बनाया है। ये मंदिर पक्षियों के लिए ही बनाया गया है। पक्षियों को सुरक्षित रखने के लिए इस घर के चारों तरफ नेट की फेंसिंग की गई है।

फिलहाल इस बर्ड हाउस में तोता, कबूतर, मैना और गौरैया सहित कई पक्षी रहते हैं। जिस तरह से भगवानजी भाई ने पक्षियों की सुविधाओं का ख्याल रखा है उससे देखते हुए इस बर्ड हाउस को पक्षियों का 5 स्टार होटल कहना गलत नहीं होगा। अगर हर गांव-शहर में ऐसी सुविधा हो जाए तो विलुप्त रहे कई पक्षियों को आसानी से बचाया जा सकता है।

First Published : 05 Aug 2022, 07:43:42 AM

For all the Latest States News, Gujarat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.