News Nation Logo

तीन तलाक की शिकार महिला ने दी जान देने की कोशिश, मंगलवार को ही कानून बनने का रास्ता हुआ साफ

पति द्वारा एक बार में तीन तलाक बोलने से आहत एक मुस्लिम महिला ने बुधवार को आत्महत्या करने की कोशिश की. हालांकि समय रहते उसे बचा लिया गया और अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 31 Jul 2019, 02:16:51 PM
सांकेतिक चित्र.

highlights

  • तीन तलाक से आहत अहमदाबाद की महिला ने की आत्महत्या की कोशिश.
  • फिलहाल अस्पताल में कर रही जिंदगी और मौत से संघर्ष.
  • महिला की शिकायत पर केस दर्ज. दो छोटे बच्चे हैं महिला के.

नई दिल्ली.:

मंगलवार को ही राज्यसभा में तीन तलाक के खिलाफ विधेयक पारित हुआ और बुधवार को इस कुप्रथा के बदसूरत चेहरे को सामने लाती एक खबर अहमदाबाद से सामने आ रही है. वहां पति द्वारा एक बार में तीन तलाक बोलने से आहत एक मुस्लिम महिला ने बुधवार को आत्महत्या करने की कोशिश की. हालांकि समय रहते उसे बचा लिया गया और अस्पताल में भर्ती कराया गया है. महिला ने पति और ससुराल वालों के खिलाफ केस दर्ज कराया है.

यह भी पढ़ेंः आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम गिरफ्तार, कल BJP नेता ने कराई थी FIR

दो छोटे बच्चे हैं पीड़िता के
मुस्लिम समाज में तीन तलाक के रूप में व्याप्त कुप्रथा का यह कुरूप चेहरा बुधवार को गुजरात की राजधानी अहमदाबाद में सामने आया है. तलाक-ए-बिद्दत यानी तीन तलाक का शिकार महिला फिलहाल अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है. इस महिला के दो छोटे बच्चे हैं. फिलहाल स्थानीय पुलिस ने महिला की शिकायत पर उसके शौहर और ससुराल पक्ष के अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. महिला की गंभीर स्थिति को देखते हुए उसकी पहचान अभी सार्वजनिक नहीं की गई है.

यह भी पढ़ेंः तीन तलाक को अपराध बनाना समान नागरिक संहिता की दिशा में बड़ा कदम

मंगलवार को ही राज्यसभा में पास हुआ विधेयक
गौरतलब है कि मंगलवार को राज्यसभा में तीन तलाक को अपराध बनाता 'मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक 2019' पास हुआ है. इसके तहत तीन तलाक के मामले में दोषी पाए जाने पर तीन साल की सजा का प्रावधान है. अभी तक मुस्लिम समाज तीन तलाक को धर्मसम्मत बता उसका निपटारा शरीयत के हिसाब से ही करने की बात करता था, लेकिन अब कानून बन जाने के बाद मुस्लिम महिला को कानूनी संरक्षण मिल गया है. इसके साथ ही वह पति से गुजारा भत्ता और बच्चों का संरक्षण हासिल करने की भी अधिकारी हो गई है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 31 Jul 2019, 02:16:51 PM

For all the Latest States News, Gujarat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो