News Nation Logo
विश्व प्रसिद्ध जगन्नाथ रथयात्रा की थोड़ी देर में शुरुआत, पढ़ें-15 रोचक तथ्यRead More » Manipur Landslide: 14 लोगों की मौत की पुष्टि, 23 बचाए गए; 60 अब भी लापताRead More » महाराष्ट्र: शनिवार को शिंदे सरकार का फ्लोर टेस्ट, असेंबली स्पीकर का भी होगा चुनावRead More » संजय राउत आज दोपहर 12 बजे ED के समक्ष पेश होने वाले हैं ढाई साल बाद पहली बार चीन से बाहर निकले शी जिनपिंग, हांगकांग पहुँचे जुमे की नमाज़ और उदयपुर की घटना को लेकर यूपी के कई शहरों में अलर्ट उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आज रात 8:30 बजे दिल्ली आएंगे सीएम की शपथ से बाद देर रात एकनाथ शिंदे सीधे गोवा में होटल पहुंचे उदयपुर हत्याकांड के मद्देनजर उदयपुर के SP और IG उदयपुर रेंज को हटाया मुंबई के कई इलाकों में आज तेज बारिश को लेकर मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट शिव सेना के सुनील प्रभु ने बागियों के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई आयकर विभाग ने शरद पवार को 2004, 2009, 2014 और 2020 में दायर चुनावी हलफनामों के संबंध में नोटिस भेजा बीजेपी सांसद दिनेश लाल यादव निरहुआ ने अखिलेश यादव को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी महाराष्ट्र: पात्रा चावल भूमि घोटाला मामले में शिवसेना नेता संजय राउत मुंबई में ED कार्यालय पहुंचे

दिल्ली में सरकारी पैसे से बन रहे हज हाउस का VHP ने किया विरोध

देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के द्वारका इलाके में बन रहे हज हाउस (Haj House) को लेकर विरोध शुरू हो गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 11 Aug 2021, 07:48:33 PM
surendra jain

विश्व हिंदू परिषद (VHP) के संयुक्त महासचिव सुरेंद्र जैन (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:  

देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के द्वारका इलाके में बन रहे हज हाउस (Haj House) को लेकर विरोध शुरू हो गया है. इसे लेकर विश्व हिंदू परिषद (VHP) के संयुक्त महासचिव सुरेंद्र जैन (VHP Joint General Secretary Surendra Jain) ने बुधवार को कहा कि दिल्ली के द्वारका इलाके में सरकारी जमीन पर सरकारी पैसे से वहां के लोगों के विरोध के बावजूद हज हाउस बनाने का षड्यंत्र हो रहा है. उन्होंने कहा कि पालम एयरपोर्ट बहुत नजदीक है. इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के तीनों टर्मिनल भी बहुत ज्यादा दूर नहीं है.
 
सुरेंद्र जैन ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि वहां पर पहले से भीड़ है. जब वहां मेवात और अन्य इलाकों से बसें आएंगी तो वहां काफी ट्रैफिक जाम लग जाएगा.  इतने विरोध और इतने संवेदनशील स्थान पर यह सब होने के बाद भी सरकार कोई संज्ञान नहीं ले रही है. इस विरोध पर सरकार प्रतिक्रिया देना भी उचित नहीं समझा है.
 
आपको बता दें कि सावन माह में उत्तराखंड के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने भी कोविड की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए कांवड़ यात्रा को रद्द कर दिया है. योगी सरकार के इस फैसले वीएचपी खुश नहीं है. उसने योगी सरकार ने इस फैसले पर विचार करने को कहा था.
 
विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के अंतरराष्ट्रीय संयुक्त महासचिव सुरेंद्र जैन ने दोनों राज्य सरकारों से अपने फैसले पर पुनर्विचार करने और कोरोनो वायरस प्रतिबंधों के साथ धार्मिक तीर्थ यात्रा की अनुमति देने का आग्रह किया था. इससे पहले विहिप ने योगी सरकार के कानून वन चाइल्ड पॉलिसी पर भी सवाल उठाए थे. वीएचपी के लगातार सवाल उठाने से योगी सरकार की मुश्किलें बढ़ती जा रही है.
 
दरअसल, कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद उत्तराखंड सरकार ने कांवड़ यात्रा पर रोक लगा दी थी. वहीं सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर स्वतः संज्ञान लेते हुए उत्तर प्रदेश सरकार से भी कांवड़ यात्रा को मंजूरी देने के फैसले पर विचार करने को कहा था. सुप्रीम कोर्ट के सख्त रुख के बाद यूपी सरकार ने कांवड़ यात्रा पर रोक लगा दी. यूपी और उत्तराखंड सरकार के कांवड़ यात्रा रद्द करने के फैसले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के अंतरराष्ट्रीय संयुक्त महासचिव सुरेंद्र जैन ने कहा था कि कांवड़ यात्रा हिंदुओं के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण धार्मिक यात्रा है जो देश को एकता में बांधती है. कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया जाना चाहिए लेकिन यात्रा पर प्रतिबंध लगाना सही नहीं है. मेरी उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड सरकारों से अपील है कि वे अपने फैसले पर पुनर्विचार करें और यात्रा की अनुमति दें.

First Published : 11 Aug 2021, 07:48:33 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.