News Nation Logo
Banner

निजामुद्दीन मरकज ने उड़ाई दिल्ली पुलिस की नींद, भरत नगर में ठहरे थे 8 विदेशी

अभी भी पुलिस ऐसे 1600 लोगों को तलाश रही है, जो या तो इस जमात में शामिल हुए है या इनके सम्पर्क में आएं है.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 01 Apr 2020, 08:20:20 AM
tabligi jamat

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

दिल्ली के भरत नगर इलाके के संगम पार्क में ऐसे विदेशी लोगों का पता चला है, जो निजामुद्दीन इलाके में मरकज में शामिल हुए थे. अभी भी पुलिस ऐसे 1600 लोगों को तलाश रही है, जो या तो इस जमात में शामिल हुए है या इनके सम्पर्क में आएं है. इसी तलाशी अभियान को ध्यान में रखकर भरत नगर थाना पुलिस ने संगम पार्क इलाके में पूछताछ शुरू की, तो पता चला की यहां के एक घर में 8 विदेशी नागरिक ठहरे हैं.

यह भी पढ़ें- अमेरिका में इतनी मौत तो 9/11 के हमले में भी नहीं हुई थी, डोनाल्ड ट्रम्प के होश फाख्ता

19 मार्च से यहां ठहरे हुए थे 

गहन पूछताछ के बाद जानकरी में आया कि ये सभी विदेशी नागरिक 19 मार्च से यहां ठहरे हुए थे और सभी निजामुद्दीन मरकज में शामिल हुए थे. ये 8 विदेशी नागरिक किर्गिस्तान के बताए जा रहे हैं. पुलिस अब इसकी भी जांच कर रही है कि ये तमाम लोग और किस-किस के सम्पर्क में आये थे. जानकरी के इनकी फ्लाइट रद्द हो गयी थी, जिसकी वजह से ये यहां रुके हुए थे. बहरहाल इन सभी को क्वरांटाइन के लिए बाहरी दिल्ली के सुल्तान पूरी इलाके में भेज दिया गया है.

यह भी पढ़ें- ईरान से लाए गए 17 भारतीयों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव, जोधपुर AIIMS में मचा हड़कंप

36 सदस्यों में कोरोना वायरस के होने की पुष्टि 

वहीं पाकिस्तान में इस्लामी धर्म प्रचारकों की संस्था तब्लीगी जमात के सदस्यों के देश भर में समूहों में फैले होने ने चिता बढ़ा दी है. पंजाब में तब्लीगी जमात के 47 सदस्यों में कोरोना वायरस की पुष्टि होने के बाद अब सिंध के हैदराबाद में तब्लीगी जमात के 36 सदस्यों में कोरोना वायरस के होने की पुष्टि की गई है. इसके बाद पंजाब प्रांत के अधिकारियों ने यह फैसला किया है कि प्रांत के सभी जिलों में जहां भी संस्था के सदस्य हैं, उन्हें उसी जिले में क्वारंटाइन किया जाएगा.

47 सदस्यों को अलग-थलग रखा गया 

पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि पंजाब के मुख्य सचिव आजम सुलेमान खान ने प्रांत के सभी जिलों में अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे अपने-अपने जिलों में जमात के सदस्यों को क्वारंटाइन करें ताकि इनसे वायरस के संक्रमण के फैलने के अंदेशे को टाला जा सके. पंजाब के कसूर जिले में पहले से ही तब्लीगी जमात के 47 सदस्यों को अलग-थलग रखा गया है. इनमें नाइजीरिया की पांच महिलाएं भी हैं.

कोरोना से ग्रस्त मरीजों की संख्या 43 हो गई

उधर सिंध प्रांत के हैदराबाद शहर में कोरोना से ग्रस्त मरीजों की संख्या 43 हो गई है. इनमें से 36 मरीज तब्लीगी जमात से संबद्ध हैं. अधिकारियों ने बताया कि सिंध में कराची के बाद तब्लीगी जमात का दूसरा सबसे बड़ा मरकज (केंद्र) हैदराबाद स्थि नूर मस्जिद है. इसमें जमात के 200 लोगों को आइसोलेशन में रखा गया था. इनमें से 36 की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. नूर मस्जिद को सील कर दिया गया है.

First Published : 01 Apr 2020, 08:06:16 AM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.