logo-image
लोकसभा चुनाव

Swati Maliwal: स्वाति मालीवाल मारपीट मामला.. 10 बिंदुओं में समझिए अब तक क्या-क्या हुआ?

Swati Maliwal Case: AAP सांसद स्वाति मालीवाल ने दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल के PA विभव कुमार पर मारपीट का आरोप लगाया है. उन्होंने दावा किया कि, उन्हें केजरीवाल के ड्राइंग रूम के अंदर पीटा गया, जिसके बाद ये मामला एक बड़े राजनीतिक विवाद में तबदील हो गया है.

Updated on: 18 May 2024, 09:04 AM

नई दिल्ली:

Swati Maliwal Bibhav Kumar Case: AAP सांसद स्वाति मालीवाल ने दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल के PA विभव कुमार पर मारपीट का आरोप लगाया है. उन्होंने दावा किया कि, उन्हें केजरीवाल के ड्राइंग रूम के अंदर पीटा गया, जिसके बाद ये मामला एक बड़े राजनीतिक विवाद में तबदील हो गया है. वहीं दूसरी ओर मामले में आरोपी विभव कुमार ने दावा किया कि, स्वाति मालीवाल उन्हें झूठे मामले में फंसाने की कोशिश कर रही हैं. दूसरी ओर आम आदमी पार्टी भी स्वाति के आरोपों का खंडन करने में जुटी है. 

स्वाति मालीवाल के साथ मारपीट मामले को 10 पॉइंट्स में समझें...

1. स्वाति मालीवाल द्वारा लगाए गए गंभीर आरोपों का सामना कर रहे विभव कुमार ने शुक्रवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई और दावा किया कि, स्वाति ने अरविंद केजरीवाल के घर के अंदर हंगामा किया. उन्होंने सिविल लाइंस पुलिस स्टेशन में अपनी शिकायत में लिखा कि स्वाति मालीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री के आवासीय क्वार्टर में जबरन घुसना चाहती थीं, उन्होंने दावा किया कि जब विभव ने स्वाति को रोकने की कोशिश की, तो स्वाति मालीवाल ने उन पर शारीरिक हमला करने के इरादे से उनके साथ दुर्व्यवहार किया.

2. विभव कुमार ने दावा किया कि स्वाति मालीवाल ने सुरक्षाकर्मियों को बताया कि वह राज्यसभा सांसद हैं. कुमार ने अपनी शिकायत में बताया कि, सुरक्षा अधिकारियों द्वारा स्वाति की अपॉइंटमेंट डिटेल वेरीफाई होने तक, उन्हें इंतजार करने के लिए कहा गया था, मगर बावजूद इसके वह सीएम आवास में जबरन दाखिल हो गईं. विभव कुमार ने दावा किया कि, जब वह सुबह 9.22 बजे स्वाति मालीवाल के पास पहुंचे तो उन्होंने उन्हें गालियां दीं और कहा, ''तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई एक सांसद को रोकने की?''

3. विभव कुमार ने दावा किया कि स्वाति मालीवाल अरविंद केजरीवाल को नुकसान पहुंचाना चाहती थीं. उन्होंने दावा किया कि गुस्से में आकर उसने पुलिस नियंत्रण कक्ष को फोन किया और झूठे आरोप लगाए. उन्होंने शिकायत में कहा कि आप सांसद ने उन्हें झूठे मामले में फंसाने की धमकी दी.

4. बीते शुक्रवार को एफआईआर में स्वाति मालीवाल के आरोप भी सामने आए. स्वाति मालीवाल ने दावा किया कि विभव कुमार ने उन्हें "पूरी ताकत से बार-बार" मारा और उन्हें "लातें और सात से आठ बार थप्पड़ मारे" उन्होंने दावा किया कि जब उन्होंने बताया कि उसे मासिक धर्म हो रहा है और दर्द हो रहा है तब भी विभर नहीं रुके.

5. इस बीच, आम आदमी पार्टी ने विभव कुमार का समर्थन किया है. आप नेता आतिशी ने कहा कि स्वाति मालीवाल बिना अपॉइंटमेंट के सीएम आवास पहुंची थीं. उन्होंने दावा किया कि वह अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाना चाहती थीं. पार्टी ने एक कथित वीडियो भी जारी किया जिसमें सांसद को केजरीवाल के घर पर सुरक्षाकर्मियों से बहस करते देखा जा सकता है.

6. आतिशी  ने कहा कि, "एक वीडियो सामने आया है जिसने मालीवाल के झूठ को उजागर कर दिया है. अपनी एफआईआर में उन्होंने कहा है कि उनके साथ बेरहमी से मारपीट की गई और वह दर्द में थीं और उनकी शर्ट के बटन फट गए थे, जो वीडियो सामने आया है वह बिल्कुल अलग हकीकत दिखाता है."

7. आतिशी ने कहा कि विभव कुमार पर लगे आरोप बेबुनियाद हैं. उन्होंने दावा किया कि, यह प्रकरण बीजेपी की साजिश का हिस्सा था. उन्होंने यह भी दावा किया कि भाजपा ने अरविंद केजरीवाल को फंसाने के लिए स्वाति मालीवाल का इस्तेमाल किया था.

8. AAP की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद स्वाति मालीवाल ने एक्स पर एक पोस्ट में लिखा कि, सीसीटीवी फुटेज के साथ छेड़छाड़ की जा रही है. प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद उन्होंने आम आदमी पार्टी पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा, ''पार्टी के कल के नेताओं ने 20 साल पुराने एक कार्यकर्ता को भाजपा का एजेंट घोषित कर दिया. दो दिन पहले पार्टी ने एक संवाददाता सम्मेलन में सच्चाई स्वीकार की थी और आज उसने यह कदम उठाया है.'' यू-टर्न,'' उन्होंने एक्स पर हिंदी में लिखा. उन्होंने कहा कि पार्टी ने एक गुंडे के दबाव में हार मान ली है. उन्होंने AAP पर उनके चरित्र पर सवाल उठाने का भी आरोप लगाया है.

9. केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता निर्मला सीतारमण ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में आप के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल की आलोचना करते हुए कहा कि, इस मामले पर बयान देने और माफी मांगने के बजाय, वह "आरोपी विभव कुमार के साथ घूम रहे हैं.

10. इस बीच, पुलिस ने कहा कि उन्होंने आठ सीसीटीवी कैमरों से फुटेज एकत्र किए हैं. वे विभव कुमार का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कुमार का पता लगाने के लिए दो टीमें पंजाब भेजी हैं.