News Nation Logo

कपिल मिश्रा के आरोपों को संजय सिंह ने किया खारिज, कहा- बीजेपी रच रही है 'आप' को खत्म करने की साजिश

आप नेता संजय सिंह ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर आप को खत्म करने की साजिश रचने का आरोप लगाते हुए कहा कि है कि पार्टी ने सभी नियमों का पालन किया है।

IANS | Updated on: 14 May 2017, 10:45:57 PM
कपिल मिश्रा के आरोपों पर आप का जवाब (फाइल फोटो)

highlights

  • कपिल मिश्रा ने लगाया था आरोप, फर्जी कंपनियां बनाकर AAP ने हवाला के जरिए जुटाए पैसे
  • संजय सिंह ने कहा, कपिल के कंधे पर बंदूकर रख कर चला रही है बीजेपी

नई दिल्ली:

दिल्ली सरकार के मंत्रिमंडल और फिर पार्टी से हटाए जा चुके विधायक कपिल मिश्रा के रविवार के आरोपों को आम आदमी पार्टी (आप) ने खारिज कर दिया है। आप नेता संजय सिंह ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर आप को खत्म करने की साजिश रचने का आरोप लगाते हुए कहा कि है कि पार्टी ने सभी नियमों का पालन किया है।

कपिल मिश्रा के 'खुलासे' के बाद संजय सिंह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि बीजेपी और केंद्र सरकार आप को खत्म करना चाहती है। संजय ने आरोप लगाया कि बीजेपी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद कजेरीवाल को बदनाम करना चाहती है।

संजय सिंह ने कहा, 'यह आप की मान्यता और पंजीकरण रद्द करने की साजिश है, जिसमें बीजेपी का पूरा हाथ है। कपिल मिश्रा जो भी कहते हैं, बीजेपी वही दोहराती है और बीजेपी जो कहती है, वही कपिल मिश्रा दोहराते हैं। बीजेपी के नेता जब भ्रष्टाचार के खिलाफ बोलते हैं तो ऐसा लगता है जैसे, डाकू गब्बर सिंह अहिंसा की बात कर रहा हो।'

संजय ने पार्टी पर चंदों को लेकर अनियमितता के संबंध में मिश्रा द्वारा दिखाए गए चेक की वैधता पर भी सवाल उठाए।

यह भी पढ़ें: कपिल मिश्रा का आरोप: फर्जी कंपनियां बनाकर AAP ने हवाला के जरिए जुटाए पैसे, EC को धोखे में रख चंदे की रकम में की हेरा-फेरी

संजय ने कहा, '35-35 करोड़ रुपये के चेक दिखाए गए। किसी ने नहीं पूछा कि ये चेक आए कहां से। फर्जी चेक दिखाए गए। यह तो कोई भी कर सकता है। यहां तक कि मैं भी बीजेपी के नाम पर जारी 70 करोड़ रुपये के चेक दिखा सकता हूं। बीजेपी नेताओं से मैं कहना चाहता हूं कि वे मिश्रा के कंधे पर रखकर बंदूक चलाना बंद करें।'

संजय ने कहा कि राजनीतिक चंदों से जुड़ी अनियमितता के खिलाफ जारी अदालत के आदेश से बचने के लिए बीजेपी ने तत्काल प्रभाव से कानून ही बदल डाला।

यह भी पढ़ें: VIRAL: जोरशोर से हो रही 'पैडमैन' की शूटिंग.. सामने आई अक्षय कुमार-सोनम कपूर की ये तस्वीर

संजय ने सवालिया लहजे में कहा, 'बीजेपी और कांग्रेस ने अपने चंदों की 70-80 फीसदी धनराशि के बारे में कोई खुलासा नहीं किया। बीते 10 वर्षो के दौरान यह राशि कुल 1,000 करोड़ रुपये के बराबर बैठती है। उनका कहना है कि चंदे की यह 70-80 फीसदी धनराशि अज्ञात स्रोतों से मिली। वे स्रोतों का खुलासा करने को तैयार नहीं हैं कि क्या यह राशि हवाला के जरिए आई या विदेशी कंपनियों या संगठनों के जरिए।'

संजय ने कहा कि नोटबंदी के बाद देश की अर्थव्यवस्था में 14.5 लाख करोड़ रुपये की राशि पुराने नोटों के रूप में मौजूद थी, लेकिन बैंकों में कुल 17 लाख करोड़ रुपये जमा हुए।

उन्होंने कहा, 'यह 2.5 लाख करोड़ रुपये किसके थे? क्या यह राशि बीजेपी की थी, कांग्रेस की थी या आतंकवादियों की थी? भारतीय रिजर्व बैंक भी इस संबंध में कोई जानकारी नहीं दे रही। व्यापक भ्रष्टाचार के बावजूद सरकार चुप्पी साधे हुए है।'

यह भी पढ़ें: IPL 2017: पुणे सुपरजाएंट की जीत के साथ प्लेऑफ में पहुंचने वाली चार टीमों के नाम तय

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 14 May 2017, 10:14:00 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.