News Nation Logo
Banner

25 और 26 मई को दिल्ली वाले बचकर, खतरनाक लू चलने की आशंका

दिल्ली वासियों के लिए 25 और 26 मई परेशानी का सबब बनने वाला है. इस दिन कई इलाकों में भयंकर लू चलने की आशंका है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 24 May 2020, 09:21:10 PM
hot wave

खतरनाक लू चलने की आशंका (Photo Credit: PTI)

नई दिल्ली:

दिल्ली वासियों के लिए 25 और 26 मई परेशानी का सबब बनने वाला है. इस दिन कई इलाकों में भयंकर लू चलने की आशंका है. मौसम विभाग के मुताबिक धूल भरी आंधी दिल्ली में गंभीर स्तर तक प्रदूषण को बढ़ाएगी. 25 और 26 मई के लिए अलर्ट जारी किया गया है.

सफर इंडिया वेबसाइट ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि दिल्ली में आने वाले दो दिनों में प्रदूषण का स्तर बढ़ सकता है. दिल्ली-एनसीआर में तापमान बहुत ज्यादा ही बढ़ गया है. गर्म हवाओं से लोगों को परेशानी हो रही है. हालांकि गनीमत है कि लोग लॉकडाउन में बाहर नहीं निकल रहे हैं.

इसके साथ ही उत्तर भारत के कई हिस्सों में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से ऊपर चले जाने के साथ ही भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और राजस्थान के लिए अगले दो दिनों के लिए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है. मौसम विभाग के क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि विभाग ने पूर्वी उत्तर प्रदेश के लिए लू के संबंध में ऑरेंज चेतावनी भी जारी की है. उन्होंने आगाह किया कि अगले दो-तीन दिनों में कुछ हिस्सों में तापमान 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है.

श्रीवास्तव ने कहा कि यह इस गर्मी के मौसम में पहली बार है जब लू को लेकर रेड अलर्ट जारी किया गया है. इस मौसम में, तापमान उस तरह से नहीं बढ़ा जैसा कि यह आमतौर पर उत्तरी और मध्य भारत में बढ़ता है और ऐसा अप्रैल माह में काफी बारिश होने की वजह से हुआ जो मध्य मई तक जारी रही.

शनिवार को राजस्थान के पिलानी में 46.7 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया. मौसम विभाग ने अपने नियमित बुलेटिन में कहा, 'अगले पांच दिनों में पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, विदर्भ और तेलंगाना के कुछ हिस्सों में लू की स्थिति के साथ ही छिटपुट इलाकों में भीषण लू की स्थिति बनी रहेगी.'

इसने बताया कि छत्तीसगढ़, ओडिशा, गुजरात, मध्य महाराष्ट्र और विदर्भ, तटीय आंध्र प्रदेश, यानम, रायलसीमा और उत्तरी आंतरिक कर्नाटक के छिटपुट क्षेत्रों में भी अगले तीन-चार दिनों के दौरान भी लू चल सकती है. लू की स्थिति तब घोषित की जाती है जब अधिकतम तापमान कम से कम 40 डिग्री सेल्सियस हो और सामान्य तापमान में वृद्धि 4.5 डिग्री सेल्सियस से 6.4 डिग्री सेल्सियस तक हो.

मैदानी क्षेत्रों के लिए, लू की स्थिति तब होती है जब अधिकतम तापमान 45 डिग्री हो और भीषण लू उस वक्त चलती है जब यह 47 डिग्री या उससे अधिक हो. श्रीवास्तव ने कहा कि रेड अलर्ट लोगों को आगाह करने के लिए जारी किया गया है कि वे दोपहर एक बजे से शाम पांच बजे तक घर से बाहर न निकलें क्योंकि उस वक्त धूप की तपिश सबसे अधिक होती है.

मौसम विभाग के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के वैज्ञानिक, नरेश कुमार ने कहा कि शुष्क उत्तर-पश्चिमी हवाओं और तमिलनाडु और छत्तीसगढ़ के बीच कम दबाव के क्षेत्र के कारण लू से भीषण लू चलने के लिए स्थिति अनुकूल है. कुमार ने कहा कि राहत केवल 28 मई के बाद ही मिल सकती है जब पश्चिमी विक्षोभ के कारण बारिश हो सकती है.

First Published : 24 May 2020, 09:21:10 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो