News Nation Logo

दिल्ली दंगा पर NSA अजित डोभाल का बड़ा बयान- हिंदू-मुस्लिम में अब कोई झगड़ा नहीं, पुलिस कर रही अपना काम

दिल्ली हिंसा का जायजा लेने के लिए निकले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने कहा कि हम मौके का जायजा लेने आए हैं और हमने यहां पर आकर देखा कि सब शांति है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 26 Feb 2020, 05:31:13 PM
NSA अजित डोभाल

NSA अजित डोभाल (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में देश की राजधानी दिल्ली हिंसा की आग में झुलस रही है. सीएए को लेकर शुरू हुई हिंसा ने दिल्ली में विकराल रूप ले लिया है. इस हिंसा में अबतक 23 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. इस हिंसा को रोकने की जिम्मेदारी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल (Ajit Doval) को दी गई. इसके बाद अजित डोभाल एक बार फिर से नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली के सीलमपुर इलाके में डीसीपी ऑफिस पहुंचे और वहां से स्थिति का जायजा लेने के लिए निकल गए हैं.

यह भी पढे़ंःगृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली दंगा को लेकर अधिकारियों की बुलाई बैठक, ये बन सकती है रणनीति

दिल्ली हिंसा का जायजा लेने के लिए निकले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने कहा कि हम मौके का जायजा लेने आए हैं और हमने यहां पर आकर देखा कि सब शांति है, हिंदू-मुस्लिम में अब कोई झगड़ा नहीं है, स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है. लोग संतुष्ट हैं. मुझे कानून प्रवर्तन एजेंसियों पर भरोसा है. पुलिस अपना काम कर रही है.

अजीत डोभाल ने नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के मौजपुर इलाके में हालात का जायजा लिया. इस दौरान उन्होंने स्थानीय लोगों से बातचीत भी की. अजित डोभाल ने एक महिला से बातचीत करते हुए कहा कि प्रेम की भावना बनकर रहिये. हमारा एक देश है, हम सबको मिल रहना है. देश को मिलकर आगे बढ़ाना है. इससे पहले भी अजित डोभाल जाफराबाद, सीलमपुर समेत नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली के कई इलाकों का डोभाल दौरा कर चुके हैं.

यह भी पढे़ंःदिल्ली हिंसा पर राजनीति नहीं करे कांग्रेस, कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद का बड़ा बयान

पीएमओ के निर्देश पर एक उच्चस्तरीय बैठक बुलाई गई

गृह मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक, अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप वापस अमेरिका लौटे उसके बाद पीएमओ के निर्देश पर एक उच्चस्तरीय बैठक बुलाई गई, जिसमें गृहमंत्री ने हालात की समीक्षा की. गृहमंत्री ने दिल्ली पुलिस के हर वरिष्ठ अधिकारी से बातचीत की और जानकारी ली. फिर एनएसए अजीत डोभाल की भूमिका को सामने लाया गया. इसके बाद एनएसए अजित डोभाल दंगा प्रभावित इलाकों में गए थे.

एनएसए ने पीएम और कैबिनेट को ग्राउंड सिचुएशन की जानकारी दी

दौरे के बाद एनएसए ने पीएम और कैबिनेट को ग्राउंड सिचुएशन की जानकारी दी. एनएसए की इस गहन समीक्षा में ये बात भी सामने आई कि दिल्ली पुलिस को हिंसाग्रस्त अंदरुनी इलाकों में और ज्यादा मौजूदगी बढ़ानी चाहिए. इसके बाद अर्धसैनिक बलों की संख्या को बढ़ाया गया. खुद एनएसए हर पहलू की बारीकी से जानकारी ले रहे हैं और गृहमंत्री को इसकी जानकारी दे रहे हैं. पिछले 24 घंटों में हालात में सुधार हुआ है और हिंसा में कमी आई है, हालात सामान्य की दिशा में भी बढ़ रहे हैं.

सूत्रों के अनुसार, एनएसए अजीत डोभाल आज पीएम नरेंद्र मोदी और कैबिनेट को हालात का ब्यौरा देंगे. वहीं, एनएसए ने साफ कर दिया है कि दिल्ली में अराजकता बर्दाश्त नहीं की जाएगी. पर्याप्त संख्या में पुलिस बल और अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है. स्थिति को नियंत्रण में लाने को पुलिस को फ्री हैंड दिया गया है.

First Published : 26 Feb 2020, 04:56:01 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×