News Nation Logo
NDPS कोर्ट में पेश हुए समीर वानखेड़े रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज साउथ ब्लॉक में रक्षा मंत्रालय के कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया आयुष्मान भारत योजना ने 2 करोड़ से अधिक गरीबों का अस्पताल में मुफ़्त इलाज करवाया: पीएम मोदी फारुख साहब ने भारत सरकार को पाकिस्तान से बात करने की सलाह दी: गृहमंत्री अमित शाह मैं घाटी के युवाओं से बात करना चाहता हूं: गृहमंत्री अमित शाह मैंने घाटी के युवाओं के सामने दोस्ती का हाथ बढ़ाया है: गृहमंत्री अमित शाह सवाल उठाए गए थे कि धारा 370 हटने के बाद घाटी के लोगों की ज़मीन छीन ली जाएगी: गृहमंत्री अमित शाह ये लोग विकास को बांध कर रखना चाहते हैं, अपनी सत्ता को बचाकर रखना चाहते हैं: गृहमंत्री अमित शाह 70 साल से जो भ्रष्टाचार किया है उसको चालू रखना चाहते हैं: गृहमंत्री अमित शाह हमारी फिल्मों को जापान, मिस्र, चीन, रूस, मध्य पूर्व आदि में देखा और सराहा जाता है: उपराष्ट्रपति भारत में दुनिया की सबसे ज़्यादा फिल्में बनती हैं: उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू पीएम मोदी ने किया प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना का शुभारंभ सीएम योगी आदित्यनाथ ने पीएम नरेंद्र मोदी का वाराणसी में स्वागत किया पीएम मोदी ने वाराणसी को दी 5200 करोड़ की विकास परियोजनाएं रजनीकांत को दिल्ली में 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह में दादा साहब फाल्के पुरस्कार मिला आर्यन खान से ड्रग्स चैट को लेकर एनसीबी आज फिर करेगी अनन्या पांडे से पूछताछ गौत्तमबुद्धनगर में डेंगू का प्रकोप जारी. पिछले 24 घंटों में 20 नए मरीज आए सामने सीएम केजरीवाल पहुंचे लखनऊ, शाम को सरयू आरती में होंगे शामिल पूर्व मंत्री रामअचल राजभर और लालजी वर्मा आज सपा में हो सकते हैं शामिल ड्रग्स केस: आर्यन खान से मिलने आर्थर रोड जेल पहुंचीं गौरी खान

निर्भया के गुनहगारों ने चली एक और 'चाल', फांसी से बचने के लिए दोषी विनय ने उठाया ये कदम

निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्या मामले में फांसी की सजा पाए चार दोषियों में से एक विनय शर्मा (Vinay Sharma) ने शुक्रवार को दिल्ली उच्च न्यायालय (High court) का दरवाजा खटखटाया है.

Bhasha | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 13 Mar 2020, 06:09:25 PM
Nirbhaya convict

निर्भया मामले में दोषी विनय शर्मा ने उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया (Photo Credit: फाइल फोटो)

दिल्ली:

निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्या मामले में फांसी की सजा पाए चार दोषियों में से एक विनय शर्मा (Vinay Sharma) ने शुक्रवार को दिल्ली उच्च न्यायालय (High court) का दरवाजा खटखटाया है. दोषी विनय शर्मा ने दावा किया कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram nath kovind) द्वारा उसकी दया याचिका खारिज किए जाने में प्रक्रियागत खामियां और ‘‘संवैधानिक अनियमितताएं’’ थीं.

विनय शर्मा की तरफ से याचिका उसके वकील ए पी सिंह (AP Singh) ने दायर की जिन्होंने कहा कि मामले को दिल्ली उच्च न्यायालय की रजिस्ट्री में दायर किया गया है. याचिका में दावा किया गया है कि दया याचिका खारिज करने के लिए राष्ट्रपति के पास भेजी गई अनुशंसा में दिल्ली के गृह मंत्री सत्येन्द्र जैन के हस्ताक्षर नहीं हैं.

इसे भी पढ़ें:Unnao Gang Rape: अदालत में गिड़गिड़ाया कुलदीप सेंगर, कहा- दो बेटियों का बाप हूं

दया याचिका दायर की गई थी उस समय चुनाव आदर्श आचार संहिता लागू थी 

विनय की दया याचिका राष्ट्रपति ने एक फरवरी को खारिज कर दी थी. याचिका के मुताबिक मामले को जब उच्चतम न्यायालय (Suprme court)  के समक्ष उठाया गया तो केंद्र ने कहा था कि जैन का हस्ताक्षर व्हाट्सएप पर ले लिया गया था. इसने दावा किया कि जब दया याचिका दायर की गई थी उस समय चुनाव आदर्श आचार संहिता लागू थी और जैन उस वक्त केवल विधायक उम्मीदवार थे क्योंकि चुनावों की घोषणा हो चुकी थी और इसलिए वह गृह मंत्री की शक्ति का इस्तेमाल नहीं कर सके.

और पढ़ें:Nirbhay Case: फांसी से बचने के लिए निर्भया के दोषी पवन का नया हथकंडा, कहा- मुझे पीटा गया

20 मार्च को निर्भया के गुनहगारों को लगेगी फांसी

याचिका में आरोप लगाया गया है, ‘दया याचिका खारिज करने के लिए इस्तेमाल की गई शक्तियां अवैध, असंवैधानिक, न्यायिक विफलता और भारत के निर्वाचन आयोग के संवैधानिक मूल्यों की विफलता है.' दिल्ली की एक अदालत ने पांच मार्च को चार दोषियों विनय (26), अक्षय कुमार सिंह (31), मुकेश कुमार सिंह (32) और पवन कुमार गुप्ता (26) को 20 मार्च को फांसी पर लटकाने के लिए मौत का वारंट जारी किया था.

First Published : 13 Mar 2020, 06:09:25 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.