News Nation Logo
Banner

जिस लिव-इन पार्टनर की लाश पर रो रही थी लड़की, वही निकली कातिल

एक युवती जो अपने लिव इन पार्टनर (Live In Partner) की हत्या के बाद फूट-फूट रोती है. पुलिस को हत्या की सूचना देती है

By : Drigraj Madheshia | Updated on: 18 Sep 2019, 07:48:07 PM
प्रतीकात्‍मक चित्र

प्रतीकात्‍मक चित्र

highlights

  • लिव इन पार्टनर का मर्डर करवाया, युवती अपने भाई और जीजा के साथ गिरफ्तार
  • अमर कॉलोनी में नेपाली मूल के युवक की हत्या की गुत्थी सुलझी
  • लिव इन पार्टनर युवती अपने भाई और जीजा के साथ गिरफ्तार

नई दिल्‍ली:

एक युवती जो अपने लिव इन पार्टनर (Live in Partner) की हत्या के बाद फूट-फूट रोती है. पुलिस को हत्या की सूचना देती है. इसकी सहेलियां उसे खुद को संभालने की हिम्मत देती नजर आ रही थीं. घर के अंदर एक युवक की हत्या की यह सनसनीखेज वारदात बीती 10 सितंबर को अमर कॉलोनी इलाके में हुई थी. एक सप्ताह की जांच के बाद पुलिस ने कातिल के चेहरे से पर्दा उठाया तो पता चला कि युवक की हत्या पर घड़ियाली आंसू बहाने वाली युवती ने ही उसके कत्ल की तारीख तय की थी. 

पुलिस का कहना है कि पश्चिम बंगाल निवासी अनीता नाम की युवती करीब दो साल से अपने पहले पति को छोड़कर अमर कॉलोनी में नेपाली मूल के सुनील नामक के युवक के साथ लिव इन में रहने लगी थी. सुनील एक रेस्त्रा में वेटर का काम करता था. समय के साथ उनके संबंध खराब होने लगे.

यह भी पढ़ेंः अंधेरे के आगोश में समा रहा विक्रम लैंडर, डूबने लगी है उम्मीद की हर किरण

अनीता का कहना है कि सुनील की नौकरी छूट गई थी. वह उससे रुपये की मांग करता था. मारपीट करने लगा था. इसलिए वह उससे पीछा छुड़ाना चाहती थी. इसलिए अपने भाई और जीजा को पश्चिम बंगाल से बुलाकर उसका मर्डर करवा दिया. भाई पहले से ही सुनील और उसके रिश्ते के खिलाफ था.

बेहद शातिराना तरीके से कत्ल करवाया, फिर पुलिस को भटकाया

पुलिस को 10 सितंबर को सुनील की लाश उसके घर में मिली थी. उसकी गर्दन के पिछले हिस्से पर चाकू से वार किया गया था. उस रात घर में कोई नहीं था. अगली सुबह अनीता घर पहुंची तो सुनील की लाश देखकर पुलिस को सूचना दी. वह लाश पर फूट-फूटकर रोती नजर आयी. उसकी लिव इन पार्टनर अनीता से पूछताछ की गई.

यह भी पढ़ेंः Video: चीन सीमा के पास लद्दाख में गरजे भारतीय टैंक, आसमान से पैराट्रूपर्स उतारे गए

अनीता ने पुलिस को बरगलाने के लिए पूरा प्लान बनाया था. उसने बताया कि वह वारदात वाली रात ग्रेटर नोएडा में अपनी सहेली के घर रुकी थी. वह देर रात तक सुनील से व्हाट्स एप पर चैटिंग भी कर रही थी, सबूत के तौर पर चैटिंग भी दिखा दी. इस वजह से पुलिस की जांच को दिशा नहीं मिल रही थी.

यह भी पढ़ेंः पाकिस्‍तान के ये घुसपैठिए चट कर जा रहे हैं 35000 लोगों का खाना, राजस्‍थान के इतने जिले प्रभावित

पुलिस ने सुनील से जुड़े लोगों से पूछताछ की. अन्य एंगल से भी तफ्तीश जारी रखी. आखिरकार शक की सुई अनीता के ऊपर जाकर ही टिक गई. अनीता से कड़ाई से पूछताछ की गई तो पता चला कि उसने वारदात से दो दिन पहले पश्चिम बंगाल से अपने भाई विजय और जीजा राजेंद्र को बुला लिया था.

यह भी पढ़ेंः हर दिन 1237 हादसे, हर घंटे 17 मौत, इस मौसम में सबसे ज्‍यादा Accidents 

उन्हें सुनील की प्रताड़ना के बारे में बताकर उसे ठिकाने लगाने की साजिश रची थी. प्लानिंग के तहत अनीता वारदात वाली रात ग्रेटर नोएडा अपने सहेली के घर चली गई. घर में उसके भाई और जीजा सुनील के साथ रुके थे. वो दोनों आधी रात को रसोई के चाकू से सुनील का कत्ल करके आनंद विहार स्टेशन से ट्रेन पकड़कर फरार हो गए.

डीसीपी ने बताया कि घर के आसपास सीसीटीवी कैमरा नहीं होने की वजह से दोनों की फुटेज नहीं मिली थी. अनीता के कबूलनामे के बाद एक टीम पश्चिम बंगाल भेजी गई. वहां से अजय और राजेंद्र को अरेस्ट कर लिया.

First Published : 18 Sep 2019, 04:21:53 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×