News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

Lockdown का दिल्ली में खतरा बढ़ा, येलो अलर्ट से कुछ ही दूर संक्रमण दर

जीआरएपी के तहत संक्रमण दर जब 0.5 फीसदी होता है तो अगले दो दिन के लिए ‘येलो’ अलर्ट शुरू हो जाता है और कई तरह के प्रतिबंध लगा दिए जाते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 26 Dec 2021, 10:16:37 AM
Delhi Lockdown

13 जून के बाद दिल्ली में आए सर्वाधिक कोरोना मामले. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • दिल्ली में कोरोना संक्रमण की दर 0.43 प्रतिशत तक पहुंची
  • येलो अलर्ट शुरू होने के लिए 0.5 प्रतिशत से कुछ ही पीछे
  • येलो अलर्ट में 10 बजे रात से सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू का प्रावधान

नई दिल्ली:

दिल्ली में रात का कर्फ्यू, स्कूलों-कॉलेजों व गैर-जरूरी सामानों की दुकानों को बंद करने और मेट्रो ट्रेनों में बैठने की क्षमता आधी होने की आशंका है, क्योंकि दिल्ली में कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण की दर 0.43 प्रतिशत तक पहुंच गई है, जो चरणबद्ध प्रकिया कार्य योजना यानी जीआरएपी के तहत येलो अलर्ट शुरू होने के लिये 0.5 प्रतिशत से कुछ ही पीछे है. दिल्ली में शनिवार को कोविड-19 (COVID-19) के 249 नए मामले सामने आए, जो 13 जून के बाद सबसे अधिक है. इससे संक्रमण दर 4.46 प्रतिशत हो गई है और कुल मामले 14,43,062 हो गए हैं. यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग ने दी. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार यह वृद्धि 13 जून के बाद सबसे अधिक है. उस तारीख को राष्ट्रीय राजधानी में 0.35 प्रतिशत की संक्रमण दर के साथ 255 मामले दर्ज किए गए थे. इस बीच एक मरीज ने शनिवार को दम तोड़ दिया, जिससे दिल्ली (Delhi) में कोविड से कुल मौतों की संख्या 25,104 हो गई.

0.5 संक्रमण दर पर शुरू होता है येलो अलर्ट
चार स्तरीय जीआरएपी के तहत संक्रमण दर जब 0.5 फीसदी होता है तो अगले दो दिन के लिए ‘येलो’ अलर्ट शुरू हो जाता है और कई तरह के प्रतिबंध लगा दिए जाते हैं. यदि यह चेतावनी जारी की जाती है तो अप्रैल लॉकडाउन से चरणबद्ध तरीके से फिर उभरने के कुछ ही महीनों बाद राजधानी में अधिकांश गतिविधियां दोबारा थम जाएंगी. दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कोविड की तीसरी लहर को देखते हुए जुलाई में जीआरएपी को मंजूरी दी थी. इसका उद्देश्य कोविड की स्थिति के आधार पर प्रतिबंध लगाने और हटाने की एक स्पष्ट व्यवस्था बनाई गई है. 

यह भी पढ़ेंः Omicron मामूली लक्षणों के साथ देश में बढ़ेगा, वैक्सीन करेगी मददः कोएत्जी

100 फीसदी आबादी को लग चुकी है पहली डोज
गौरतलब है कि येलो अलर्ट के दौरान 10 बजे रात से सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू लगाने का प्रावधान है, जबकि रेड अलर्ट (Red Alert) के दौरान पूरा कर्फ्यू लगाया जाता है. टीकाकरण के मोर्चे पर शनिवार को 1,14,311 लाभार्थियों को वायरस के खिलाफ टीका लगाया गया. टीकाकरण का कुल आंकड़ा 2,54,48,583 हो गया. पिछले 24 घंटों में 52,444 परीक्षण किए गए. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार शाम कहा था कि 148.33 लाख लाभार्थियों के साथ, दिल्ली ने अपनी 100 प्रतिशत आबादी को टीके की पहली खुराक देने का काम पूरा कर लिया है.

First Published : 26 Dec 2021, 10:16:37 AM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.