News Nation Logo

मंत्री राजेंद्र पाल गौतम को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करें केजरीवाल :भाजपा

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 07 Oct 2022, 03:11:08 PM
New Delhi

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली:  

दिल्ली  में बीजेपी और आम आदमी पार्टी एक बार फिर आमने सामने आ गई है. ताजा मामला दिल्ली सरकार के मंत्री राजेंद्र पाल गौतम पर देवी-देवताओं का अपमान करने का आरोप लगाते हुए भाजपा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से उन्हें अपने मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने की मांग की है.

दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने दिल्ली सरकार के मंत्री राजेंद्र पाल गौतम के वीडियो का हवाला देते हुए उन पर आरोप लगाया है कि मंत्री राजेंद्र पाल ने हिन्दुओं का अपमान किया है आगे उन्होंने कहा कि उन्होंने हिंदू धर्म के देवी-देवताओं का अपमान किया है और अगर अरविंद केजरीवाल अपने आपको वास्तव में धर्मनिरपेक्ष, सच्चा और ईमानदार  मानते हैं तो उन्हें बिना किसी देर के 24 घंटे के अंदर राजेंद्र पाल गौतम को अपने मंत्रिमंडल से बर्खास्त करना चाहिए. आगे उन्होंने कहा कि ऐसे व्यक्ति को तो आम आदमी पार्टी को अपने राजनीतिक दल में भी नहीं रखना चाहिए.

वहीं दिल्ली से भाजपा लोक सभा सांसद मनोज तिवारी ने अरविंद केजरीवाल के डबल स्टैंडर्ड पर सवाल उठाते हुए कहा कि केजरीवाल कहते हैं कि सब इंसान बराबर है और सभी जाति-धर्म के लोगों में आपसी भाईचारा होना चाहिए लेकिन उनकी सरकार के मंत्री राजेंद्र पाल गौतम धर्मों को आपस में लड़ाने की साजिश कर रहे हैं. तिवारी ने केजरीवाल से तुरंत अपने मंत्री राजेंद्र पाल गौतम को बर्खास्त करने की मांग करते हुए कहा कि ऐसे व्यक्ति को संवैधानिक पद पर रहने का अधिकार नहीं है.

मनोज तिवारी ने आगे आरोप लगाते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी अपने नेताओं के खिलाफ चल रही जांच से बौखला गई है. लेकिन भाजपा आम आदमी पार्टी नेताओं की इस तरह की हरकत को कतई बर्दाश्त नहीं करेगी. भाजपा आप मंत्री के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराएगी.

दरअसल मंत्री राजेन्द्र गौतम एक बौध कार्यक्रम मेें गये थे जिसमें वो और मंच पर मौजूद लोग हिन्दु देवी देवताओं को न मानने की कसम खा रहे है जिसका वीडियों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. 

 

First Published : 07 Oct 2022, 03:11:08 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.