News Nation Logo
Banner

दिल्ली: तुगलकाबाद में गैस लीक से 450 छात्राएं बीमार, दिल्ली सरकार ने गैस डिपो को जारी किया नोटिस

दक्षिणी दिल्ली में शनिवार सुबह रासायनिक कंटेनर से हुई गैस लीक के कारण दो कन्या विद्यालयों की 300 से अधिक छात्राएं बीमार हो गईं, जिन्हें अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Singh | Updated on: 07 May 2017, 08:50:04 AM

highlights

  • दिल्ली के तुगलकाबाद इलाके में गैस लीक, 300 बच्चे अस्पताल में भर्ती
  • केजरीवाल सरकार ने दिए जांच के आदेश, आस-पास के स्कूलों को खाली कराया गया
  • मुख्यमंत्री केजरीवाल ने अस्पताल जाकर बीमार छात्राओं से की मुलाकात

नई दिल्ली:

दिल्ली सरकार ने शनिवार सुबह रसायनिक कंटेनर से हुई गैस लीक मामले में तुगलकाबाद गैस डिपो मालिक को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

बता दें कि दक्षिणी दिल्ली में रासायनिक कंटेनर से हुई गैस लीक के कारण दो कन्या विद्यालयों की 450 से अधिक छात्राएं बीमार हो गईं, जिन्हें अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। 

पुलिस का कहना है, 'सुबह करीब 7:35 बजे तुगलकाबाद डिपो के कस्टम इलाके में कोई रासायनिक पदार्थ रिसने के बारे में फोन कॉल आई थी।'

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) ने कहा कि क्लोरोमिथाइल पायराइडीन के 80 कैन लेकर एक ट्रक तड़के 3:30 बजे तुगलकाबाद से सोनीपत के लिए निकला था।

उसने कहा, 'डिपो से बाहर आने के बाद चालक ने चाय पीने के लिए ट्रक तुगलकाबाद में रेलवे कॉलोनी के पास सड़क किनारे खड़ा किया। इस दौरान कोई रासायनिक पदार्थ सड़क पर गिर गया। चाय पीने के बाद चालक सोनीपत के लिए निकल गया। संदेह है कि चीन से आया रासायनिक पदार्थ कंटेनर चढ़ाये या उतारे जाते समय छिड़क गया था।'

शनिवार सुबह गैस लीक के कारण छात्राओं ने सिरदर्द व चक्कर आने की शिकायत की। बाद में दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी अस्पताल जाकर छात्राओं का हाल जाना। केजरीवाल ने कहा,'स्थिति नियंत्रण में है। डॉक्‍टरों ने कहा है कि चिंता करने की कोई बात नहीं है।'

पुलिस के अनुसार, तुगलकाबाद इलाके में रासायनिक कंटेनरों से हुई गैस लीक के कारण रानी झांसी सर्वोदय कन्या विद्यालय और सरकारी कन्या उच्चतर माध्यमिक स्कूल, नंबर 2 की छात्राओं ने आंखों व गले में जलन की शिकायत की। करीब 30 छात्राएं बेहोश हो गईं। अधिकांश छात्राओं को प्राथमिक उपचार के बाद अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, 'तुगलकाबाद में एक कंटेनर डिपो से क्लोरो (मिथाइल) डाइफेनिलसिलेन रसायन लीक होने के बाद छात्राओं का विभिन्न अस्पतालों में इलाज किया गया।'

उन्होंने कहा, 'हम इसकी जांच कर रहे हैं कि रासायनिक गैस का रिसाव कैसे हुआ।' अधिकारी ने बताया कि इस रसायन का भारत में आयात किया जाता है।

छात्राओं को पास के चार अस्पतालों- बत्रा अस्पताल, अपोलो अस्पताल, मजीदिया अस्पताल और ईएसआई अस्पताल ले जाया गया।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अस्पतालों का दौरा करने के बाद बताया कि उन्होंने चिकित्सकों से बात की है और छात्राओं की हालात 'सामान्य' है।

और पढ़ें: जब जेल में बंद शहाबुद्दीन के फोन पर लालू यादव ने कहा, 'लगाओ फोन एसपी को'

उन्होंने कहा कि डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा, 'मैंने स्वास्थ्य मंत्री से बात की है। उन्होंने आपात स्थिति को संभालने के लिए चिकित्सकों की एक टीम गठित की है।'

सिसोदिया ने बताया कि इलाके में सभी स्कूलों को आज के लिए बंद कर दिया गया है और परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। स्थिति की समीक्षा सोमवार को की जाएगी।

दिल्ली अग्निशमन सेवा के एक अधिकारी ने बताया कि उन्हें गैस लीक से संबंधित कॉल सुबह 7.43 बजे मिली, जिसके बाद तीन दमकल वाहनों को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया। सेंट्रलाइज्ड एक्सीडेंट एंड ट्रॉमा सर्विस (कैट्स) के 17 एंबुलेंस स्कूल भेजे गए।

आईपीएल 10 से जुड़ी हर बड़ी खबर के लिए यहां क्लिक करें

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 06 May 2017, 09:20:00 AM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.