News Nation Logo
Banner

80 किलोमीटर दूर चल कर आई लाश, जानें क्या है पूरा माजरा

पूर्वी दिल्ली के न्यू अशोक नगर इलाके में दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है.

News Nation Bureau | Edited By : Vikas Kumar | Updated on: 22 Feb 2020, 01:35:20 PM
80 किलोमीटर दूर चल कर आई लाश

80 किलोमीटर दूर चल कर आई लाश (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

पूर्वी दिल्ली के न्यू अशोक नगर इलाके में दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है. जहां पर मृतक शीतल चौधरी के पिता माँ और पूरा परिवार मिलकर हत्या कर देते है. जी हां, पड़ोस मैं रहने वाले अंकित भाटी से शीतल को प्यार हो जाता है और करीब तीन साल तक दोनों परिवार को मालूम नही चलता है. बाद मे अंकित और शीतल अक्टूबर के महीने आर्य समाज मे जाकर चुपके से दोनों शादी कर लेते है. बाद मे जब परिवार को मालूम चलता है कि दोनों ने चुपके से शादी किया है. तो शीतल का पूरा परिवार समझने की कोशिश करते है, मगर शीतल कुछ नही समझती. 18 फरवरी की रात शीतल को उसकी माँ और पिता और उसके साथ पूरा परिवार मिलकर उसका गला घोंटकर हत्या कर देते है.

उसकी लाश को लेकर पूरा परिवार गाड़ी डालकर उसे करीब 80 किलोमीटर तक अलीगढ़ इलाके के जावा नहर में फेकर आ जाते है. बाद मे जब अंकित शीतल को कई बार फोन करता है मगर उसका फोन ऑफ बताता है और अंकित उसकी किडनेपिंग का मुकदमा पास के न्यू अशोक नगर में FIR दर्ज करवा देता है. पुलिस भी आनन-फानन में शीतल के घर जाकर पूछताछ करती है तो उनका कहना था कि शीतल अपने फूफा के घर चली गयी है, मगर जब पुलिस वहां भी जाती है तो खाली हाथ लौटना पड़ता.

यह सिलसिला चलता रहता है. बाद में थाना अशोक नगर पूरे परिवार की कॉल डिटेल निकलती है तो पूरा परिवार शक के घेरे मैं आ जाता है. फिर क्या थाना अशोक नगर सभी परिवार से अलग अलग तरीके से पूछताछ करती है तो बाद मैं खुलासा होता है कि अपनी बेटी शीतल की हत्या खुद उनके पूरे परिवार ने मिलकर हत्या कर के अलीगढ़ की नहर में फेक आए हैं.

30 जनवरी को यूपी पुलिस को शीतल की लाश मिलती है और 2 फरवरी को यूपी पुलिस शीतल की लाश का अंतिम संस्कार कर देती है और उसके कपड़े और जिस्म के समान रख लेती है.

यह भी पढ़ें: Happiness Class पर हुई राजनीति, मेलेनिया ट्रंप के संग नहीं होंगे सीएम केजरीवाल और मनीष सिसोदिया

उधर दिल्ली पुलिस की टीम जब अलीगढ़ के आसपास के कई थानों मैं संपर्क करते है तो उनको शीतल की लाश के बारे मे बताया जाता है और उसकी पुलिस कपड़े और फ़ोटो से सिन्नाखत कर लेती है कि यह शीतल की लाश है.

यह भी पढ़ें: 'भूत' से टकराई 'शुभ मंगल ज्यादा सावधान', आयुष्मान को लेकर विक्की कौशल ने कही ये बड़ी बात

उधर हत्या के बाद शीतल का परिवार लाश को सफेद रंग की वैगनआर कार के अंदर सीट मैं बैठाकर उसकी माँ और पिता लेकर चले जाते है और दूसरी गाड़ी मैं शीतल का फूफा और उसके बेटे के साथ लाश को लेकर घूमते रहते है और करीब 80 किलोमीटर के बाद उस लाश को नहर मैं फेकर आराम से घर आ जाते हैं. बरहाल पुलिस ने परिवार के सभी आरोपी माँ सुमन,पिता रविन्द्र, ताऊ संजय, फूफा ओम प्रकाश, फूफा का बेटा परवेश, और दामाद अंकित को हिरासत मैं लेकर जांच मैं जुट गई है.

First Published : 22 Feb 2020, 01:34:57 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.