News Nation Logo

Exclusive: CAA के खिलाफ शाहीन बाग में हो रहे प्रोटेस्ट को लेकर FIR दर्ज करने को तहरीर दी

वेद भूषण ने प्रदर्शनकारियों के खिलाफ शाहीन बाग पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई है. उन्होंने एसएचओ को तहरीर देकर एफआईआर दर्ज कराने की मांग की थी.

Mohit Raj Dubey | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 19 Jan 2020, 07:44:08 PM
शाहीनबाग में CAA के खिलाफ प्रदर्शन पर बैठीं महिलाएं

शाहीनबाग में CAA के खिलाफ प्रदर्शन पर बैठीं महिलाएं (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

नई दिल्ली:  

CAA के खिलाफ शाहीन बाग में हो रहे विरोध प्रदर्शन को लेकर पहली FIR दर्ज की गई है. दिल्ली पुलिस के पूर्व असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ पुलिस वेद भूषण शर्मा ने एफआईआर दर्ज करवाई है. पिछले एक महीने से शाहीनबाग में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन किया जा रहा है. प्रदर्शनकारी नोएडा-दिल्ली रोड पर प्रदर्शन कर रहे हैं. जिसके चलते रोड को जाम कर दिया है. लोगों को दिल्ली से नोएडा आने के लिए काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. दिल्ली वाले इस रास्ते से नोएडा नहीं आ सकते हैं. 

यह भी पढ़ें- VIDEO: BJP कार्यकर्ताओं ने महिला डिप्टी कलेक्टर के खींचे बाल, CAA का कर रहे थे समर्थन

वेद भूषण ने प्रदर्शनकारियों के खिलाफ शाहीन बाग पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई है. उन्होंने एसएचओ को तहरीर देकर एफआईआर दर्ज कराने की मांग की थी. उन्होंने लिखा कि वे नोएडा गौतमबुद्ध नगर के रहने वाले हैं और उनका ऑफिस दिल्ली के आईटीओ के पास है. उन्हें ऑफिस जाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है. वे पिछले 35 दिनों से दूसरे रोड से जा रहे थे. इसके लिए उन्हें पैसा और समय दोनों ज्यादा खर्च करने पड़ रहे हैं.

यह भी पढ़ें- VIDEO: रेस्टोरेंट लॉन्चिंग के दौरान बीजेपी-कांग्रेस कार्यकर्ता आपस में भिड़े, चलीं कुर्सियां

उन्होंने कहा कि वे पिछले 35 दिनों से इसे किसी तरह से मैनेज कर रहे हैं, लेकिन अब बर्दास्त से बाहर है. वेद भूषण रविवार को जब कार से शाहीन बाग होते हुए ऑफिस जा रहे थे, तो प्रदर्शनकारियों ने उन्हें घेर लिया. उन्हें जाने नहीं दिया. उनलोगों ने बेरिकेड्स को हटाने से साफ इंकार कर दिया. कुछ लोगों ने नारेबाजी करने लगे और उन्हें जान से मारने की धमकी देने लगे. उन्होंने कहा कि वे लोगों को पहचान सकते हैं अगर उनके सामने लाया गया तो. साथ ही उन्होंने कहा कि ये लोग गैरकानूनी प्रदर्शन कर रहे हैं. इसे जल्द यहां से हटाना चाहिए.

वहीं इससे पहले दिल्ली पुलिस ने शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों से कालिंदी कुंज-शाहीन बाग मार्ग को खोलने की अपील की थी. अधिकारियों ने कहा कि विरोध प्रदर्शन के कारण दिल्ली एनसीआर के निवासियों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में दिल्ली के शाहीन बाग क्षेत्र में लोग एक महीने से धरना-प्रदर्शन पर बैठे हैं. यह सड़क नोएडा और दिल्ली को जोड़ने का काम करती है और विरोध प्रदर्शन के कारण नोएडा यातायात पुलिस ने उसे बंद कर दिया है.

First Published : 19 Jan 2020, 07:00:12 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.