News Nation Logo
Banner

CAA पर पुलिस से भिड़े जामिया के छात्र, खाईं लाठियां, 12 पुलिसकर्मी भी घायल, मेट्रो स्टेशन बंद

नागरिकता संशोधन कानून पर विरोध के चलते जनपथ-पटेल चौक मेट्रो स्टेशन को किया बंद

By : Sushil Kumar | Updated on: 14 Dec 2019, 06:37:37 AM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

नई दिल्ली:

नागरिकता संशोधन कानून पर विरोध के चलते जनपथ-पटेल चौक मेट्रो स्टेशन को किया बंद है. ट्रेन इन स्टेशनों पर नहीं रूकेगी. स्टेशन पर प्रवेश और निकास दोनों को बंद कर दिया है. यात्री अभी इन स्टेशनों से यात्रा नहीं कर सकेंगे. जामिया के छात्रों ने सड़क पर उतर नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जमकर विरोध कर रहे है. छात्र संसद भवन तक मार्च कर रहे हैं. मार्च को रोकने के लिए दिल्ली पुलिस भारी संख्या में तैनात हैं.

मार्च को रोकने के लिए पुलिस ने छात्रों पर लाठी चार्ज किया. इसके बाद छात्र और उग्र प्रदर्शन करने लगे. बढ़ते भीड़ को देखते हुए दिल्ली पुलिस की सलाह पर दिल्ली मेट्रो रेल निगम ने दोनों मेट्रो स्टेशन को बंद कर दिया है. बता दें कि दोनों मेट्रो स्टेशन जनपथ-पटेल चौक संसद भवन के नजदीक हैं. पटेल चौक स्टेशन यलो लाइन पर मौजूद है, जबकि जनपथ कश्मीरी गेट से राजा नाहर सिंह जाने वाली वायलट लाइन का हिस्सा है. इन दोनों स्टशनों पर अभी ट्रेनें नहीं रुकेंगी. 

जामिया में हुए पथराव में 12 पुलिस कर्मी घायल हुए हैं, जिनमें 2 को फेस और सर पर गंभीर चोट की वजह से आईसीयू में भर्ती करवाया गया है. अभी हालात खतरे से बाहर
हैं. कुल 42 छात्रों को पुलिस ने हिरासत में लिया है. वहीं दिल्ली पुलिस ने भीड़ को रोकने के लिए अबतक 30 आंसू गैस के गोले छोड़े हैं. इस उग्र प्रदर्शन में दो मीडियाकर्मी भी घायल हो गए हैं. छात्र लगातार पुलिस पर पत्थरबाजी कर रहे हैं. जिसके चलते कई पुलिसकर्मी भी घायल हो गए हैं. पुलिस ने छात्रों पर लाठियां बरसाई हैं. जिसके चलते कई छात्र घायल हो गए हैं. उधर, पुलिस ने विरोध प्रदर्शन को देखते हुए संसद मार्ग के नजदीक ट्रैफिक पर कुछ प्रतिबंध लगाए हैं. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के मुताबिक, संसद मार्ग से टॉलस्टॉय मार्ग को जाने वाले मार्ग को बंद कर दिया गया है.

दिल्ली पुलिस के जवान यूनिवर्सिटी के गेट से पीछे हट गए हैं. प्रदर्शनकारी छात्र और स्थानीय युवक खुद से बैरिकेड लगाकर जामिया गेट नंबर 1 के रास्ते को जाम कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि जामिया यूनिवर्सिटी में दोपहर 2 बजे नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने के लिए बड़ी संख्या में छात्र जमा हुए थे. 3 बजे सांसद जाने से रोका तो बवाल हो गया. प्रदर्शन क्षेत्र के आसपास के रास्ते को भी बंद कर दिया गया है.

भीड़ को रोकने के लिए पुलिस मौके पर मौजूद हैं. इसके अलावा जंतर-मंतर पर भी इसका विरोध किया जा रहा है. मुस्लिम संगठन के लोग वहां पहुंच कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. वहीं यूपी के अलीगढ़ में तनाव की स्थिति को देखते हुए भारी संख्या में फोर्स तैनात कर दिया गया है. इंटरनेट सेवा पूरी तरह बंद कर दी गई है. इसके पहले नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में एएमयू में गुरुवार को प्रदर्शन हुआ था. विद्यार्थियों के आंदोलन का स्वराज पार्टी के संस्थापक योगेंद्र यादव व गोरखपुर आक्सीजन कांड के चर्चित डॉ. कफील खान ने समर्थन किया.

First Published : 13 Dec 2019, 04:39:08 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×