News Nation Logo
Banner

उत्तर पूर्वी दिल्ली की स्थिति का जायजा लेने के बाद अमित शाह से मिले NSA अजित डोभाल, दंगा पर दी ये जानकारी

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल (Ajit Doval) ने बुधवार को गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) को उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजूदा हालात के बारे में जानकारी दी.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 26 Feb 2020, 07:58:41 PM
उत्तर पूर्वी दिल्ली की स्थिति का जायजा लेने के बाद शाह से मिले डोभाल

उत्तर पूर्वी दिल्ली की स्थिति का जायजा लेने के बाद शाह से मिले डोभाल (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल (Ajit Doval) ने बुधवार को गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) को उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजूदा हालात के बारे में जानकारी दी, जहां सांप्रदायिक हिंसा में कम-से-कम 22 लोग मारे जा चुके हैं. अधिकारियों के मुताबिक, अजित डोभाल ने राष्ट्रीय राजधानी के दंगा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के बाद शाह से उनके नॉर्थ ब्लॉक स्थित दफ्तर में मुलाकात की. यह एनएसए का 24 घंटे से भी कम समय के भीतर हिंसा प्रभावित इलाकों का दूसरा दौरा था.

यह भी पढ़ेंः महबूबा मुफ्ती की PSA में नजरबंदी के खिलाफ याचिका पर HC ने जम्मू-कश्मीर प्रशासन से मांगा ये जवाब

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी का कहना है कि एनएसए अजित डोभाल ने गृह मंत्री को उत्तर पूर्वी दिल्ली में मौजूदा कानून व्यवस्था की स्थिति तथा वहां हालात सामान्य करने के लिए उठाये जा रहे कदमों के बारे में जानकारी दी. बैठक में केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला, गुप्तचर ब्यूरो (आईबी) के निदेशक अरविंद कुमार तथा दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक भी शामिल हुए. उत्तर पूर्वी दिल्ली में तीन दिन पहले भड़की हिंसा में अब तक कम से कम 22 लोग मारे जा चुके हैं और 200 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. दंगा प्रभावित क्षेत्रों में जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, यमुना विहार, भजनपुरा, चांद बाग और शिव विहार प्रमुख हैं.

दंगा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालात नियंत्रण में : एनएसए डोभाल

NSA अजित डोभाल ने दंगा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली के कुछ इलाकों का दौरा करने के बाद बुधवार को कहा कि हालात नियंत्रण में है और पुलिस अपना काम कर रही है. कुछ स्थानों पर उनका गर्मजोशी से अभिवादन किया गया, जबकि एक स्थान पर दो उत्तेजित लोगों ने हिंसा के बारे में उनसे शिकायत की. पिछले 24 घंटे से कम अवधि में दंगा प्रभावित क्षेत्रों की डोभाल की यह दूसरी यात्रा है. जाफराबाद में एक लड़की उनके पास चलकर आई और उसने कहा कि वह इलाके में सुरक्षित महसूस नहीं कर रही है. उसने आरोप लगाया कि जब दंगाई तबाही मचा रहे थे तब पुलिस निष्क्रिय थी.

यह भी पढ़ेंःदिल्ली दंगा पर NSA अजित डोभाल का बड़ा बयान- हिंदू-मुस्लिम में अब कोई झगड़ा नहीं, पुलिस कर रही अपना काम

इस पर उन्होंने कहा कि मैं आपसे कहना चाहता हूं कि यहां सभी लोग सुरक्षित हैं. उन्होंने पुलिसकर्मियों से इस बात को सुनिश्चित करने को कहा कि लड़की सुरक्षित अपने घर पहुंचे. उन्होंने कहा कि लोगों में एकता का भाव है, कोई शत्रुता नहीं है। कुछ अपराधी इस तरह का काम करते हैं. लोग उन्हें अलग-थलग करने का प्रयास कर रहे हैं। पुलिस यहां है और अपना काम कर रही है.

NSA बोले- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के निर्देश पर यहां हैं वे

अजित डोभाल ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के निर्देश पर यहां हैं। उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि स्थिति नियंत्रण में है और लोग संतुष्ट हैं. हमें कानून लागू करने वाली एजेंसियों पर भरोसा है. पुलिस अपना काम कर रही है और सतर्क है. उन्होंने कहा कि पुलिस जोर-शोर से काम कर रही है. सिर्फ कुछ अपराधी इसमें शामिल थे. लोगों को मुद्दों का समाधान करने का प्रयास करना चाहिए, न कि उसे बढ़ाने का. पहले घटनाएं हुईं, लेकिन आज शांति है। स्थानीय लोग शांति चाहते हैं. हमें पूरा विश्वास है कि शांति होगी.

इंशा अल्लाह यहां पर बिल्कुल अमन होगा: डोभाल

उन्होंने कहा कि इंशा अल्लाह यहां पर बिल्कुल अमन होगा. डोभाल को हिंसा को रोकने की जिम्मेदारी सौंपी गई है. इससे पहले, उन्होंने सीलमपुर में पुलिस उपायुक्त (उत्तर पूर्व) के कार्यालय में दिल्ली पुलिस के आला अधिकारियों के साथ बैठक की. अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) मनदीप सिंह रंधावा, नव नियुक्त विशेष पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव, विशेष पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) सतीश गोलचा, उत्तर पूर्वी दिल्ली के डीसीपी वेद प्रकाश आर्य भी बैठक में शामिल थे. यह बैठक 30 मिनट से अधिक समय तक चली.

डोभाल ने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ की थी बैठक

अजित डोभाल ने मंगलवार देर रात भी दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ इसी तरह की बैठक की थी. उत्तर पूर्वी दिल्ली में तीन दिन पहले शुरू हुई सांप्रदायिक हिंसा में अब तक कम से कम 22 लोगों की मौत हुई है और 200 से अधिक लोग घायल हुए हैं. जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, यमुना विहार, भजनपुरा, चांद बाग, शिव विहार मुख्य रूप से दंगों से प्रभावित हुए हैं.

First Published : 26 Feb 2020, 07:58:41 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×