News Nation Logo
दिल्ली के राजीव गांधी अस्पताल में फ्री डायलिसिस बंद पीपीपी मॉडल का है डायलिसिस सेंटर पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से की मुलाकात 12 देशों के मुसाफिरों के लिए गाइडलाइन्स जारी ओमीक्रोन पर DDMA की हाईलेवल मीटिंग अगले आदेश तक दिल्ली में निर्माणकार्य पर रोक निर्माण से जुड़े मजदूरों को सरकारी मदद दी जाएगी दिल्ली में पब्लिक ट्रांसपोर्ट बढ़ाया जाएगा ओमीक्रोन से निपटने के लिए हम पूरी तरह तैयार: मनीष सिसोदिया संसद के दोनों सदनों से कृषि कानून वापसी बिल पास कृषि कानूनों की वापसी का बिल पारित होना जान गंवाने वाले किसानों को श्रद्धांजलि है: राकेश टिकैत एमएसपी समेत अन्य मुद्दे लंबित रहने के कारण विरोध जारी रहेगा: राकेश टिकैत हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल पास दक्षिण अफ्रीका से महाराष्ट्र लौटा शख्स कोरोना पॉजिटिव आम आदमी पार्टी नहीं होगी विपक्षी दलों की बैठक में शामिल

Delhi Violence: दिल्ली में हिंसा की खबरें महज अफवाह, पुलिस बोली- हालात सामान्य स्थिति में

दिल्ली में एक बार फिर हिंसा भड़कने की खबर है. हालांकि, दिल्ली पुलिस का कहना है कि यह पूरी तरह अफवाह है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 01 Mar 2020, 11:40:31 PM
delhi police pro

दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएस रंधावा (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

दिल्ली में हिंसा (Delhi Violence) भड़कने की खबर थी. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) का कहना है कि यह पूरी तरह अफवाह है. बताया जा रहा है कि मदनपुर खादर, पालम, महावीर एन्क्लेव, मंगलापुरी इलाके से हिंसा की खबर आ रही थी. लोगों ने अपने घरों का दरवाजा बंद कर दिया था, जबकि दुकानदार अपनी दुकानों को बंद कर भाग रहे थे. हालांकि, देर रात 11 बजे तक स्थिति बिल्कुल सामान्य हो गई थी. वहीं, पुलिस का कहना है कि पूरी दिल्ली में शांति बरकरार है और लोग अफवाहों पर ध्यान न दें. हालांकि, पश्चिमी दिल्‍ली के तिलक नगर इलाके में हिंसा की अफवाह गलत है, वहां हालात सामान्‍य हैं. तिलकनगर समेत 7 मेट्रो स्टेशन के गेट फिर से खोल दिए गए हैं.

यह भी पढ़ेंःDelhi Violence: दिल्ली में शांति व्यवस्था बरकरार, 254 FIR दर्ज; 903 लोग गिरफ्तार या हिरासत में

दिल्ली पुलिस पीआरओ एमएस रंधावा का कहना है कि कुछ लोगों को अफवाह फैलाने के आरोप में हिरासत में लिया गया है और उनके खिलाफ मामले दर्ज किए जा रहे हैं. अफवाह फैलाने और भड़काऊ टिप्पणी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

दिल्ली के पालम-डाबड़ी रोड पर स्थित सुलभ इंटरनेशनल के पास से दंगे की खबर आ रही थी. बताया जा रहा था कि दो गुटों के बीच झड़प हो गई है, जिससे लोगों में भगदड़ मच गई है. इसके अलावा ही महावीर एन्क्लेव की गली नंबर-5 से आगजनी की भी सूचना थी. इसके अलावा ही महावीर एन्क्लेव की गली नंबर- 6, 7, 8, 9 में लोग भाग रहे थे. हालांकि, सिर्फ अफवाहों के कारण लोगों में भगदड़ मची थी, कहीं कोई हिंसा नहीं भड़की हुई है. वहीं, स्थानीय लोगों का कहना है कि लोगों को उस इलाके में जाने से रोका जा रहा था. वहां के लोगों ने इसकी सूचना देने के लिए पुलिस की हेल्पलाइन नंबर 100, 112 पर फोन किया, लेकिन फोन नहीं उठा.  

पालम में भी शांति व्यवस्था बरकारः पुलिस

पालम पुलिस स्टेशन की पुलिस का कहना है कि दिल्ली में शांति है, कहीं कोई दंगे या हिंसा की खबर नहीं है. लोगों को अफवाहों से बचना चाहिए. वहीं, जमीनी स्तर पर हकीकत देखने पर पता चलता है कि हिंसा की अफवाह फैलते ही लोगों में भगदड़ मच गई, लेकिन मौके पर कोई पुलिसवाला नहीं दिखा. अगर यह अफवाह था तो पुलिस को लोगों के बीच जाकर इसकी सूचना देनी चाहिए थी, लेकिन ऐसा नहीं किया गया.

नसीरपुर सब्जी मंडी में कुछ दुकानों को जलाने की बात सामने आ रही है. पता चल रहा है कि कई दुकानदारों के साथ भी मारपीट की गई है. हालांकि, अभी तक पुलिस के किसी अधिकारी ने इसकी पुष्टि नहीं की है. नसीरपुर सब्जी मंडी से ये भी खबर आ रहा है कि दंगाइयों ने कई लोगों को भी अपना निशाना बनाया है. हालांकि, इसमें भी कोई सच्चाई नहीं है. 

वहीं, हरकेश नगर में हिंसा की अफवाहें उड़ा दी गई थीं. सभी दुकानें बंद कर दी गई थीं. लोग अपने-अपने घरों के बाहर खड़े हैं. 

यह भी पढ़ेंःशरद पवार का दिल्ली हिंसा को लेकर मोदी सरकार पर निशाना, कहा- Delhi में BJP नहीं जीती तो...

दिल्ली के कई इलाकों में हिंसा की इस अफवाह में कई दुकानदार बिना सामान अंदर रखे ही दुकान का शटर गिराकर भाग निकले. आज रविवार था, कई लोग छुट्टी के चलते अपने परिवार के साथ घूमने निकले थे. जब वापस लौटे तो उन्हें घर जाने नहीं दिया गया. हालांकि, बाद में अफवाह के कारण मची अफरातफरी कम होने पर लोग अपने घर गए. इस दौरान लोग अपने रिश्तेदार और नातेदार को फोन कर हालचाल ले रहे थे.

डीसीपी शालिनी सिंह ने कहा- अफवाह में कोई सच्चाई नहीं है

वहीं, पश्चिमी दिल्‍ली की डीसीपी शालिनी सिंह ने ट्वीट कर कहा कि अफवाहें सबसे बड़ी दुश्‍मन होती हैं. ऐसी अफवाह उड़ रही है कि पश्चिमी जिले के ख्‍याला-रघुबीर नगर इलाके में कुछ तनाव है. हालांकि, इसमें कोई सच्‍चाई नहीं है. सभी शांति बनाए रखें, क्‍योंकि हालात बिल्‍कुल सामान्‍य हैं.

ज्वाइंट सीपी वेस्टर्न रेंज बोले- यह सट्टा रैकेट पर रेड था, जिससे भगदड़ मच गई

ज्वाइंट सीपी वेस्टर्न रेंज के अनुसार, ख्याला इलाके में पुलिस सादे लिबास में सट्टा रैकेट पर रेड मारने गई थी. पुलिस को देख सट्टेबाज भागे तब पुलिस ने भी पीछा किया. इस भागमभाग को देख कुछ लोग भी आसपास भागने लगे. लोगों को लगा हिंसा हो गई है. पुलिस ने स्थिति संभाली और उन्हें तुरंत समझाया कि ये सट्टे की रेड है तब जाकर माहौल शांत हुआ. हालांकि, तब तक दहशत और अफवाह दोनों अपना काम कर गई थी और बाजारों में शटर गिर चुके थे.

उन्होंने आगे कहा कि दिल्ली में बिंदापुर ख्याला जैतपुर आदि जगहों पर दंगों की अफवाह फैल रही है, सिर्फ पुलिस अधिकारी नहीं लोकल सोर्सेस से भी दंगों की अफवाह ही सामने आ रही है. दिल्ली पुलिस सोशल मीडिया के जरिए भी अफवाह को फैलने से रोकने की कोशिश कर रही है.

रंधावा ने कहा कि पूरे शहर में स्थिति सामान्य है

दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएस रंधावा का कहना है कि पूरे शहर में स्थिति सामान्य है, वरिष्ठ अधिकारी स्थिति की निगरानी कर रहे हैं. कुछ घबराहट भरे कॉल आ रहे हैं, मैं दिल्ली के लोगों से कहना चाहूंगा कि वे उन पर ध्यान न दें. उन्होंने आगे कहा कि हमें पश्चिम दिल्ली, दक्षिण पूर्वी दिल्ली, मदनपुर खादर, राजौरी गार्डन, हरि नगर, और ख्याला से कुछ कॉल आए हैं. लोग घबराए हुए थे, लेकिन इन स्थानों पर स्थिति सामान्य है. पुलिस सोशल मीडिया की निगरानी कर रही है और अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेगी.

First Published : 01 Mar 2020, 08:44:11 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.