News Nation Logo

Delhi Violence: दिल्ली के भजनपुरा और उस्मानपुर में फिर भड़की हिंसा, अबतक 27 लोगों की हुई मौत

NSA अजित डोभाल (National Security Advisor Ajit Doval) ने अब राजधानी (Capital City Delhi) में हो रही हिंसा पर अब एक्शन लेने का फैसला लिया है

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 26 Feb 2020, 09:50:15 PM
दिल्ली हिंसा

दिल्ली हिंसा (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर उत्तर पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा में अब ,तक 13 लोगों की मौत की पुष्टी हो चुकी है. भीड़ गलियों में बेरोकटोक घूम रही थी. भीड़ में शामिल लोगों ने दुकानों को आग लगा दी, पथराव किया और स्थानीय लोगों को धमका रहे थे. राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी इलाके में तनाव के दूसरे दिन हिंसा चांदबाग और भजनपुरा सहित कई क्षेत्रों में फैल गई. इस दौरान पथराव किया गया दुकानों को आग लगाई गई. डोनाल्ड ट्रंप के जाते ही गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने देर रात फिर दिल्ली में कानून व्यवस्था को लेकर दिल्ली पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की.


NSA अजित डोभाल (National Security Advisor Ajit Doval) ने अब राजधानी (Capital City Delhi) में हो रही हिंसा पर अब एक्शन लेने का फैसला लिया है. इसके लिए एनएसए अजित डोवाल दिल्ली के डिप्टी कमिश्नर ऑफ पोलिस से मिले हैं और उन्होंने North-East दिल्ली सहित सीलमपुर की सुरक्षा का जायजा लिया.

Scroll Down to read more

मौजपुर में एक बार फिर से तनावपूर्ण माहौल है. भजनपुरा सोम बाजार में कुछ दुकानों में तोड़फोड़ आगजनी और गोलियां चली हैं. 

उस्मानपुर के तीसरे पुश्ते पर फिर से हिंसा शुरू हो गई है. 

मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने कहा कि देश की राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा की घटनाएं व इसमें अभी तक 22 लोगों की मौत होने की घटना बेहद दुःखद, बेहद निंदनीय है. इस हिंसा को रोकने के लिये कड़े क़दम उठाए जाना बेहद आवश्यक है. आख़िर शांत देश की राजधानी को हिंसा की आग में किसने झोका, कौन है इसका ज़िम्मेदार, किसकी असफलता है, यह भी सामने आना चाहिए. हम सभी को मिलकर शांति की अपील व शांति के लिए प्रयास करना चाहिए.

उत्तर पूर्वी जिले के भजनपुरा और गोंडा के गांवड़ी रोड पर एक बार फिर से हिंसा हो रही है. पुलिस अभी तक नहीं पहुंच पाई है. सुरक्षा बल और फायर सर्विसेज की गाड़ियां सीलमपुर से मूव कर रही हैं.

रजनीकांत ने कहा कि यह एक खुफिया विफलता है और इसलिए गृह मंत्रालय भी विफल रहा. विरोध शांतिपूर्ण तरीके से हो सकता है. यदि हिंसा भड़कती है तो इसे लोहे के हाथों से निपटा जाना चाहिए.



गुरु तेग बहादुर (जीटीबी) अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक सुनील कुमार ने कहा कि उपचार के दौरान मरने वालों की संख्या बढ़कर 25 हो गई.



दिल्ली हिंसा में अबतक मरने वालों की संख्या 27 पहुंच गई है.

सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने दंगा प्रभावित इलाके में स्थानीय निवासियों से बातचीत की.



भारत में अमेरिकी दूतावास ने अपने नागरिकों के लिए सलाह जारी किया है कि पूर्वोत्तर दिल्ली में हिंसक प्रदर्शनों के मद्देनजर सावधानी बरतें.



दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता एमएस रंधावा ने कहा कि सीसीटीवी के आधार पर कार्रवाई की जाएगी. नार्थ ईस्ट दिल्ली हिंसा में अबतक 106 लोग गिरफ्तार किए गए हैं. अगर कही कोई हिंसा की घटना हो तो इस नंबर 22829334, 22829334 पर तुरंत सूचना दे. अब तक 18 एफआईआर दर्ज की गई है.

नार्थ ईस्ट दिल्ली में हुई हिंसा के मद्देनजर होने वाली महत्वपूर्ण बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ नार्थ ईस्ट जिला के डीएम शशि कौशल, SDM, सब डिविजनल मजिस्ट्रेट शामिल होने होंगे. 

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया नार्थ साउथ दिल्ली डीसीपी दफ्तर पहुंचे. यहां दोनों पुलिस बल के साथ दंगा प्रभावित इलाके का जायजा लेने गए हैं.

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल अमित शाह से मिलने गृह मंत्रालय पहुंचे.



नार्थ पूर्वी दिल्ली के संवेदनशील क्षेत्रों का दौरा करने के बाद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलने के लिए गृह मंत्रालय पहुंचे हैं.



राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल डीसीपी नॉर्थ ईस्ट के दफ्तर पहुंचे हैं. यहां से अजित डोभाल हालात का जायजा लेंगे.

जीटीबी अस्पताल में जमीयत उलेमा हिंद के लोग पहुंचे हैं. इन लोगों ने दंगा प्रभावित इलाकों का दौरा भी किया है. इनका कहना है अब स्थिति कंट्रोल में है. ये कोई भी पीड़ित चाहे वो हिन्दू हो या मुस्लिम उसे अगर मदद की जरूरत होगी तो हम करेंगे.

गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के हालात पर अधिकारियों के साथ बुलाई है. इस बैठक में गृह सचिव, आईबी चीफ और दूसरे आला अधिकारी शामिल हैं.

दिल्ली में हुई मौत पर दिल्ली हाईकोर्ट ने भी कंसर्न दिखाया है. कोर्ट ने कहा है कि आईबी ऑफिसर की मौत काफी दुर्भाग्यपूर्ण है.



दिल्ली के 5 ऑईपीएस ऑफिसर्स का तबादला किया गया है. SD Mishra ACP Rohini की पोस्टिंग  ACP Traffic के पद पर हुई, MS Randhawa ACP (Central District) की पोस्टिंग ACP (Crime), Pramod Mishra DCP की पोस्टिंग DCP (Rohini), S Bhatia DCP IGI Airport की पोस्टिंग DCP (Central District) के पद पर हुई है. 

नार्थ दिल्ली में हुई हिंसा में अब तक 21 लोगों के मरने की खबर है. दिल्ली के हालात पर एनएसए अजित डोभाल स्थिति का जायाजा ले रहे हैं. 


 

दिल्ली के लोक नायक जय प्रकाश नारायण हॉस्पिटल के ऑफिशियल डेटा के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में 22 लोग इंजर्ड अस्पताल में भर्ती किए गए जबकि 1 आदमी की मौत हो गई.



केंद्रीय गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) ने दिल्‍ली के हिंसाग्रस्‍त इलाकों में सेना की तैनाती की मांग को खारिज कर दिया है. गृह मंत्रालय का कहना है कि अभी सेना तैनात करने की कोई जरूरत नहीं है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने हिंसाग्रस्त इलाकों में सेना की तैनाती की मांग की थी. सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने कहा कि हिंसा प्रभावित इलाकों में पर्याप्त संख्या में अर्धसैनिक बल दिल्ली पुलिस को मुहैया करवाए गए हैं.

कांग्रेस के सीनियर लीडर रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस को एक मार्च आयोजित करना था और आज राष्ट्रपति को एक ज्ञापन देना था लेकिन उन्होंने बताया कि वह उपलब्ध नहीं हैं और कल हमें समय दिया गया है. उनके उच्च पद के सम्मान को देखते हुए, हमने कल के लिए मार्च स्थगित कर दिया है.



कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दिल्ली में हो रही हिंसा पर केंद्र सरकार, गृहमंत्री और अरविंद केजरीवाल सरकार को जिम्मेदार ठहराया.




साथ ही उन्होंने दिल्ली पुलिस की नाकामी पर भी बड़ी बात कही है कि दिल्ली पुलिस अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन नहीं कर पा रही है. 



CISF, SSB, CRPF और दिल्ली पुलिस ने गोकुलपुरी के भागीरथी विहार में मार्च किया.



दिल्ली पुलिस ने नोटिफिकेशन जारी कर ये कहा है कि अगर कोई भी दिल्ली हिंसा में संलग्न लोगों के बारे में कुछ भी बताना चाहता है तो वो इन अफसरों से संपर्क कर सकता है. 



दिल्ली में हिंसा को लेकर सीनियर कांग्रेस लीडर ने राष्ट्रपति भवन की ओर मार्च किया.



सीलमपुर में धारा 144 लागू

सीलमपुर में पुलिस ने धारा 144 लागू कर दी है. पुलिस ने अनाउंसमेंट की - अभी तुम्हे प्यार से बताया जा रहा है, फिर शक्ति से बताया जाएगा. दुकानें बंद करो यहां. 



गृह मंत्रालय सूत्रों  के हवाले से बताया जा रहा है कि दिल्ली के हालात को देखते हुए अर्ध सैनिक बलों की संख्या बढ़ाई गई हैं. दिल्ली में अब तक 45 अर्ध सैनिक बलों की कंपनियां तैनात हो चुकी हैं. कल तक 37 अर्द्ध सैनिक बलों की कम्पनियां तैनात थी. 800 अतिरिक्त अर्धसैनिक जवानों की तैनाती पिछले एक दिनों में बढ़ाई गई है. अर्धसैनिक बलों के जवान  दिल्ली की कानून व्यवस्था में दिल्ली पुलिस का सहयोग करेंगे . गृह मंत्रालय की पूरे मामले पर नज़र है, फिलहालत जो रिपोर्ट गृह मंत्रालय को मिली है उसके मुताबिक वो स्थिति को नियंत्रण में मान रहा हैं.

इन हालातों पर सीएम अरविंद केजरीवाल का बयान भी सामने आया है. उन्होंने कहा, मैं सारी रात काफी सारे लोगों के संपर्क में रहा. सारी कोशिशों के बावजूद पुलिस स्थिति को कंट्रोल करने और आत्मविश्वास बढ़ाने में असमर्थ है. ऐसे में बाकी प्रभावित क्षेत्रों में भी सेना को कर्फ्यू लगा देना चाहिए. मैं गृहमंत्री अमित शाह को इस बारे में लिख रहा हूं


 


 



दिल्ली हिंसा में अब तक 20 की मौत

गुरू तेग बहादुर हॉस्पिटल के मेडिकल सुप्रीटेंडेंट सुनील कुमार गौतम ने जानकारी दी कि 189 लोग जो कि हॉस्पिटल लाए गए थे उनमें से 20 लोगों की मौत हो चुकी है. 



दिल्ली के बाबरपुर इलाके में सुरक्षाकर्मियों ने फ्लैग मार्च किया. 



दिल्ली उच्च न्यायालय ने न्यायिक जांच की मांग, मृतकों को मिलने वाले मुआवजे और कई राजनीतिक नेताओं को कथित रूप से विवादित भाषण देने के लिए गिरफ्तार करने की याचिका पर सुनवाई करने जा रहा है. 



दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ये स्थिति काफी चिंताजनक है. पुलिस हर संभव प्रभाव के बावजूद स्थिति को संभालने में नाकाम रही है. सीएम केजरीवाल ने कहा है कि इस स्थिति से निबटने के लिए आर्मी को बुलाया जाना चाहिये और दंगा प्रभावित इलाकों में कर्फ्यू लगा देना चाहिए. उन्होंने जानकारी दी कि वो एक लेटर होम मिनिस्टर को भी लिख चुके हैं.



नोएडा, दिल्ली में आगजनी के माहौल को देखते हुए प्रशासन ने शराब की दुकानों को बंद करवाने का निर्देश जारी किया है.



सरकारी सूत्रों के मुताबिक एनएसए ने स्पष्ट कर दिया है कि राष्ट्रीय राजधानी में अराजकता नहीं रहने दी जाएगी और पर्याप्त संख्या में पुलिस बल और अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है। स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए पुलिस को फ्री हैंड दिया गया है



वहीं सरकारी सूत्रों का कहना है कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल को दिल्ली की हिंसा को काबू में लाने की जिम्मेदारी दी गई है. वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कैबिनेट को स्थिति की जानकारी देंगे. उन्होंने मंगलवार रात को जाफराबाद, सीलमपुर और उत्तर पूर्वी दिल्ली के बाकी इलाकों का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने अलग-अलग समुदाय के लोगों से बात भी की.



मरने वालों की संख्या में एक बार फिर इजाफा हो गया है. दिल्ली हिंसा में अब तक 18 लोगो की मौत हो गई है.



इस बीच गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली हिंसा में घायल हुए शाहदरा के DCP अमित शर्मा के परिवार से बात की और उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली



दिल्ली हिंसा में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर अब 17 हो गई है



कोर्ट ने दिल्‍ली पुलिस को निर्देश दिया कि घायलों को पास के सरकारी हॉस्पिटल पहुंचाने के लिए सुरक्षित रास्ता मुहैया कराएं.


 

वहीं दिल्‍ली हिंसा को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट  के जज जस्टिस मुरलीधर के घर रात एक बजे विशेष सुनवाई हुई. इस सुनवाई में जस्टिस मुरलीधर और जुस्टिस अनूप भंभानी की बेंच ने दिल्ली पुलिस को निर्देश दिया कि वो न्यू मुस्तफाबाद इलाके के अल हिन्द हॉस्पिटल में भर्ती दंगा पीड़ितों को सुरक्षित बेहतर सुविधाओं वाले दूसरे सरकारी अस्पतालों में पूरी सुरक्षा के साथ शिफ्ट कराए

पिछले कुछ दिनों से जारी हिंसा के बाद बुधवार सुबह से ही सुरक्षाबल मौजपुर, सीलमपुर और गोकुलपुरी में तैनात है



For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 26 Feb 2020, 08:26:58 AM