News Nation Logo

Delhi Violence: AAP के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन दोषी या निर्दोष? दिल्ली पुलिस ने किया ये खुलासा

दिल्ली पुलिस के एसीपी अजीत सिंगला ने रविवार को प्रेसवार्ता में बताया कि घटना की जांच के दौरान आरोपी आप पार्षद ताहिर की भी बात सुनी जाएगी.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 03 Mar 2020, 11:59:05 PM
tahir hussain

AAP के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) में शामिल होने का आरोप झेल रहे आप के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) इस तरह की किसी भी घटना में शामिल होने से साफ इनकार कर रहे हैं. दिल्ली पुलिस इस मामले में ताहिर के बयान के आधार पर भी उनसे पूछताछ करेगी. दिल्ली पुलिस के एसीपी अजीत सिंगला ने रविवार को प्रेसवार्ता में बताया कि घटना की जांच के दौरान आरोपी आप पार्षद ताहिर की भी बात सुनी जाएगी. उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस के सूत्रों का कहना है कि ताहिर हुसैन को बचाव की जरूरत नहीं थी. 24-25 फरवरी की रात को पार्षद के फंसने की खबर पुलिस को मिली थी. जांच के बाद पता चला कि पार्षद अपने घर में सुरक्षित थे.

यह भी पढ़ेंःदिल्ली पुलिस का खुलासा- शाहरुख ने तैश में आकर गोली चलाई थी, पिता के क्रिमिनल रिकार्ड हैं

ताहिर के खिलाफ मुकदमा दर्ज

आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है. दिल्ली पुलिस ने दयालपुर पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 302 के तहत एफआईआर दर्ज की है. आपको बता दें कि 'आप' पार्षद पहले से ही दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) का मास्टर माइंड होने का आरोप लग रहा है. आम आदमी पार्टी (AAP) के पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) पर आरोप लग रहा है कि हिंसा भड़काने में उनका हाथ है. हिंसा में मारे गए इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) के कर्मचारी अंकित शर्मा के परिजनों ने ताहिर हुसैन पर हत्या करने का आरोप लगाया है. इस पर ताहिर हुसैन ने खुद को निर्दोष बताया है और कहा है कि इस मामले में पूरी जांच होनी चाहिए.

यह भी पढ़ेंःपुलवामा हमलाः NIA ने तारिक अहमद शाह और बेटी इंशा जान को किया गिरफ्तार, आतंकियों का ऐसे करते थे मदद

अबतक 46 लोगों की हो चुकी है मौत

दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) में अब तक कुल 46 लोगों की जान जा चुकी है, जबकि 200 से भी ज्यादा लोग इस हिंसा में घायल हो गए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो, आईबी के ऑफिसर अंकित शर्मा की मौत के पीछे आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन की भूमिका संदिग्ध बताई जा रही है. ताहिर के छत पर से भारी मात्रा में पेट्रोल बम, पत्थर और गुलेल पाया गया है. इसके अलावा वहां पर बोतले और दंगाइयों द्वारा हमले के लिए इस्तेमामल की जाने वाली कई चीजें बरामद की गई हैं इससे यह उम्मीद लगाई जा रही है कि आईबी के स्टाफर अंकित की हत्या भी ताहिर और उनके समर्थकों ने कराया होगा.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 03 Mar 2020, 06:14:18 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.