News Nation Logo
Banner

दिल्ली: बड़े हमले की साजिश कर रहे थे आतंकी, पुलिस की मुस्तैदी से हुआ नाकाम

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल दिल्ली में होने वाली बड़ी आतंकी साजिश को अपनी मुस्तैदी से नाकाम कर दिया है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने चार कश्मीरी आतंकियों को दिल्ली में आतंकी हमले की साजिश रचते हुए गिरफ्तार किया.

Written By : अवनीश चौधरी | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 04 Oct 2020, 06:38:24 AM
terrorist arrested in delhi

गिरफ्तार कश्मीरी आतंकियों के साथ पुलिस (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्‍ली:

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल दिल्ली में होने वाली बड़ी आतंकी साजिश को अपनी मुस्तैदी से नाकाम कर दिया है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने चार कश्मीरी आतंकियों को दिल्ली में आतंकी हमले की साजिश रचते हुए गिरफ्तार किया. दिल्ली पुलिस ने इन चारो कश्मीरी आतंकियों के पास से दिल्ली पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किए. दिल्ली पुलिस ने इन आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया है. 

आपको बता दें कि गिरफ्तार किए गए इन आतंकियों में से एक आतंकी कश्मीर के बुरहान कोका का भाई भी है जिसका नाम छोटा बुरहान है इसके अलावा इश्फाक मजीद नामका एक आतंकी भी गिरफ्तार किया गया है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इन आतंकियों को गिरफ्तार कर उन्हें अदालत में पेश किया जहां अदालत ने चारों रेडिकलाइज कश्मीरियों को 4 दिन के रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया है.

दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार
दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने चार कट्टरपंथी कश्मीरी युवाओं के एक समूह को गिरफ्तार किया है, जो दिल्ली में आतंकी हमले के लिए प्लान और हथियार जमा कर रहे थे. कई दिनों से दिल्ली में रुके हुए थे. इनके पास से120 से अधिक राउंड, चार पिस्तौल, 5 मोबाइल और एक का रिकवर हुई है. सेल के अनुसार 02.10.2020 को, एक स्रोत की जानकारी प्राप्त हुई कि कट्टरपंथी कश्मीरी युवाओं का एक समूह जो पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में डेरा डाले हुए थे, उन्होंने पहले से ही हथियारों का भारी मात्रा में जमा किया है और वे इस क्षेत्र में और उसके आसपास आईटीओ और दरियागंज में देखे गए हैं.

आतंकियों के पास से बरामद हुआ भारी मात्रा में हथियार
डीसीपी स्पेशल सेल प्रमोद कुशवाहा के अनुसार, गजवत उल हिंद के अपने हैंडलर के निर्देशों के अनुसार, वे 27-09-2020 को दिल्ली आए. उनके हैंडलर ने हथियार-गोला-बारूद की खरीद के लिए अपने बैंक खाते से पैसे भी ट्रांसफर किए. दिल्ली में रहने के दौरान, उन्होंने अपने हैंडलर के निर्देश पर हथियार और गोला-बारूद इकट्ठा किया. उनके पास एक सनसनीखेज आतंकवादी गतिविधि संचालित करने की योजना थी और उसके बाद, उन्हें जम्मू-कश्मीर में अल-कायदा के एक आक्रामक संगठन अंसार गजवत उल हिंद में औपचारिक रूप से शामिल किया जाएगा.

इश्फाक मजीद से प्रेरित था कोका
जानकारी के अनुसार, आईटीओ के पास टीम ने रिंग रोड से सभी आरोपी कुछ दूर पीछा करने के बाद गिरफ्तार कर लिए. प्रारंभिक पूछताछ में पता चला कि इश्फाक मजीद कोका को जिहाद के कारण काम करने के लिए अंसार गजवत उल हिंद के वर्तमान प्रमुख द्वारा प्रेरित किया गया था. इश्फाक मजीद कोका ने अल्ताफ अहमद डार को प्रेरित किया, जो एक विक्रेता के रूप में अपनी कपड़ों की दुकान में काम करते हैं.

अप्रैल में 19 घंटे के एनकाउंटर में मारा गया था बुरहान कोका
आपको बता दें कि इसके पहले छोटा बुरहान का भाई बुरहान कोका को सुरक्षा कर्मियों ने सोपियां में 19 घंटों की मुठभेड़ के बाद ढेर किया था. आपको बता दें कि बुरहान कोका गजवा-उल-हिंद का जिला कमांडर था. इस एनकाउंटर में कोका के साथ उसके दो साथी भी मारे गए थे. सुरक्षाबलों ने मारे गए तीनों आतंकवादियों के शवों और उनसे बरामद हथियार व गोलाबारूद को अपने कब्जे में ले लिया था. 

First Published : 03 Oct 2020, 06:08:20 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो