News Nation Logo
Banner

पांच दिनों तक मां को आत्महत्या के लिए उकसाता रहा बेटा, नहीं मानी तो...

पुलिस जांच में पता चला है कि एलेन ने पांच दिन पहले मां को आत्महत्या करने के लिए मजबूर किया था

IANS | Updated on: 20 Oct 2019, 01:58:03 PM
बेटे ने की मां की हत्या

बेटे ने की मां की हत्या (Photo Credit: प्रतिकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

दिल्ली से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है जिसमें एक बेटा अपनी मां को पांच दिनों तक आत्महत्या के लिए उकसाता रहा और फिर नहीं मानी तो उनकी हत्या कर दी. दिल्ली यूनिवर्सिटी के सेंट स्टीफेंस कॉलेज के युवा तदर्थ शिक्षक ने मां की हत्या करने के बाद आत्महत्या कर ली. शिक्षक का नाम एलेन स्टेनले है जिसकी उम्र 25 साल बताई जा रही है. घटना शनिवार की है. एलेन का शव रेलवे लाइन पर पड़ा मिला. दिल्ली पुलिस के मुताबिक, 'एलेन तर्दथ शिक्षक थे. उनके खिलाफ केरल में आईपीसी की धारा-306 के तहत एक आपराधिक मामला दर्ज था. घर में मृत मिली एलेन की मां का नाम लेसी बताया जा रहा है. 55 साल की लेसी के खिलाफ भी आत्महत्या के लिए उकसाने का केस केरल में चल रहा है. इन दिनों आत्महत्या को उकसाने वाले मामले में दोनों अंतरिम जमानत पर थे.'

यह भी पढ़ें: मुजफ्फरपुर में रंगदारी न देने पर होमगार्ड के बेटे को सिर में मारी गई गोली, आरोपी फरार

पुलिस जांच में पता चला है कि एलेन ने पांच दिन पहले मां को आत्महत्या करने के लिए मजबूर किया था. इसके बाद भी जब मां ने आत्महत्या नहीं की, तो एलेन ने उन्हें मार डाला. पुलिस को घर में मां लेसी का शव फंदे पर लटका हुआ मिला था. इस सिलसिले में पुलिस एलेन का शव रेलवे ट्रैक पर मिलने से पहले ही हत्या का मामला रानीबाग थाने में दर्ज कर चुकी थी. पुलिस लेसी की हत्या की जांच में जुटी रहकर उनके बेटे एलेन को भी तलाश रही थी. एलेन का शव मगर शनिवार को सराय रोहिल्ला रेलवे स्टेशन के पास स्थित रेलवे लाइन पर पड़ा मिल गया.

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी में पिकअप गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त, 3 लोगों की मौत, 20 से ज्यादा घायल

दिल्ली पुलिस एक अधिकारी ने रविवार को बताया, "सराय रोहिल्ला स्टेशन पर दयाबस्ती की ओर वाली रेलवे लाइन के प्लेटफार्म नंबर-3 से कुछ दूर शनिवार को एक शव पड़ा होने की सूचना मिली. सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच गई.'

घटनास्थल पर युवक का शव रेलवे लाइन पर दो हिस्सों में कटा पड़ा था. मौके पर पुलिस को युवक का मोबाइल फोन, कुछ कागजात और एक ड्राइविंग लाइसेंस मिला. ड्राइविंग लाइसेंस से युवक का नाम एलेन स्टेनले पता चला. मोबाइल में मौजूद पहले से डायल किए हुए नंबरों पर पुलिस ने कॉल की तब मरने वाले युवक की पहचान हो सकी. साथ ही पहचान कराने में ड्राइविंग लाइसेंस ने भी पुलिस की मदद की. दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक, 'एलेन स्टेनले मूल रूप से कैठाकट्टू, वेल्लूर, पम्पडी, कोट्टयम, केरल के रहने वाले थे। एलेन दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंट स्टीफेंस कॉलेज में तदर्थ शिक्षक थे.' बहरहाल इस मामले के सामने आने से दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंट स्टीफेंस कॉलेज में कोहराम मच गया। स्टाफ और स्टूडेंट्स सब में कोहराम मचा हुआ है. एलेन मिलनसार और मृदुभाषी होने के कारण छात्र-छात्राओं के चहेते थे.

First Published : 20 Oct 2019, 01:56:56 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो