News Nation Logo

दिल्ली-NCR में फिर बढ़ेगा प्रदूषण, दमघोंटू हवा में सांस लेने को होंगे मजबूर 

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 14 Oct 2022, 06:27:29 PM
air pollution

pollution in delhi (Photo Credit: ani )

highlights

  • दिल्ली में 30 से 70 प्रतिशत तक प्रदूषण बढ़ सकता है
  • किसान पराली जलाने के लिए मजबूर हो सकते हैं
  • पराली को जलाने पर तुरंत रोक लगनी चाहिए

नई दिल्ली:  

दिवाली नजदीक है. दिल्ली में हर साल इस समय हवा में भारी प्रदूषण देखने को मिलता है. राजधानी के साथ एनसीआर (Delhi-NCR Air Pollution)  में भी ऐसे ही हालात रहते हैं. बीते दिनों लगातार हुई बारिश के कारण राजधानी में वायु गुणवत्ता का स्तर बेहतर रहा था. मगर अब दोबारो से दिल्ली में प्रदषण का स्तर बढ़ रहा है. स्वीडन सहित दुनिया के कई रिसर्चर्स और वैज्ञानिकों के समूह ने एक अनुमान लगाया है, जिसके अनुसार आने वाले दिनों में दिल्ली में एक बार फिर प्रदूषण की समस्या बढ़ सकती हैं. आईआईटी दिल्ली में प्रदूषण को लेकर हुए एक सेमिनार में वैज्ञानिकों ने ये अनुमान लगाया है कि आने वाले दिनों में दिल्ली में 30 से 70 प्रतिशत तक प्रदूषण बढ़ सकता है. 

इसका कारण पराली का जलाना होगा. वैज्ञानिकों के अनुसार आने वाले दिनों में फसल  बोने का समय शुरू होना है, जिसके लिए एक बार फिर किसान पराली जलाने के लिए मजबूर हो सकते हैं. वैज्ञानिकों के अनुसार, अगर जल्द ही इसको लेकर कोई समाधान नहीं किया गया तो दिल्ली में प्रदूषण को लेकर हालात गंभीर हो सकते है.

प्रदूषण रोकने की तरकीब 

वैज्ञानिकों का कहना है कि प्रदूषण को तुरंत रोकने का तरीका है कि सरकार किसानों को पराली जलाने न दे. वह किसानों से पराली ले ले. इसे जैव ईंधन के रूप में प्रयोग करे. बिजली उत्पादन में इसका इस्तेमाल करे. अन्य प्रभावी तरीकों को उपयोग करने में समय लग सकता है. ऐसे में पराली को जलाने पर रोक को तत्काल लगानी चाहिए. दरअसल पराली जलाकर किसान इसे मिट्टी में मिलाते हैं. इससे मिट्टी की गुणवत्ता बढ़ती है. हालांकि इस प्रक्रिया को रोकना बहुत जरूरी है. राजधानी में प्रदूषण की वजह पराली के साथ औद्यौगिक और वाहन भी हैं. मगर प्रदूषण की सबसे बड़ी वजह पराली को जलाने पर तुरंत रोक लगनी चाहिए. 

दिल्ली में प्रदूषण स्तर

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, आज दिल्ली में सबसे ज्यादा प्रदूषण आनंद विहार में देखा गया. यहां पर 333 एक्यूआई (Air Quality Index) का स्तर है. इसके मुताबिक यहां वायु गुणवत्ता का स्तर बेहद खराब स्थिति में है. वहीं सोनिया विहार, पुसा रोड, मंदिर मार्ग, अमेरिकी दूतावास के आसपास का वातावरण सेहत के लिए खराब बताया गया है. आने वाले दिनों में वायु गुणवत्ता का स्तर और खराब हो सकता है.

First Published : 14 Oct 2022, 06:08:35 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.