News Nation Logo

दिल्लीवासियों को मोदी कैबिनेट ने दी सौगात, अवैध कालोनियों को मिली मंजूरी, 79 गांवों का होगा शहरीकरण

अनिल बैजल ने कहा कि दिल्ली के 79 गांवों का शहरीकरण किया जाएगा. दिल्ली के अनधिकृत कालोनी को मंजूरी देने के लिए प्रमुख कदम उठाए गए हैं

By : Sushil Kumar | Updated on: 20 Nov 2019, 08:21:36 PM
अनिल बैजल

अनिल बैजल (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

नई दिल्ली:

दिल्लीवालों के लिए बहुत बड़ी खुश खबरी आई है. दिल्ली की जनता को केंद्र सरकार ने बड़ी सौगात दी है. उपराज्यपाल अनिल बैजल ने ट्वीट कर बताया कि दिल्ली में अवैध कालोनी को मंजूरी मिली है. दिल्ली के 79 गांवों का शहरीकरण किया जाएगा. उन्होंने कहा कि दिल्ली के अनधिकृत कालोनी को मंजूरी देने के लिए प्रमुख कदम उठाए गए हैं. दिल्ली में PM-UDAY (PM- Unauthorised Colonies in Delhi Awas Adhikar Yojna) को लागू करने के लिए मंजूरी मिल गई है. ये निर्णय PM-UDAY के तहत अनधिकृत कालोनी में स्वामित्व अधिकारों को प्रदान या मान्यता प्रदान करने और बेहतर नागरिक सुविधाओं के साथ योजनाबद्ध पुनर्विकास की सुविधा प्रदान करेंगे. साथ ही ऋण या बंधक तक पहुंच को सक्षम करेंगे.

यह भी पढ़ें- श्रीलंका के प्रधानमंत्री विक्रमसिंघे ने दिया इस्तीफा, राष्ट्रपति के बड़े भाई महिंदा राजपक्षे होंगे अगला PM

वहीं इससे पहले उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिल्ली सरकार के अधिकारियों को अनधिकृत कॉलोनियों के बाशिंदों को निश्चित समय के अंदर स्वामित्व अधिकार प्रदान करने के लिए प्रक्रियाओं में तेजी लाने और उपयुक्त संसाधन जुटाने का निर्देश दिया था. उन्होंने अधिकारियों से इन कॉलोनियों का डिजिटल सर्वेक्षण करने और उनकी सीमाएं तय करने को कहा ताकि पीएम उदय योजना को ‘मिशन मोड’ में सुचारू ढंग से लागू किया जा सके.

यह भी पढ़ें- केजरीवाल ने दिल्ली में पानी के नमूनों के संयुक्त निरीक्षण के लिए 2 सदस्यों को किया नामित 

उपराज्यपाल कार्यालय के एक बयान के अनुसार दिल्ली के मुख्य सचिव और अन्य शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान बैजल ने अनधिकृत कॉलोनियों के बाशिंदों को (जमीन का) मालिकाना हक, उसे दूसरे को देने और गिरवी रखने के अधिकार प्रदान करने के लिए उठाये जाने वाले कदमों की समीक्षा की थी. बैजल ने इन कॉलोनियों में बाशिंदों को सामाजिक बुनियादी ढांचे और मूलभूत नागरिक सुविधाएं मयस्सर कराने पर जोर दिया. उपराज्यपाल ने बैठक के बाद ट्वीट किया कि मुख्य सचिव, दिल्ली के अधिकारियों, संभागीय आयुक्त, डीएमसी के साथ पीएम उदय (अनधिकृत कॉलोनी दिल्ली आवास अधिकार योजना) पर बैठक की.

यह भी पढ़ें- महाराष्ट्र में GST का भुगतान नहीं कर पाने की वजह से कारोबारी ने फंदा लगाकर की खुदकुशी

दिल्ली की अनधिकृत कॉलोनियों के बाशिंदों को मालिकाना हक, उसे दूसरे को देने और गिरवी रखने के अधिकार प्रदान करने पर उठाये जाने वाले कदमों की समीक्षा की.’’ केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले महीने दिल्ली की 1797 अनधिकृत कॉलोनियों को मालिकाना हक देने के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी. इससे राजधानी की अनधिकृत कॉलोनियों के 40 लाख से अधिक बाशिंदों के लाभान्वित होने की उम्मीद है. कैबिनेट से मंजूरी के बाद लोगों का सपना अब साकार होगा.

First Published : 20 Nov 2019, 07:40:42 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×