News Nation Logo
Banner

Delhi Flood Alert: आने वाले 2 दिन दिल्ली के लिए बेहद नाजुक, आपात बैठक के बाद बोले सीएम अरविंद केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल ने कहा, यमुना नदी में खतरे का निशान 205.33 था जो आज शाम तक पार हो जाएगा. ऐसे में हमने लोगों के लिए टेंट्स का इंतजाम किया है

By : Aditi Sharma | Updated on: 19 Aug 2019, 03:09:37 PM

नई दिल्ली:

देश की राजधानी दिल्ली में बाढ़ की चेतावनी जारी की गई है जिसे देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को आपात बैठक बुलाई थी. इस बैठक में संबंधित अधिकारी भी मौजूद थे. इस बैठक के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि रविवार शाम को 6 बजे लगभग 8.28 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है. इसी वजह से जो स्थिति उत्पन्न है सकती है उसे लेकर बैठक हुई. उन्होंने बताया, इस बैठक में राहत कार्यों की समीक्षा की गई.

अरविंद केजरीवाल ने कहा, यमुना नदी में खतरे का निशान 205.33 था जो आज शाम तक पार हो जाएगा. ऐसे में हमने लोगों के लिए टेंट्स का इंतजाम किया है जिसमें वह थोड़ी देर रह सकते हैं. यमुना का जल स्तर बढ़ने से 23,860 लोग प्रभावित होंगे जिनके लिए 2120 टेंट्स का इंतजाम किया गया है. ऐसे में लोगों से अनुरोध है कि वो निचले इलाकों को छोड़ इन टेंट्स में आ जाएं. इसके साथ ही अरविंद केजरीवाल ने ये भी बताया कि अगले आने वाले 2 दिन बेहद नाजुक हैं, ऐसे में हम 24 घंटे स्थिति पर नजर रखेंगे. इसके अलावा 30 जगहों पर 30 नावों को तैयार रखा गया है.

यह भी पढ़ें: यमुना एक्सप्रेस-वे से 30 फीट नीचे गिरी कार, 1 युवती समेत 4 लोगों की मौत

बता दें दिल्ली में युमना के बढ़ते जल स्तर के बाद निचले इलाकों को खाली कर दिया गया है और लोगों को सुरक्षित जगहों पर भेजा जा रहा है. इसके अलावा दिल्ली सरकार की तरफ से हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है और डिजास्टर मैनेजमेंट की टीम को तैनात किया गया है. जनाकारी के मुताबिक बाढ़ के खतरे को देखते हुए गीता कॉलोनी इलाके में कंट्रोल रूम भी बना दिया गया है. वहीं यमुना नदी पर लोहा पुल नाम के एक पुराने पुल को बंद कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें: अरविंद केजरीवल ने किया एम्स का दौरा, कहा- पुलिस और अस्पताल प्रशासन कर रहा है जांच

दरअसल बताया जा रहा है कि हथिनी कुंड बैराज से छोड़ा गया पानी राजधानी दिल्ली के लोगों के लिए परेशानी का सबब बन सकता है. जानकारी के मुताबिक राजधानी दिल्ली की यमुना का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है और खतरे के निशान से ऊपर पहुंच चुका है. अनुमान लगाया जा रहा है सोमवार की दोपहर तक यमुना का जलस्तर 207 मीटर तक जा सकता है. जानकारी के मुताबिक हथिनी कुंड बैराज से अभी तक 8 लाख 28000 क्यूसेक पानी छोड़ा जा चुका है.

First Published : 19 Aug 2019, 03:07:35 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो