News Nation Logo
Banner

LG के फैसले को बदलने के लिए मनीष सिसोदिया ने अमित शाह को लिखी चिट्ठी

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने उपराज्यपाल अनिल बैजल (Anil Baijal) के फैसले को पलटने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) को चिट्ठी लिखी.

Written By : मोहित | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 01 Aug 2020, 08:42:00 PM
manish sisoidia

मनीष सिसोदिया (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली :

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने उपराज्यपाल अनिल बैजल (Anil Baijal) के फैसले को पलटने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit shah) को चिट्ठी लिखी. होटल और साप्ताहिक बाजार खोलने के फैसले को पलटने पर अमित शाह को चिट्ठी लिखी.

मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली सरकार इस मामले की फाइल दोबारा एलजी के पास भेजेगी. एलजी से कहें इस बार फ़ैसले को ना रोकें.

उन्होंने आगे कहा कि केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार जब मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने होटल और साप्ताहिक बाजारों को खोलने का निर्णय लिया तो आपने उप राज्यपाल महोदय के जरिए उसे पलटवा दिया.

इसे भी पढ़ें:यूपी की योगी सरकार पर प्रियंका गांधी ने साधा निशाना, कहा UP में जंगलराज

दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार कम हो रहे हैं और स्थिति नियंत्रण में है. यूपी और कर्नाटक में मामले लगातार बढ़ रहे हैं लेकिन वहां पर होटल और साप्ताहिक बाजार खुले हुए हैं. मनीष सिसोदिया ने ये बात कही.

उन्होंने आगे कहा कि समझ से परे है कि जिस राज्य में कोरोना नियंत्रण में बेहतर काम किया उसे अपने कारोबार बंद रखने के लिए क्यों बाध्य किया जा रहा है?

मनीष सिसोदिया ने बताया कि दिल्ली का 8% कारोबार और रोजगार होटल ना खुलने के कारण ठप पड़ा है. साप्ताहिक बाजार बंद रहने से 5 लाख परिवार पिछले 4 महीने से घर पर बैठे हैं.

और पढ़ें: आलाकमान बागियों को माफ करता है तो मैं भी उन्हें गले लगा लूंगा, बोले गहलोत

उन्होंने आगे कहा कि मेरा अनुरोध है कि इस फैसले को बदला जाए. एलजी साहब को तुरंत मुख्यमंत्री के प्रस्ताव को मंजूर करने के निर्देश दें.

सिसोदिया ने आगे कहा कि सरकार मंगलवार को एलजी साहब के पास इस मामले की फाइल दोबारा भेजें कि आप उन्हें कह दें कि अब इसे ना रोके.

First Published : 01 Aug 2020, 08:38:49 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×