News Nation Logo
Banner

सावधान! दिल्ली की हवा बनती जा रही है खतरनाक, 500 पार पहुंचा AQI

गुरुवार सुबह नोएडा सेक्टर 125 का AQI 418 दर्ज किया गया है जबकि गाजियाबाद का 544 दर्ज किया गया है. इसके अलावा गुरुग्राम का AQI 377 दर्ज किया गया है.

By : Aditi Sharma | Updated on: 14 Nov 2019, 09:57:12 AM
दिल्ली प्रदूषण

दिल्ली प्रदूषण (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली में प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ता जा रहा है जिसेस लोगों को काफी परेशानी हो रही है. गुरुवार को एयर क्वालिटी इंडेक्स 500 के पार पहुंचा गया है. आनंद विहार में AQI 564 दर्ज किया गया है. इसके अलावा मुंडका में 577, नरेला में 473, IIT जहांगिरपुरी में 554, सोनिया विहार में 442 और ओखला में 512 दर्ज किया है.

वहीं दूसरी तरफ गुरुवार सुबह नोएडा सेक्टर 125 का AQI 418 दर्ज किया गया है जबकि गाजियाबाद का 544 दर्ज किया गया है. इसके अलावा गुरुग्राम का AQI 377 दर्ज किया गया है.

बता दें, दिन पर दिन बढ़ते प्रदूषण को लेकर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने भी चिंता जताई है. पर्यावरण प्रदूषण (निवारण और नियंत्रण) प्राधिकरण ने इसको लेकर नोटिस जारी किया है. दिल्ली एनसीआर के सभी स्कूल 15 नवंबर तक बंद रहेंगे. बढ़ते प्रदूषण के चलते यह फैसला लिया गया है. नोएडा के स्कूल भी 14 और 15 नवंबर को बंद रहेंगे. पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम और नियंत्रण) प्राधिकरण ने दिल्ली एनसीआर के लिए सिफारिशें जारी की हैं. स्कूलों को अगले 2 दिनों के लिए बंद रखा जाना चाहिए और कोयले और अन्य ऐसे ईंधन, गर्म मिक्स प्लांट आदि का उपयोग करने वाले उद्योगों को 15 तारीख तक बंद रखा जाना चाहिए. दिल्ली की वायु की गुणवत्ता बेहद खराब है. इसके चलते बच्चों को ज्यादा दिक्कत ना हो इसके लिए स्कूल को बंद कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें: अयोध्या केस के फैसले वाले दिन एक भी हत्या, रेप और चोरी का केस नहीं आया : DGP

वहीं इससे पहले केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के सदस्य सचिव प्रशांत गर्गवा ने कहा कि इस साल दिल्ली की जहरीली हवा में पराली की बड़ी भूमिका रही और इसका योगदान 44 प्रतिशत पर पहुंच गया. पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता निगरानी प्रणाली सफर के मुताबिक पंजाब और हरियाणा में पराली जलाने के कारण उठने वाले धुएं का योगदान इस साल एक नवंबर को दिल्ली में सर्वोच्च 44 प्रतिशत रहा.

बढ़ सकती है Odd-Even की तारीख

वहीं दूसरी तरफ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऐलान किया है जरुरत पड़ी तो ऑड-ईवन नियम को और बढ़ाया जा सकता है. बता दें कि अभी राजधानी दिल्ली में 15 नवंबर तक ऑड-ईवन लागू है. प्रेस कांफ्रेस के दौरान सीएम केजरीवाल ने कहा, 'मुझे लोगों की सेहत की चिंता है और दिल्ली देश की राजधानी की जो इमेज बन रही है, उसकी भी चिंता है. अगर दिल्ली में इतना स्मोक होगा, तो क्या इमेज बनेगी.'

यह भी पढ़ें: LIVE: सबरीमाला से लेकर राफेल तक, आज सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा कई बड़े फैसले

उन्होंने ये भी कहा, 'हम सब देख रहे हैं कि दिल्ली में प्रदूषण 10 अक्टूबर से पराली जलने की वजह से बढ़ा. पंजाब, हरियाणा में बारिश की वजह से दिल्ली में धुआं कम हो गया था, लेकिन बारिश थमते ही दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ गया है. अभी भी पराली जलाई जा रही है. सुप्रीम कोर्ट के सख्त के आदेश को नहीं माना जा रहा है.'

First Published : 14 Nov 2019, 09:55:47 AM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो