News Nation Logo

दिल्ली में कोरोना का तांडव, अब तक 7 हजार से ज्यादा लोगों की मौत

आपको बता दें कि राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण से 7 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. अभी भी दिल्ली में 25 हजार से ज्यादा की संख्या में लोग होम आइसोलेशन में रह रहे हैं आंकड़ों के मुताबिक यह संख्या 25,321 है

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 09 Nov 2020, 11:13:07 PM
Corona Virus

कोरोना वायरस (Photo Credit: फाइल )

नई दिल्ली:  

राजधानी  दिल्ली (Delhi) में कोरोना संक्रमण के नए मामले प्रतिदिन नया रिकॉर्ड बना रहे हैं. बीते कई दिनों से हर 24 घंटे में 7 हजार या उससे आसपास नए कोरोना (Corona Virus) रोगी सामने आ रहे हैं. ऐसे में दिल्ली सरकार का मानना है कि राजधानी में कोरोना की तीसरी लहर आ चुकी है. साथ ही यह समय तीसरी लहर का सर्वोच्च स्तर यानी पीक (Corona Peak) है. जहां दिल्ली सरकार का मानना है कि यह कोरोना की तीसरी लहर और उसका पीक आ चुका है. वहीं सरकार यह भी मान रही है कि अब दिल्ली में कोरोना के मामले और नहीं बढ़ने चाहिए. 

आपको बता दें कि राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण से 7 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. अभी भी दिल्ली में 25 हजार से ज्यादा की संख्या में लोग होम आइसोलेशन में रह रहे हैं आंकड़ों के मुताबिक यह संख्या 25,321 है जबकि दिल्ली में सक्रिय मरीजों की संख्या की बात करें तो ये आंकड़ा 39,795 तक जा पहुंचा है. वहीं अगर हम पिछले 24 घण्टे में आए नए केसों की बात करें तो 5023 केस आए हैं जिसके बाद संक्रमितों की कुल संख्या 4,43,552 जा पहुंची है.

 पिछले 24 घण्टे में 7014 लोग ठीक हुए और अब तक कुल 3,96,697 लोग ठीक हुए. पिछले 24 घण्टे हुई 71 मरीजों की मौत और अब तक कुल 7060 की मौत बीते 24 घण्टे में हुए 39,115 टेस्ट  (आरटीपीसीर- 14,047 एंटीजन- 25,068)  वहीं अगर संक्रमण दर की बात करें तो ये बढ़कर 12.84 फीसदी तक जा पहुंची है और रिकवरी दर में भी थोड़ी सी गिरावट आई है जिसके बाद ये 89.43 फीसदी तक जा पहुंची है.

सक्रिय मरीज़ों की दर 8.97 फीसदी

कोरोना डेथ रेट- 1.59 फीसदी

कंटेंमेंट जोन की संख्या- 3882

अब तक हुए कुल 51,38,889 टेस्ट

निजी अस्पतालों में बेड बढ़ाए गए
उन्होंने आईसीयू बेड की घटती संख्या को लेकर कहा कि सरकारी अस्पतालों में अब भी आईसीयू बेड उपलब्ध हैं, लेकिन कई लोग सरकारी अस्पताल की जगह निजी अस्पतालों को वरीयता देते हैं इसलिए उन्हें आईसीयू बेड की समस्या का सामना करना पड़ रहा है. सत्येंद्र जैन ने बताया कि दिल्ली सरकार ने सरकारी अस्पतालों में 500 कोरोना बेड और 110 आईसीयू बेड बढ़ाए हैं. वहीं निजी अस्पातालों में भी कोरोना रोगियों के लिए 685 बेड बढ़ाए गए हैं.

First Published : 09 Nov 2020, 11:13:07 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.