News Nation Logo
Banner
Banner

CM अरविंद केजरीवाल बोले- दुर्भायपूर्ण है पंजाब में सत्ता की लड़ाई से बनी राजनीतिक अस्थिरता

आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) बुधवार को पंजाब के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 29 Sep 2021, 06:42:47 PM
arvind kejriwal

सीएम अरविंद केजरीवाल (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • केजरीवाल की चन्नी को चुनौती, कैप्टन के वादे पूरे करे कांग्रेस सरकार 
  • पंजाब में चल रही सत्ता की गंदी लड़ाई दुर्भायपूर्ण, सरकार को बनाया तमाशा 

मोहाली/चंडीगढ़:

आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) बुधवार को पंजाब के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे. सीएम अरविंद केजरीवाल ने मोहाली एयरपोर्ट पर मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि पंजाब में चल रही सत्ता की गंदी लड़ाई से बनी राजनीतिक अस्थिरता दुर्भायपूर्ण है. उन्होंने कहा कि पंजाब के लोग समझ नहीं पा रहे हैं कि वे ऐसे में अपनी समस्याओं के संबंध में किसे जाकर मिलें. इससे पहले मोहाली एयरपोर्ट पर ‘आप’ पंजाब के प्रदेशाध्यक्ष एवं सांसद भगवंत मान, प्रो.  बलजिंदर कौर, अमन अरोड़ा, कुलतार सिंह संधवां, मीत हेयर, मास्टर बलदेव सिंह जैतों (सभी विधायक) समेत सभी नेताओं ने सीएम केजरीवाल का पंजाब आने पर जोरदार स्वागत किया. सीएम केजरीवाल के साथ पंजाब मामलों के प्रभारी जरनैल सिंह और सह-प्रभारी राघव चड्ढा भी विशेष तौर पर उपस्थित रहे.  

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब कांग्रेस ने सरकार को तमाशा बना दिया है. उन्होंने कहा कि चुनाव में केवल चार महीने शेष हैं और उसके बाद आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब को एक स्थिर, अच्छी और ईमानदार सरकार देगी. उन्होंने चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनने पर बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वह पंजाब को प्रगति के पथ पर आगे बढ़ता देखना चाहते हैं. 

केजरीवाल ने कहा कि कैप्टन सरकार ने पंजाब के लोगों से जो वादे किए थे, मुख्यमंत्री चन्नी उन्हें पूरा करें या फिर कहें कि कैप्टन ने लोगों से झूठे वादे किए थे और मैं इन्हें नहीं मानता. चन्नी को चुनौती देते हुए केजरीवाल ने कहा कि पंजाब के लोगों की पांच मुख्य मांगें हैं और मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी इन सभी मामलों पर तुरंत कार्रवाई करें. 

पंजाब के लोगों की 5 मुख्य मांग

  1. सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पंजाब की कांग्रेस सरकार के मंत्रिमंडल में दागी मंत्रियों और दागी अधिकारियों को प्रतिष्ठित पदों पर बिठाया गया है. सबसे पहले मुख्यमंत्री चन्नी दागी मंत्री, दागी विधायक और दागी अधिकारियों को तुरंत हटाएं. साथ ही उनपर केस दर्ज कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करें. 
  2. पंजाब के लोग बरगाड़ी कांड के दोषियों को सजा दिलाना चाहते हैं. सीएम केजरीवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री चन्नी, कुंवर विजय प्रताप सिंह की रिपोर्ट पढ़ेंगे तो उसमें आरोपियों के नाम लिखे हैं. उन्होंने कहा कि बरगाड़ी कांड के आरोपियों को 24 घंटे के अंदर कार्रवाई कर गिरफ्तार किया जा सकता है और ऐसा होने से पंजाब की आत्मा को शांति मिलेगी. 
  3. कैप्टन सरकार ने पंजाब के युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था. रोजगार नहीं मिलने तक बेरोजगारी भत्ता देने को भी कहा था. केजरीवाल ने कहा कि सीएम चरणजीत सिंह चन्नी एक सप्ताह के भीतर पंजाब के युवाओं को बेरोजगारी भत्ता देने सहित बीते साढ़े चार वर्षों का बकाया भी दें. उन्होंने कहा कि युवा अपने हाथों में जॉब कार्ड लेकर घूम रहे हैं कि उन्हें नौकरी अथवा रोजगार भत्ता दिया जाए. 
  4. कैप्टन ने अपने शासनकाल में किसानों से उनका ऋण (कर्जा) माफ करने का वादा किया था. चन्नी सरकार अपनी सरकार के उस वादे को भी पूरा करें.
  5. चन्नी सरकार से पावर पर्चेस कांट्रेक्ट कैंसिल करने की मांग की गई. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कांग्रेस कह चुकी है कि वह जानती है कि निजी कंपनियों से किए गए महंगे और एकतरफा बिजली खरीद समझौते कैसे कैंसिल हो सकता है, तो उसे कैंसिल किया जाए. 

चन्नी सरकार के शेष चार महीनों का जिक्र करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब वह पहली बार दिल्ली के मुख्यमंत्री बने तो महज 49 दिन की सरकार के दौरान उन्होंने बिजली के रेट आधे और पानी मुफ्त किया था. दिल्ली से भ्रष्टाचार भी खत्म कर दिया गया था. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी भी यह कर सकते हैं.

First Published : 29 Sep 2021, 06:42:47 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो