News Nation Logo

पत्रकारों के लिए CM केजरीवाल ने वैक्सीनेशन सेंटर का उद्घाटन किया

दिल्ली सरकार की तरफ से आयोजित इस टीकाकरण केंद्र में सभी मीडियाकर्मी और उनके परिवार वाले कोरोना का टीका लगवा सकेंगे. पिछले कई दिनों से पत्रकारों की मांग थी कि उनके लिए स्पेशल व्यवस्था की जाए. जिसके बाद केजरीवाल सरकार ने ये व्यवस्था की है. 

Written By : मोहित बख्शी | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 31 May 2021, 12:26:20 PM
Arvind Kejriwal

Arvind Kejriwal (Photo Credit: ANI)

highlights

  • केजरीवाल ने शुरू किया पत्रकारों के लिए वैक्सीनेशन सेंटर
  • इस वैक्सीनेशन सेंटर पर पत्रकारों के परिजनों को भी वैक्सीन लगेगी
  • दिल्ली में ब्लैक फंगस को लेकर केजरीवाल ने चिंता जताई

नई दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने कोरोना को ध्यान में रखते हुए पत्रकारों के लिए विशेष टीकाकरण (Vaccination for Journalist) की व्यवस्था की है. मुख्यमंत्री केजरीवाल ने आज पत्रकारों के लिए वैक्सीनेशन सेंटर का उद्घाटन किया है. इस केंद्र पर आज से सभी मीडिया कर्मियों के लिए विशेष टीकाकरण केंद्र की शुरुआत हो गई है. दिल्ली सरकार की तरफ से आयोजित इस टीकाकरण केंद्र में सभी मीडियाकर्मी और उनके परिवार वाले कोरोना का टीका लगवा सकेंगे. पिछले कई दिनों से पत्रकारों की मांग थी कि उनके लिए स्पेशल व्यवस्था की जाए. जिसके बाद केजरीवाल सरकार ने ये व्यवस्था की है. 

ये भी पढ़ें- बंगाल के मुख्य सचिव पर रार, दीदी ने पीएम को पत्र लिख भेजने से मना किया 

इस वैक्सीनेशन सेंटर पर पत्रकारों के परिजनों को भी टीका लगाया जाएगा. इस मौके पर मुख्यमंत्री केजरीवाल ने न्यूज नेशन ने बात की. केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में आज से अनलॉक की प्रक्रिया शुरु हो गई है.  ई-पास बनवाने में और वैक्सीनेशन में जो दिक्कत आ रही हैं, उसे जल्द ही ठीक कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे लोगों का फीडबैक मिलेगा उन्हें ठीक कर देंगे. केजरीवाल ने इस दौरान ब्लैक फंगस महामारी के विषय में भी चिंता जताई. उन्होंने कहा कि अभी दिल्ली में ब्लैक फंगस के 944 केस हैं.

केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में ब्लैक फंगस के 300 मरीज सेंट्रल गवर्नमेंट के (हास्पिटल में) हैं, करीब 650 मरीज दिल्ली सरकार के अस्पतालों में है. उन्होंने बताया कि दिल्ली में ब्लैक फंगस के टीके की बहुत कमी है, परसों करीब 1000 इंजेक्शन आए थे. जबकि 1 दिन में एक आदमी को 3 से 4 टीके की जरूरत पड़ती है. खट्टर के बयान पर मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि मैंने देखा कि वह कह रहे हैं कि इतना जल्दी जल्दी टीका क्यों लगा रहे हैं दिल्ली वाले. उन्होंने कहा कि जल्दी-जल्दी टीका लगाएंगे तभी तो लोगों की जान बचेगी. जितने ज्यादा लोगों को टीका लगेगा. उतने ज्यादा लोगों की जान बचेगी.

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन में चोरों की मौज : रात में पुलिस सोती रही और चोर ले उड़े कारें 

स्पुतनिक वैक्सीन से जारी बातचीत के बारे में जानकारी देते हुए केजरीवाल ने कहा कि 20 जून के बाद उन्होंने कुछ ऑफर किया है, जून के महीने में एक कुछ वैक्सीन देंगे. अभी तो बेखुद इंपोर्ट कर रहे हैं और अगस्त से उनका प्रोडक्शन चालू होगा. जितना वे खुद इंपोर्ट करेंगे उसमें से एक हिस्सा दिल्ली को देंगे. बंगाल की राजनीति पर उन्होंने कहा कि मेरा मानना ये है कि यह वक्त राजनीति करने का नहीं है. यह वक्त राज्यों की मदद करने का है, सबको मिलकर कोरोना से लड़ने का वक्त है. यह शोभा नहीं देता. मेरा केंद्र सरकार से निवेदन है कि सभी राज्यों को मिलकर टीम इंडिया बनकर कोरोना से लड़ना है. इस वक्त राज्यों से नहीं लड़ना चाहिए. 

ग्लोबल टेंडर पर केजरीवाल ने कहा कि डेढ़ 2 महीने हो गए जब केंद्र सरकार ने कहा था कि राज्य अपने अपने हिसाब से वैक्सीन का प्रोक्योरमेंट कर लें. 36 राज्य और यूनियन टेरिटरीज हैं सब ने अपनी अपनी कोशिश करके देख ली. हर पार्टी की हर सरकार ने कोशिश करके देख ली. एक भी सरकार वैक्सीन का एक भी टीका अपने स्तर पर लाने में सफल नहीं हुई. यह काम केंद्र सरकार को करना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार प्रोक्योरमेंट करें और प्रोडक्शन करें और राज्य सरकारों को दें और उसके बाद हम ना लगाएं, लोगों को वैक्सीन ना दें, तो यह हमारी जिम्मेदारी है. प्रोडक्शन करवाना और प्रोक्योरमेंट करना केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है. को-वैक्सीन को लेकर केजरीवाल ने कहा कि जैसे ही को-वैक्सीन आएगी तो दूसरी डोज भी लगाई जाएगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 31 May 2021, 12:26:20 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.