News Nation Logo
Banner

दिल्ली हिंसा में छेनू गैंग और नासिर गैंग का हाथ, 12 लोगों की हुई पहचान

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने बीते दिनों दिल्ली में हुई हिंसा (Delhi Violence) के मामले में 12 से अधिक लोगों की पहचान कर ली है.

News Nation Bureau | Edited By : Vikas Kumar | Updated on: 26 Feb 2020, 01:25:44 PM
दिल्ली हिंसा में छेनू गैंग और नासिर गैंग का हाथ

दिल्ली हिंसा में छेनू गैंग और नासिर गैंग का हाथ (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • दिल्ली पुलिस को हाथ लगी बड़ी जानकारी. 
  • पुलिस ने अब तक 12 लोगों की पहचान कर दी है.
  • दंगों के पीछे दो बड़े ही खतरनाक गैंग का हाथ. 

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने बीते दिनों दिल्ली में हुई हिंसा (Delhi Violence) के मामले में 12 से अधिक लोगों की पहचान कर ली है. इसी के साथ दिल्ली पुलिस ने नार्थ ईस्ट दिल्ली (North East Delhi) में हुई हिंसा में दो गैंग के शामिल होने की बात भी की है. सूत्रों के मुताबिक बीते दिनों दिल्ली में हिंसा का तांड़व करने वाले छेनू गैंग (Chenu Gang) और नासिर गैंग (Nasir Gang) थे. 

पुलिस की दी जानकारी के अनुसार, बीते 3 दिनों में दिल्ली में 600 से ज्यादा राउंड फायरिंग हुई है. इसका मतलब हथियारों और गोलियों की कमी नहीं थी और ये गैंग आपूर्ती कर रहे थे. पुलिस को आशंका है कि हिंसा भडकाने और आगजनी करने के लिए छेनू गैंग को हायर किया गया था और इन गैंग्स की मदद से प्रीप्लांड साजिश के तहत हिंसा भड़काई गई.

जबकि दिल्ली (Delhi) के सीएम अरविंद केजरीवाल (Cm Arvind Kejariwal) ने कहा कि ये स्थिति (दिल्ली में) काफी चिंताजनक है. पुलिस (Delhi Police) हर संभव प्रभाव के बावजूद स्थिति को संभालने में नाकाम रही है. सीएम केजरीवाल ने कहा है कि इस स्थिति से निबटने के लिए आर्मी (Army Support) की सहायता लेनी चाहिये और दंगा प्रभावित इलाकों में कर्फ्यू लगा देना चाहिए. उन्होंने जानकारी दी कि वो एक लेटर होम मिनिस्टर (Home Minister Amit Shah) को भी लिख चुके हैं.

यह भी पढ़ें: गृह मंत्रालय ने नॉर्थ ईस्‍ट दिल्‍ली में सेना तैनाती की मांग को खारिज किया, सीएम अरविंद केजरीवाल ने लिखा था पत्र

पुलिस को आशंका है कि हिंसा भडकाने और आगजनी करने के लिए छेनू गैंग को हायर किया गया था और इन गैंग्स की मदद से प्रीप्लांड साजिश के तहत हिंसा भड़काई गई छैनू गैग्स को दिल्ली के सबसे खतरनाक गैंग्स में से माना जाता है और ये नार्थ ईस्ट दिल्ली के साथ लोनी गाजियाबाद में भी सक्रिय है. ये गैंग काफी बेरहम माने जाते हैं पुलिस ये जांच कर रही है कि किन लोगों ने इनको हायर किया था.

यह भी पढ़ें: Delhi Violence Live Updates: सीलमपुर में धारा 144 लागू, पुलिस ने लोगों को दी चेतावनी

वहीं हाई कोर्ट ने दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) की जांच के लिए SIT का गठन करने और भड़काऊ भाषण देने के लिए बीजेपी नेताओं कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर, प्रवेश साहिब सिंह वर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग को लेकर दायर अर्जी पर दिल्ली पुलिस कमिश्नर को नोटिस जारी किया है.

पुलिस कांस्टेबल को मिलेगा शहीद का दर्जा

राजधानी दिल्ली में नागरिकता कानून (CAA) को लेकर हुए हिंसक विरोध में मारे गए दिल्ली पुलिस हेड कांस्टेबल रतनलाल को सरकार शहीद का दर्जा देगी. बता दें कि रतनलाल का परिवार उन्हें शहीद का दर्ज देने की मांग को लेकर बुधवार को धरने पर बैठ थे. 

First Published : 26 Feb 2020, 01:16:15 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×