News Nation Logo
Banner

यूपी को दो हिस्सों में बांटने की फिर उठी मांग, शाह से मिलकर ये मंत्री लगाएंगे गुहार

उत्तर प्रदेश को दो हिस्सों में बांटने की मांग फिर से उठने लगी है. इस बार यह मांग की है सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने.

By : Nitu Pandey | Updated on: 24 Sep 2019, 09:12:22 PM
अमित शाह और रामदास अठावले (फाइल फोटो)

अमित शाह और रामदास अठावले (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश को दो हिस्सों में बांटने की मांग फिर से उठने लगी है. इस बार यह मांग की है सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने. अठावले रविवार को दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे. इस दौरान उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश को दो हिस्सों में बांटा जाए. रामदास अठावले ने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह से इसकी मांग की जाएगी. 

रामदास अठावलेने कहा कि अमित शाह से मिलकर पूर्वांचल को अलग प्रदेश बनाकर राजधानी बनारस करने की मांग की जाएगी.

वाराणसी पहुंचे रामदास अठावले की जोरदार स्वागत किया गया. एयरपोर्ट से वो सर्कित हाउस पहुंचे. पत्रकारों से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में 80 लोकसभा सीटें और 403 विधानसभाएं हैं. सुदूर क्षेत्रों से राजधानी लखनऊ पहुंचने में लोगों को काफी समय लग जाता है. ऐसे में अगर यूपी को दो हिस्सों में बांट दिया जाए तो लोगों को सुविधा होगी. 

केंद्रीय मंत्री ने इसके साथ यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश में गरीबी हटाने के लिए भूमिहीनों को 5 एकड़ जमीन देनी चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने मायावती पर वार करते हुए कहा कि मायावती से दलित समुदाय खफा है.

इसे भी पढ़ें:राहुल गांधी जब पार्टी को नहीं संभाल सकते तो देश क्या संभालेंगे: रामदास अठावले

इसके साथ ही उन्होंने दलितों का आह्वान करते हुए आरपीआई की सदस्यता ग्रहण करने की अपील की. उन्होंने कहा कि अगर बाबा साहेब का सपना पूरा करना है तो आरपीआई की सदस्यता ले.

बता दें कि रामदास अठावले की रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (ए) पार्टी, बीजेपी और शिवसेना के साथ मिलकर चुनावी मैदान में उतरने जा रही है. चुनाव तारीखों के ऐलान के बाद केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि प्रदेश में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन इस बार विधानसभा चुनावों में 240 से 250 सीटों पर जीत हासिल करेगा.

और पढ़ें:मजहब के नाम किसी की हत्या, हिंदू धर्म और भगवान राम का अपमान है, बोले शशि थरूर

सीट बंटवारे पर अठावले ने कहा कि बीजेपी गठबंधन में छोटे सहयोगियों को 18 सीटें मिलने वाली हैं. उनमें 10 सीटों पर आरपीआई (ए) चुनाव लड़ेगी.

First Published : 22 Sep 2019, 07:44:39 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×