logo-image
लोकसभा चुनाव

BJP का AAP पर तंज, भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन से जन्मी पार्टी, भ्रष्टाचार पर होगी खत्म

दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) में वोटिंग से ठीक पहले दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ओएसडी गोपाल कृष्ण माधव के रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार होने के बाद से बीजेपी हमलावर है.

Updated on: 07 Feb 2020, 10:32 AM

नई दिल्ली:

दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) में वोटिंग से ठीक पहले दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ओएसडी गोपाल कृष्ण माधव के रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार होने के बाद से बीजेपी हमलावर है. दानिक्स (DANICS) अधिकारी गोपाल को सीबीआई ने 2 लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा. बताया जा रहा है कि गोपाल कृष्ण माधव 2015 से मनीष सिसोदिया के कार्यालय में तैनात है. पीटीआई के मुताबिक, गोपाल कृष्ण माधव का नाम सरकारी वेबसाइट पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ओएसडी के रूप में दर्ज है.

यह भी पढ़ेंः दिल्‍ली में चुनाव से पहले मनीष सिसोदिया का OSD रिश्‍वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

गोपाल कृष्ण माधव की गिरफ्तारी के बाद बीजेपी आईटी सेल के प्रभारी अमित मालवीय ने ट्वीट कर मनीष सिसोदिया पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि उपमुख्यमंत्री कार्यालय में तैनात कोई ओएसडी बिना पॉलिटीकल बॉस की जानकारी के रिश्वत नहीं ले सकता है. उन्होंने कहा कि इससे पहले भी कई बार अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया पर इस तरह के आरोप लग चुके हैं.

यह भी पढ़ेंः तिहाड़ जेल में जियो 4 जी सिग्नल को रोकने में अक्षम : प्रशासन ने अदालत को बताया

अभी तक की जांच में पता चला है कि गोपाल कृष्ण माधव ने जीएसटी के एक मामले में कथित रूप से दो लाख रुपये की रिश्वत मांगी थी. बताया जा रहा है कि पूरा मामला 10 लाख रुपये में तय हुआ था. देर रात माधव को रिश्वत के दो लाख रुपये के साथ गिरफ्तार कर लिया गया. सीबीआई की टीम गोपाल कृष्ण को गिरफ्तार पर सीबीआई मुख्यालय ले गई. यहां उससे पूछताछ की जा रही है. शुक्रवार दोपहर गोपाल कृष्ण को कोर्ट में पेश किया जाएगा. जहां सीबीआई उसकी रिमांड की मांग करेगी.