News Nation Logo
Banner

दिहाड़ी मजदूर को 5000 रुपए देगी दिल्ली सरकार, सीएम केजरीवाल ने किया बड़ा ऐलान

भारत में कोरोना को हराने की जंग जारी है. पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया गया है. जिसका नतीजा सामने आने लगा है. दिल्ली में पिछले 40 घंटे के भीतर एक भी कोरोना वायरस का नया केस सामने नहीं आया है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 24 Mar 2020, 06:14:38 PM
arvind kejariwal

सीएम अरविंद केजरीवाल (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

भारत में कोरोना (Corona )को हराने की जंग जारी है. पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया गया है. जिसका नतीजा सामने आने लगा है. दिल्ली में पिछले 40 घंटे के भीतर एक भी कोरोना वायरस का नया केस सामने नहीं आया है. इस बात की जानकारी खुद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind kejariwal) ने दी है. इसके साथ ही उन्होंने मीडिया के जरिए कई बातें शेयर की.

मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में बीते 40 घंटों में कोरोना वायरस का एक भी नया केस सामने नहीं आया है. 30 मरीजों में से कुछ मरीज ठीक होकर घर चले गए हैं. अब केवल 23 कोरोना पेशेंट दिल्ली में हैं.

इसे भी पढ़ें:केंद्र सरकार ने राज्यों को जारी की एडवाइजरी, कहा- लोग ना मानें तो लगाएं कर्फ्यू

उन्होंने कहा कि यह अच्छी खबर है, लेकिन अभी हमें खुश नहीं होना चाहिए, क्योंकि लड़ाई अभी बाकी है. संख्या कभी भी बढ़ सकती है, इसलिए हमें अलर्ट रहना होगा.

5 बड़ें डॉक्टरों की टीम बनाई है जो स्टेज 3 को लेकर देगी रिपोर्ट

सीएम अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा, 'आज मैंने 5 बड़े डॉक्टरों की एक टीम बनाई है वो मुझे 24 घंटों में पूरी योजना बनाकर देंगे कि अगर दिल्ली स्टेज 3 में जाती है तो क्या हम उसके लिए तैयार हैं? हमें उसके लिए क्या-क्या करने की जरूरत है.'

और पढ़ें:Corona Virus : 3 महीनों तक किसी भी ATM से पैसे निकालने पर कोई चार्ज नहीं-वित्‍त मंत्री

लॉकडाउन की वजह से गरीबों के हालत खराब है. इसपर अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'दिल्ली में कई दैनिक मजदूरी कमाने वाले हैं जो किराए के घरों में रहते हैं. यदि कुछ किराएदार अपने मकान मालिकों को किराए का भुगतान करने की स्थिति में नहीं हैं, तो उन्हें 2-3 महीने के लिए कुछ रियायत दी जा सकती है.'

दिहाड़ी मजदूरों को 5 हजार रुपए दिए जाएंगे

इसके साथ ही केजरीवाल ने घोषणा करते हुए कहा कि हमने दिहाड़ी मजदूरों को 5000 रुपये देने का फैसला किया है क्योंकि उनकी आजीविका प्रभावित हुई है. हम शहर में रैन बसेरों की संख्या भी बढ़ा रहे हैं.

सेवा में लगे लोगों के साथ अच्छा बर्ताव किया जाए

इसके साथ ही केजरीवाल कहा कि मुझे ये सुनने को मिला है कि मकान मालिक ने नर्स को ये कहकर निकाल दिया कि ये तो सारा दिन कोरोना के मरीज़ों में घूमती है इसको मैं नहीं रखूंगा. कहीं पता चला एयर होस्टेस, पॉयलट को कॉलोनी में नहीं घूसने दे रहे. इस तरह का भेदभाव उनके साथ सही नहीं है. हमें अपने सोच में बदलाव करना होगा.

First Published : 24 Mar 2020, 06:03:18 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×