logo-image
लोकसभा चुनाव

OSD के बाद सीबीआई ने GST इंस्पेक्टर को किया गिरफ्तार

घूसखोरी के मामले में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ओएसडी गोपाल कृष्ण माधव की गिरफ्तार के बाद सीबीआई ने उन पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है.

Updated on: 07 Feb 2020, 12:45 PM

नई दिल्ली:

घूसखोरी के मामले में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ओएसडी गोपाल कृष्ण माधव की गिरफ्तार के बाद सीबीआई ने उन पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. सीबीआई ने इस मामले में धीरज गुप्ता नाम के एक शख्स का गिरफ्तार किया है. सीबीआई का कहना है कि यह कई मामलों में शामिल रहा है. इसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. 

इससे पहले केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने दिल्ली सरकार के अफसर गोपाल कृष्ण माधव (Gopal Krishna Madhav) को रिश्‍वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है. गोपाल कृष्ण माधव दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) का ओएसडी (OSD) बताया जा रहा है. दानिक्स (DANICS) अधिकारी गोपाल को 2 लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया है. 2015 से गोपाल कृष्ण माधव मनीष सिसोदिया के कार्यालय में तैनात बताए जा रहे हैं. पीटीआई के मुताबिक, गोपाल कृष्ण माधव का नाम सरकारी वेबसाइट पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ओएसडी के रूप में दर्ज है.

सीबीआई सूत्रों के मुताबिक धीरज गुप्ता नाम के एक मिडिल मैन को भी गिराफ्तार किया है. 2 लाख 26 हजार रुपये की घुस मांग रहे थे. धीरज की गिरफ्तारी 5 जनवरी को की गई जोकि अभी ज्यूडिशियल कस्टडी में है. धीरज ने खुद को टैक्स डिपार्टमेंट के अधिकारी का करीबी बताया था, एक पुराने केस को सेटल करने की बात की थी. धीरज से पूछताछ के बाद ही जीएसटी अधिकारी व सिसोदिया के ओएसडी गोपाल किशन की गिरफ्तारी की गई है