News Nation Logo
Banner

30 घंटे नक्सलियों की कैद में रहे इंजीनियर, ऐसे बचाई जान

करीब 30 घंटे तक नक्सलियों (Naxalites) की कैद में रहे दो इंजीनियर (engineer) और मुंशी सकुशल वापस लौट आए हैं। शुक्रवार को नक्सलियों ने दंतेवाड़ा स्थित अरनपुर थाना क्षेत्र के ग्राम नहाड़ी के पास से प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना(पीएमजीएसवाई) का काम देखने आए इंजीनियर अरण मरावी, इंजीनियर मोहन बघेल और दुर्ग की गुप्ता कंस्ट्रक्शन कंपनी के मुंशी का अपहरण कर लिया.

By : Vikas Kumar | Updated on: 13 Oct 2019, 04:21:32 PM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: फाइल फोटो)

रायपुर:

करीब 30 घंटे तक नक्सलियों (Naxalites) की कैद में रहे दो इंजीनियर (Engineer) और मुंशी सकुशल वापस लौट आए हैं. शुक्रवार को नक्सलियों ने दंतेवाड़ा स्थित अरनपुर थाना क्षेत्र के ग्राम नहाड़ी के पास से प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना(पीएमजीएसवाई) का काम देखने आए इंजीनियर अरण मरावी, इंजीनियर मोहन बघेल और दुर्ग की गुप्ता कंस्ट्रक्शन कंपनी के मुंशी का अपहरण कर लिया. एसपी अभिषेक पल्लव ने इसकी पुष्टि की है. इंजीनियर नक्सलियों की कैद से पैदल चलकर आरणपुर पहुंच रहे हैं. जानकारी के मुताबिक नक्सलियों ने इनके मोबाइल भी लौटा दिए हैं.

शुक्रवार को नक्सलियों ने किया था अपहरण
जानकारी के अनुसार, ग्राम मुलेर में सड़क बनाए जाने की तैयारी को लेकर शुक्रवार की दोपहर दंतेवाड़ा से इंजीनियर और मुंशी निकले थे. इसके बाद वे वापस नहीं आए. इन तीनों का नक्सलियों ने अपरहण कर लिया. दोनों इंजीनियर पीएमजीएसवाय के अरुण मरावी और टेक्निकल इंजीनियर मोहन बघेल हैं. इनके साथ गुप्ता कंट्रक्शन कंपनी के मुंशी का भी अपहरण किया गया. यह सभी लोग क्षेत्र में सड़क निर्मांण के कार्य के लिए मुलेर गांव पहुंचे थे. इसी दौरान नक्सली ने हमला कर दिया और बंदूक की नोक पर उन्हें अपने साथ ले गए.

यह भी पढ़ेंः छत्तीसगढ़ की जनता अब नहीं चुन पाएगी मेयर, पार्षदों के बीच से होगा चुनाव

कंपनी ने पुलिस को दी थी सूचना
पीएमजीएसवाई के वरिष्ठ इंजीनियर सन्तोष नाग ने जानकारी दी कि नक्सलियों द्वारा उनका अपहरण करने की सूचना मिली. जिसके बाद तुरंत पुलिस को सूचित किया गया लेकिन अभी तक उनकी तलाश शुरू नहीं हुई है. ज्ञात हो कि इस इलाके को नक्सलियों की उपराजधानी भी कहा जाता है. उसी इलाके से कुछ वर्ष पूर्व सुकमा के पूर्व कलेक्टर एलेक्स पाल मेनन का भी अपहरण किया गया था.

यह भी पढेंः हिंदू बनकर चला रहे थे सेक्स रैकेट, पुलिस ने किया गिरफ्तार तो हुआ बड़ा खुलासा

20 किमी बनाई जानी है सड़क
पालनार-अरनपुर- मुलेर सड़क को तैयार किया जा रहा है. 20 किमी की ये सड़क है. यह सड़क लगभग 6 करोड़ की लागत से तैयार हो रही है. इस सड़क को नक्सली कई बार खोद कर नुकसान पहुंचा चुके हैं. जब भी सड़क को बनाने का प्रयास किया तो प्रशासन को मुंह की खानी पड़ी है. नक्सली क्षेत्र में लगातार सड़क और अन्य अधोसंरचना विकास करते रहे हैं. सड़क निर्माण के दौरान आगजनी की कई वारदातें इस इलाके में हो चुकी हैं. नक्सलियों द्वारा अपहरण की इस वारदात को लेकर अभी पुलिस की ओर से किसी भी प्रकार की पुष्टी नहीं की गई है.

Highlights

  • शुक्रवार दोपहर सड़क निर्माण का कार्य देखने गए थे इंजीनियर, उसी दौरान हुआ अपरहण
  • पुलिस ने नक्सलियों से की मध्यस्थता, तीनों को नक्सलियों ने सकुशल लौटाया
  • इलाके में 20 किमी बनाई जानी है सड़क, उसी का काम देखने के लिए गए थे इंजीनियर

First Published : 13 Oct 2019, 02:13:30 PM

For all the Latest States News, Chhattisgarh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो