News Nation Logo

छत्तीसगढ़ः नक्सलियों ने जवानों का वाहन उड़ाया, हमले में 15 घायल, 3 शहीद

ये जवान ऑपरेशन से लौट रहे थे जिसके बाद नक्सलियों ने घात लगाकर जवानों के इस काफिले पर हमला किया. किसी को भी इस हमले की कोई भनक नहीं थी. जवानों पर हुए इस नक्सली हमले के बाद से छत्तीसगढ़ के नारायण पुर में अफरा-तफरी का माहौल है. देश की आंतरिक सुरक्षा के लिहाज से यह खबर चिंता करने वाली है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 23 Mar 2021, 06:37:48 PM
File Pic

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: फाइल)

highlights

  • छत्तीसगढ़ में जवानों पर नक्सलियों का हमला
  • नक्सली हमले में सुरक्षाबलों के 4 जवान शहीद
  • हमले में 15 जवान घायल, अस्पताल में भर्ती करवाए गए

नई दिल्ली:

छत्तीसगढ़ के नारायण पुर से बड़ी खबर आई है जहां नक्सलियों की टीम ने सुरक्षाबलों की एक टीम पर हमला बोल दिया. नक्सलियों ने जवानों की गाड़ी को ब्लास्ट कर उड़ा दिया. इस हमले में 4 जवानों के शहीद होने की खबर है जबकि 15 जवान घायल हुए हैं. आपको बता दें कि ये जवान ऑपरेशन से लौट रहे थे जिसके बाद नक्सलियों ने घात लगाकर जवानों के इस काफिले पर हमला किया. किसी को भी इस हमले की कोई भनक नहीं थी. जवानों पर हुए इस नक्सली हमले के बाद से छत्तीसगढ़ के नारायण पुर में अफरा-तफरी का माहौल है. देश की आंतरिक सुरक्षा के लिहाज से यह खबर चिंता करने वाली है.

नारायणपुर से एक बड़ी नक्सली हमले की खबर है. जवानों से भरी बस को नक्सलियों ने उड़ा दिया है. इस घटना में 3 जवान शहीद हो गये हैं, जबकि आधा दर्जन जवान गंभीर रूप से जख्मी हो गये हैं. जानकारी के मुताबिक सभी जवान DRG के बताये जा रहे हैं. हालांकि पुलिस अभी इस मामले में कुछ नहीं बोल रही है. बस में ये ब्लास्ट धौड़ाई और पल्लेनार के बीच ये ब्लास्ट हुआ है. जहां ये ब्लास्ट हुआ है, वो घना जंगल है. खबर ये आयी है कि ब्लास्ट के वक्त बस में 24 जवान सवार थे. पुलिस के शीर्ष अधिकारियों के मुताबिक अभी तक 3 जवान के शहीद होने की खबर आयी है, लेकिन जवानों की शहादत की संख्या और भी बढ़ सकती है. सभी जवान आपरेशन से लौट रहे थे.

आपको बता दें कि इस साल की शुरुआत में ही छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के लगभग 100 नक्सली अपने आधार का विस्तार करने के लिए पिछले कुछ महीनों में मध्य प्रदेश में घुस आए थे. इन नक्सलियों से निपटने के लिए राज्य सरकार ने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में अर्धसैनिक बलों की छह कंपनियों की तैनाती की मांग भी की थी. मध्य प्रदेश के एक पुलिस अधिकारी ने जनवरी के महीने में इस बात की जानकारी दी थी.

अधिकारी ने कहा कि इन सुरक्षा बलों को जल्द ही मध्यप्रदेश के बालाघाट और आदिवासी बहुल मंडला जिलों में तैनात किए जाने की संभावना है, जहां ये नक्सली घुसे हैं. अधिकारी ने बताया था, हमारे सूत्रों द्वारा हमें दी गई जानकारी के अनुसार छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के करीब 100 नक्सली पिछले कुछ महीनों में मध्यप्रदेश में घुस आये हैं, ताकि इस क्षेत्र में वे अपना आधार बढ़ा सकें. उन्होंने बताया कि ये नक्सली बालाघाट जिले में महाराष्ट्र एवं छत्तीसगढ़ की सीमाओं से घुसे हैं.

बालाघाट एवं मंडला जिले एक दूसरे से सटे हुए हैं और इनकी लंबी सीमा है. बालाघाट और मंडला जिले में नक्सलियों के छह समूह सक्रिय हैं. इनमें से मंडला में खटिया मोचा दलम पिछले साल आया था. इस खतरे को देखते हुए नक्सलियों से लोहा लेने के लिए विशेष तौर पर प्रशिक्षित मध्यप्रदेश पुलिस की हॉक फोर्स पहले से ही बालाघाट में तैनात है. इसके अलावा, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की एक बटालियन भी वहां तैनात है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 23 Mar 2021, 05:17:53 PM

For all the Latest States News, Chhattisgarh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.